Hindi News »Rajasthan »Jhalawar» दाे साल से मार्च में पारा 420 तक पहले 5 सालाें में 40 से कम ही रहा

दाे साल से मार्च में पारा 420 तक पहले 5 सालाें में 40 से कम ही रहा

इस बार मार्च माह में ही गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। दाे सालाें से तापमान 42 डिग्री पहुंच रहा है। इससे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:40 AM IST

दाे साल से मार्च में पारा 420 तक पहले 5 सालाें में 40 से कम ही रहा
इस बार मार्च माह में ही गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। दाे सालाें से तापमान 42 डिग्री पहुंच रहा है। इससे पहले पांच सालाें में कभी तापमान 40 के पार नहीं हुअा। 2012 में अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री था। इसके बाद 2016 तक अधिकतम तापमान 37 डिग्री ही रहा।

दिन के तापमान में लगातार बढ़ाेतरी हाे रही है, लेकिन रात का तापमान पिछले साल की अपेक्षा 4 डिग्री कम है। पिछले साल इसी दिन अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस था। इस बार भी अधिकतम तापमान ताे 42 है, लेकिन न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। दाे सालाें से मार्च में मई-जून जैसी भीषण गर्मी ने लोगों के हाल9बेहाल कर दिए। शनिवार को दिनभर चली गर्म हवा और तेज धूप से शहरवासी परेशान रहे। दिन में तो घरों से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया।

कारण: प्रदूषण बढ़ने से तापमान में लगातार हो रहा इजाफा

पीजी कॉलेज के भूगोल विभागाध्यक्ष डॉ. अमीद खान ने बताया कि तापमान में लगातार बढ़ोतरी का प्रमुख कारण प्रदूषण का बढ़ना है। वाहनों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसके अलावा पेड़-पौधे की कटाई लगातार जारी है। ऐसे में कार्बन डाईऑक्साइड की मात्रा बढ़ती जा रही है, जिसका सीधा असर मौसम पर हो रहा है। इसी के कारण तापमान में बढ़ोतरी हो रही है।

असर: दोपहर में आग उगल रही सड़कें, सूने हुए बाजार

शनिवार को दिन का पारा 42 डिग्री पर पहुंचने से सड़कें आग उगलने लगी। सड़कों पर दोपहर को यातायात कम हो गया। आवश्यक काम से दोपहर को घर से निकलने वाले लोगों को गर्मी ने खासा परेशान किया। खासतौर पर दुपहिया वाहन चालकों के लिए गर्मी बैरन बन गई। सुरक्षा के लिए मुंह को स्कार्फ से ढकना पड़ा।

मार्च में मई-जून जैसी गर्मी

मार्च में ही पारा 42 डिग्री पर है तो मई-जून में क्या होगा। क्योंकि मई-जून में पारा 47 डिग्री तक पहुंच जाता है। इस बार पारा और बढ़ सकता है। मौसम वैज्ञानिकों ने भी इस बार गर्मी अधिक बताई है।

पिछले 6 सालों में तापमान

साल अधिकतम न्यूनतम

2012 39 23.6

2013 37 21

2014 37.3 21.2

2015 33 20

2016 35 20

2017 42 24

2018 42 20

मार्च में ऐसे बढ़ा तापमान

साल अधिकतम न्यूनतम

31 मार्च 42 20

30 मार्च 42 20

29 मार्च 39 18

28 मार्च 40 21

27 मार्च 40 20

26 मार्च 39 19

पिछले 6 सालों में तापमान

साल अधिकतम न्यूनतम

2012 39 23.6

2013 37 21

2014 37.3 21.2

2015 33 20

2016 35 20

2017 42 24

2018 42 20

मार्च में ऐसे बढ़ा तापमान

साल अधिकतम न्यूनतम

31 मार्च 42 20

30 मार्च 42 20

29 मार्च 39 18

28 मार्च 40 21

27 मार्च 40 20

26 मार्च 39 19

Get the latest IPL 2018 News, check IPL 2018 Schedule, IPL Live Score & IPL Points Table. Like us on Facebook or follow us on Twitter for more IPL updates.
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jhalawar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दाे साल से मार्च में पारा 420 तक पहले 5 सालाें में 40 से कम ही रहा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jhalawar

    Trending

    Live Hindi News

    0
    ×