Hindi News »Rajasthan »Jhalawar» रटलाई में जलसंकट का दौर शुरू, लोग परेशान

रटलाई में जलसंकट का दौर शुरू, लोग परेशान

रटलाई. कस्बे में कई सालों से जलापूर्ति का जिम्मा ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति कर रही है, लेकिन इस वर्ष मार्च की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 04:05 AM IST

रटलाई में जलसंकट का दौर शुरू, लोग परेशान
रटलाई. कस्बे में कई सालों से जलापूर्ति का जिम्मा ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति कर रही है, लेकिन इस वर्ष मार्च की शुरुआत के साथ ही जलसंकट शुरू हो गया है।

इससे लोगों को एक दिन छोड़कर आधे घंटे पानी मिल रहा है। समिति को छापी पेयजल योजना से भी पर्याप्त पानी उपलब्ध नहीं हो पाने से जलसंकट की स्थिति बनने लगी है। लोगों का कहना है कि प्रशासन ने समय रहते पानी की समस्या को गंभीरता से नहीं लिया तो गर्मी में समस्या ओर बढेग़ी। कस्बे में हैंडपंपों की स्थिति भी बहुत अधिक खराब है। समिति का कहना है कि समिति के पारम्परिक स्रोतों में पानी खत्म हो गया है। शनिवार को भी छापी से पानी कम मिलने के कारण टंकियां नहीं भर पाने से कस्बे के कई मोहल्लों में आपूर्ति बाधित रही।

कई वर्षों से ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति कर रही है सप्लाई

रटलाई. हैंडपंप का अब सिर्फ ठूठ ही बचा है।

बकानी को छापी पेयजल योजना से जोड़ने के बाद बढ़ी परेशानी

8-10 सालों से रटलाई तथा आसपास के गांवों में पानी की समस्या नहीं आती थी, लेकिन गत वर्ष बकानी कस्बे को भी छापी पेयजल योजना से जोड़कर पानी की सप्लाई चालू कर देने से रटलाई तथा आसपास के कई गांवों में पानी की समस्या पैदा हो गई है।पूर्व विधायक अनिल जैन के जन संवाद कार्यक्रम में पहुंचकर शिकायत की थी।

समिति नए नलकूप व टयूबवेल लगाने के लिए ग्राम पंचायत के माध्यम से जिला कलेक्टर को पत्र भेजकर स्वीकृति मांगी है। स्वीकृति मिलने पर नए स्त्रोत तैयार कर आगामी दिनों में पानी की आपूर्ति सुचारू रखने के प्रयास किए जा रहे है। छगनसिंह गुर्जर, अध्यक्ष, ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति रटलाई

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jhalawar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: रटलाई में जलसंकट का दौर शुरू, लोग परेशान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jhalawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×