Hindi News »Rajasthan »Jayal» विधानसभा चुनाव का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। हर सप्ताह पढ़ें आमने-सामने। सत्तापक्ष और विपक्ष के दिग्गज नेता करेंगे सवाल-जवाब

विधानसभा चुनाव का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। हर सप्ताह पढ़ें आमने-सामने। सत्तापक्ष और विपक्ष के दिग्गज नेता करेंगे सवाल-जवाब

मंजू मेघवाल: भाजपा विधायक के इशारे पर तबादला उद्योग कौन चला रहा है, ईमानदार अफसरों को एपीओ क्यों करवाया? मंजू...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 04:55 AM IST

विधानसभा चुनाव का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। हर सप्ताह पढ़ें आमने-सामने। सत्तापक्ष और विपक्ष के दिग्गज नेता करेंगे सवाल-जवाब
मंजू मेघवाल: भाजपा विधायक के इशारे पर तबादला उद्योग कौन चला रहा है, ईमानदार अफसरों को एपीओ क्यों करवाया?

मंजू बाघमार:तबादले क्या कांग्रेस राज में नहीं होते थे, वे भी पूर्व मंत्री रही हैं, उनके राज में यहां कितने तबादले क्यों हुए पहले वे तो बता दें। रही बात कामकाज की तो जो अधिकारी जनता के काम करते हैं वे ही जनता के बीच चलते हैं। कांग्रेस राज में मातासुख प्रोजेक्ट भ्रष्टाचार का अड्‌डा बन गया था। भाजपा राज में यह भ्रष्टाचार बंद हुआ। इसलिए ये कांग्रेसी हम पर झूठे आरोप लगाते हैं। मेरे जायल की जनता ईमानदार अधिकारियों की नियुक्ति चाहती है। मेरा उद्देश्य सिर्फ जायल का विकास कराना है। आज यहां कॉलेज आया, सड़कें बन गई। आने वाले समय में बड़े उद्योग यहां लगेंगे। भाजपा ने ऐसी योजनाएं बनाई है।

मंजू मेघवाल : विधायक, बस स्टैंड, नगरपालिका व रीको की बातें कर रही हैं वे बताएं यह बनेंगी कब?

मंजू बाघमार: जायल में सर्किट हाउस की मंजूरी दिलाई गई है।इसके लिए 81 लाख रुपये की स्वीकृति जारी की है। सर्किट हाउस जन समस्या निस्तारण के लिए उपयोगी साबित होगा। रही बात कॉलेज व नगर पालिका की तो इसके लिए भाजपा राज में ही योजनाएं बन रही हैं। यह कांग्रेस के लोग सिर्फ बातें ही करते रहते हैं। काम भाजपा राज में हो रहे हैं।

मंजू मेघवाल : विकास तो हमने कराया है, कांग्रेस राज में काम हुए, यह भाजपा वाले हमारे राज में किए काम के फीते काट रहे हैं, खुद की उपलब्धि बताएं ?

मंजू बाघमार: कांग्रेस राज में कौनसा बड़ा काम हो गया। इन्होंने नहरी पानी लाने के लिए झूठे वादे किए। पत्थर लगाने से भला कोई नहरी पानी आ जाता है क्या। आज देखो जोधियासी तक पानी पहुंच गया, पूरा जायल अब मीठा पानी पीएगा।

मंजू मेघवाल: नहरी पानी के लिए जापान से पैसा कांग्रेस ही लेकर आई, भाजपा झूठा श्रेय ले रही है, विधायक ने क्या प्रयास किया?

मंजू बाघमार: मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में 2008 में ही नागौर जिले में नहरी पानी आ गया था। हमने चुनाव में वादा किया था दोबारा 2013 में, फिर हम ही नहरी पानी लेकर आ रहे हैं।

मंजू मेघवाल: जनता फोन करती है, विधायक फोन क्यों नहीं उठाती हैंै?

मंजू बाघमार: पूर्व मंत्री देखें, मैं हमेशा क्षेत्र में जनता के बीच रहती हूं। आप भी फोन करके देख लें, मैं उठाऊंगी।

विधायक मंजू बाघमार

कांग्रेस राज में काम होते तो जायल की जनता उन्हें दूर नहीं करती, जनता का विश्वास भाजपा में हैं। हम 24 घंटे काम करते हैं। मंजू बाघमार, विधायक जायल

पूर्व मंत्री मंजू मेघवाल

ईमानदार अधिकारियों को एपीओ कराते हैं, भाजपा राज में भ्रष्टाचार का बोलबाला है। जनता तंग आ चुकी है। मंजू मेघवाल, पूर्व मंत्री

मंजू बाघमार|कांग्रेसने एक पत्थर लगाया, क्या उससे नहरी पानी आया

मेघवाल का जवाब: झूठी वाहवाही क्यों लेते हो विधायक नहीं जानती क्या, जापान से पैसा हम लाए

विधायक बाघमार: कांग्रेस ने पत्थर लगाए, नहरी पानी लाने के सब्जबाग दिखाए, धरातल पर काम क्यों नहीं किया?

पूर्व मंत्री मेघवाल: मीठे पानी की परियोजना हमारी सरकार की ही देन है। कांग्रेस सरकार बनते ही इंदिरा नहर का प्रोजेक्ट तैयार किया गया। जापान की संस्था जायका से अनुबंध करके वित्तीय स्वीकृति प्राप्त कर कार्य का शुभारंभ हमने ही किया था। विधायक नहीं जानती क्या यह सब। मीठे पानी की वाहवाही लेने वाले पहले प्रथम फेज में मेड़ता, खींवसर में तो नहरी पानी पहुंचा देते। विधायक अपने कार्यकाल में स्वीकृत जीएसएस, वंचित ढाणियों को बिजली से जोड़ने के काम खुद गिनाती हैं। यह काम तो कांग्रेस ने करवाएं हैं। उन्होंने तो कांग्रेस से आधे काम भी नहीं कराए। किसानों की झूठी वीसीआर भरी जा रही है। पूरा राज्य परेशान है।

विधायक बाघमार: मातासुख प्रोजेक्ट के नाम पर जायल में भ्रष्टाचार का अड्डा किसने खोला था, पूर्व मंत्री जवाब दें?

पूर्व मंत्री मेघवाल: मातासुख प्रोजेक्ट भाजपा सरकार की ही देन है, हमने तो जनता की पेयजल समस्या को दूर करने के प्रयास किए। इस प्रोजेक्ट को लाने वाले भाजपा के ही लोग थे। तत्कालीन भाजपा सरकार ने कुछ क्षेत्रीय लोगों को फायदा पहुंचाने के उद्देश्य से इस प्राेजेक्ट में करोड़ों रुपए बर्बाद किए।

विधायक बाघमार: वोट बटोरने के नाम पर कांग्रेस ने जायल में कॉलेज की हवाई घोषणा की, बजट क्यों नहीं लाए थे?

पूर्व मंत्री मेघवाल: हमारे व्यक्तिगत प्रयासों से जायल क्षेत्र को उच्च शिक्षा से जोड़ा गया। कॉलेज की घोषणा के मात्र तीन महीनों में कॉलेज स्टॉफ लगाकर नियमित कक्षाएं चालू करवा दी थी। अगर हमारी सरकार पुन: आती तो पूरा कॉलेज स्टाफ व भवन के साथ आज तक पीजी कॉलेज होता। हमारे कार्यकाल में जायल की सभी सड़कों को डबल लेन किया गया।

विधायक बाघमार : पूर्व मंत्री बताएं जायल में कांग्रेस राज में औद्योगिक विकास क्यों रोका गया?

पूर्व मंत्री मेघवाल: हमारे कार्यकाल से पहले जायल क्षेत्र मूलभूत विकास से ही वंचित था। हमने शिक्षा, स्वास्थ्य आदि पर फोकस रखा। औद्योगिक विकास के लिए जो योजनाएं कांग्रेस राज में बनी वह आज जायल के काम आ रही है। आपने ऐसा चार साल में क्या किया, जनता बहुत परेशान हैं। भाजपा सिर्फ थोथी बातें करती हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jayal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×