कचरा संग्रहण के लिए 25 लाख के इलेक्ट्रिक वाहन खरीदे, फिर भी कचरे के ढेर

Jhalawar News - कस्बे में घर-घर कचरा संग्रहण के लिए 25 लाख रुपए खर्च कर इलेक्ट्रिक वाहन मंगवाए, लेकिन इनका उपयोग नहीं होने से लोग...

Dec 04, 2019, 08:26 AM IST
कस्बे में घर-घर कचरा संग्रहण के लिए 25 लाख रुपए खर्च कर इलेक्ट्रिक वाहन मंगवाए, लेकिन इनका उपयोग नहीं होने से लोग सड़कों पर कचरा फेंकने को मजबूर है। सड़कों पर कचरे के ढेर के चलते शहर की सफाई व्यवस्था खस्ताहाल है।

नगरपालिका की ओर से घर-घर गीला-सूखा कचरा संग्रहण करने के लिए 25 लाख रुपए की लागत से 10 बैटरी चलित वाहन मंगवाए थे, लेकिन इनका उपयोग अभी तक शुरू नहीं किया है। हालाकि विभाग ने तीन-चार दिन में कचरा संग्रहण के लिए इनका उपयोग करने का दावा किया है। शहर की पिछले कई दिनों से सफाई व्यवस्था बिगड़ी हुई है। इसके कारण नगर के वार्डवासियों कों परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।भवानीमंडी पिछले साल स्वच्छता मिशन में रैंकिंग प्राप्त कर चुकी है, लेकिन इस बार नगरपालिका का इस पर ध्यान नहीं है। इन दिनों सफाई व्यवस्था चौपट हो रही है। शहर में रामनगर पुलिया के पास बाईपास संपर्क सड़क से लेकर पचपहाड़ के वार्ड नंबर 9 सय्यद मोहल्ले तक सफाई नहीं होने से नगरवासी परेशान है। बाईपास रोड रामनगर पुलिया पर खुद नगरपालिका ने कचरा शहर से बाहर फेंकने का बोर्ड अंकित कर रखा है, इसमें (पचपहाड़ बांध के उपर धोबीखेड़ा रोड पर) कचरा फेंकने के निर्देश दे रखे हैं, लेकिन पालिका की ओर से उसी स्थान पर रोजाना कचरा फेंककर ढेर किया जा रहा है। एक और जहां नगर के भामाशाहों और व्यापार संघ की ओर से प्लास्टिक मुक्त शहर बनाने के लिए नई-नई योजना बनाकर शहर को स्वच्छ बनाने की कोशिश की जा रही है तथा जानवरों को प्लास्टिक को खाने से बचाया जा रहा है। नगरपालिका सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं देकर इनकी मेहनत पर पानी फेरती नजर आ रही है।


भवानीमंडी. शहर में रामनगर पुलिया, बाईपास रोड पर हाे रहा कचरे का ढेर।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना