बिना कोहरे के ही एक महीने में 20 बार लेट हुई मरुधर एक्सप्रेस, यात्रियों की छूट रही कनेक्टिंग ट्रेन

Jalore News - ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | जयपुर देश के प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र से प्रदेश के मुख्यमंत्री के विधानसभा...

Nov 11, 2019, 06:51 AM IST
ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | जयपुर

देश के प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र से प्रदेश के मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र को सीधे जोडने वाली मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन से यात्रा करना लोगों के लिए परेशानी बन गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह ट्रेन अभी कोहरा शुरु होने से पहले ही घंटों की देरी से संचालित हो रही है। ट्रेन को प्रारंभिक स्टेशन से तो समय पर संचालित किया जाता है। लेकिन इसके बाद इसे बीच रास्ते में जगह-जगह आउटर पर रोक दिया जाता है। जब इस संबंध में रेलवे के अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने इसे तकनीकी कारणों के चलते लेट होना बताया गया। जबकि इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों का कहना है कि ट्रेन को हर 40 किलोमीटर के बाद बीच रास्ते में आउटर पर खडा कर अन्य ट्रेनों को निकाला जाता है। जिसके चलते ट्रेन अनावश्यक देरी से पहुंचती है।

वाराणसी से लखनऊ के बीच में लग रहे हैं 12 घंटे... मरुधर एक्सप्रेस ट्रेन के संचालन में देरी का आलम ये है कि ट्रेन को वाराणसी से लखनऊ के बीच की दूरी को तय करने में ही 12 घंटे का समय लग रहा है। जबकि सामान्यत 300 किलोमीटर की इस दूरी को तय करने में मेल/एक्सप्रेस ट्रेन 6 घंटे लेती हैं। लेकिन बिना किसी ब्लॉक और कोहरा होने के बाद भी ट्रेन इस दूरी को 10 से 12 घंटे में तय कर रही है।

एक महीने में 20 बार हुई घंटों लेट : मरुधर एक्सप्रेस अक्टूबर माह में 20 दिन घंटों की देरी से जयपुर पहुंची है। ट्रेन रोजाना लगभग 7-8 घंटे की देरी से जयपुर पहुंच रही है। जिसके चलते वाराणसी, लखनऊ आदि शहरों से मेहंदीपुर बालाजी, सालासर बालाजी के दर्शन के लिए आने वाले यात्रियों को वापसी में लौटने के लिए परेशानी का सामना करना पड रहा है। वहीं जिन लोगों की जयपुर से आगे जाने के लिए कनेक्टिंग ट्रेन होती है, उन्हें भी ट्रेन छूटने पर परेशान होना पडता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना