• Home
  • Rajasthan News
  • Jhalawar News
  • सामाजिक चेतना और आंचलिक विकास में युवा निभाएं सशक्त भागीदारी: एडीएम
--Advertisement--

सामाजिक चेतना और आंचलिक विकास में युवा निभाएं सशक्त भागीदारी: एडीएम

नेहरू युवा केन्द्र के तत्वावधान में जिला युवा सम्मेलन गढ़ परिसर स्थित सभागार में हुआ। जिले से युवाओं ने हिस्सा...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:10 AM IST
नेहरू युवा केन्द्र के तत्वावधान में जिला युवा सम्मेलन गढ़ परिसर स्थित सभागार में हुआ। जिले से युवाओं ने हिस्सा लिया और सामाजिक नवनिर्माण तथा आम जन के उत्थान के लिए ग्राम्यांचलों में व्यापक लोक जागरण के साथ ही केन्द्र एवं राज्य सरकार की जन कल्याण योजनाओं के प्रचार-प्रसार में समर्पित भागीदारी का संकल्प ग्रहण किया।

समारोह में अतिथि एडीएम भवानीसिंह पालावत ने कहा विकास की बहुआयामी गतिविधियों का लाभ जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्राण प्रण से जुटने और सुनहरे विकास का बेहतर परिदृश्य सामने लाने के लिए युवाओं से आह्वान किया। पालावत ने इस अवसर पर क्षेत्रीय विकास और आम जन की भलाई की योजनाओं व कार्यक्रमों तथा अभियानों के बारे में जरूरतमंदों में जागरूकता का संचार करने, पात्र लोगों को इनसे लाभान्वित करने के लिए खुद जानकारी पाने तथा अपने क्षेत्र के लोगों को लाभान्वित करने में आगे आने का आह्वान किया।

झालावाड़. समारोह को संबोधित करते एडीएम।

युवाओं से लिया फीडबैक

सहायक निदेशक सामाजिक न्याय व अधिकारिता गौरीशंकर मीना ने युवाओं से सरकारी योजनाओं के बारे में प्रश्नोत्तर किए और उनकी जिज्ञासाएं शांत करने के साथ ही युवाओं से उनके क्षेत्र की समस्याओं के बारे में भी जानकारी ली और कहा कि समस्याओं के समाधान के लिए जिला प्रशासन की ओर से हरसंभव कार्यवाही की जाएगी। सामाजिक कार्यकर्ता गीता राजपाल ने युवाओं के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी दी और इनसे लाभ लेकर आत्मनिर्भरता पाने का आह्वान किया। कार्यक्रम का संचालन नरेश निगम ने किया जबकि आभार प्रदर्शन हरिबल्लभ रेगर ने किया।सम्मेलन में जिले के विभिन्न गांवों के युवा मंडल पदाधिकारियों व सदस्यों के साथ राष्ट्रीय युवा कोर स्वयंसेवक रवि वर्मा,मिथुन जाटव, संगीता सेन, प्रहलाद सिंह, रामकल्याण लोधा, दुर्गेश डांगी, बालमुकुंद योगी आदि ने भाग लिया। सम्मेलन में जिले से आए युवा संभागियों को सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय झालावाड़ की ओर से सरकारी योजनाओं से संबंधित प्रचार साहित्य एवं सुजस पत्रिका का वितरण किया गया।