• Hindi News
  • Rajya
  • Rajasthan
  • Jhalawar
  • Eklera News rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers

करोड़ों खर्च के बावजूद सेवा केंद्रों पर लटके ताले स्टाफ के अभाव में किसानों को नहीं मिल रहा लाभ

Jhalawar News - जिले में किसानों को एक ही छत के नीचे विभिन्न सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए किसान सेवा केंद्र, सह विलेज नॉलेज सेंटर...

Bhaskar News Network

Oct 22, 2019, 08:31 AM IST
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
जिले में किसानों को एक ही छत के नीचे विभिन्न सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए किसान सेवा केंद्र, सह विलेज नॉलेज सेंटर खोले गए। लेकिन हालात यह हैं कि इनके ताले भी नहीं खुल पाए हैं। किसानों को अपनी समस्याओं से लेकर जरूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए भटकना पड़ रहा है।

कहीं छह साल से तो कहीं एक साल पहले निर्माण हो जाने के बाद भी इन किसान सेवा केंद्रों पर ताले लटके हुए हैं। इन सेंटरों पर कृषि अधिकारी, ग्राम सेवक, पटवारी, कानूनगो को बैठकर किसानों को जानकारी देने के साथ ही समस्याओं का निराकरण भी करना था, लेकिन अधिकारी इन भवनों के ताले तक नहीं खुल पाए। 9-9 लाख रुपए की लागत से इन भवनों का निर्माण हुआ था। किसानों का कहना है कि किसानों की रबी, खरीफ की फसलें चौपट हो रही हैं। दूसरी तरफ किसान सेवा केंद्र नहीं खुल पाने से न तो उन्नत खेती की जानकारी मिल रही है और न ही गिरदावरी संबंधित कार्य हो रहे हैं। पटवारियों से काम होने पर कई चक्कर लगाने पड़ते हैं।

सरड़ा. किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए बनाए गए किसान सेवा केंद्र यहां खाली पड़ा हुआ है। ग्राम पंचायत सरड़ा सरपंच शिवदयाल पारेता व सचिव राकेश मीणा ने बताया कि कृषि सेवा केंद्र पर कृषि पर्यवेक्षक और कोई संदर्भ अधिकारी नहीं बैठता है। मृदा स्वास्थ्य कार्ड, कृषि के लिए रियायती आदान और कीट, बीमारियों के विश्लेषण के प्रावधान की सुविधाएं यहां दी जाती है, लेकिन पांच सालों से यहां कोई सुविधा नहीं मिल रही है।

सरड़ा. देखरेख के अभाव में जर्जर हाे रहा किसान सेवा केंद्र का भवन।

सुनेल में 1 साल पहले बना किसान सेवा केंद्र, बाउंड्री नहीं होने से हैंडअोवर नहीं हुआ

सुनेल. कृषि सेवा केंद्र का निर्माण 10 लाख 50 हजार रुपए की लागत से एक साल पहले हो चुका है, लेकिन बाउंड्री नहीं बनने से यह भवन अभी तक ग्राम पंचायत की ओर से कृषि विभाग को हेंडऑवर नहीं हो पाए हैं। विकास अधिकारी सुरेश कुमार जैन का कहना है कि कृषि सेवा केंद्र का निर्माण पूरा हो चुका है, लेकिन अभी तक परिसर की बाउंड्री नहीं बनी है। उच्चाधिकारियों को प्रस्ताव दे रखा है, लेकिन बजट के अभाव में बाउंड्री नहीं बन पाई है।

भालता. सांसद आदर्श ग्राम भालता में बने किसान सेवा केंद्र और भू-अभिलेख सूचना केंद्र के नाम पर दो भवन बनाए गए, लेकिन इन दोनों को अभी तक हेंडअवर नहीं किया गया। अभी तक इन दोनों भवनों के उद्घाटन तक नहीं हुए हैं। पटवारी, कृषि ग्राम सेवक और कृषि पर्यवेक्षक यहां बैठ नहीं पाए हैं और न ही किसानों की समस्याओं का हल हो पा रहा है।

अकलेरा. ग्राम पंचायतों में कृषि अधिकारी के रिक्त पद होने से किसान भू-अभिलेख सेवा केंद्र का उपयोग नहीं हो रहा है। ल्हास में 6 वर्ष पहले बने किसान सेवा केंद्र कृषि विभाग को हेंडओवर नहीं होने से दुरूपयोग किया जा रहा है। तहसीलदार ने कहा कि फिलहाल पटवारी तो राजीव गांधी सेवा केंद्र पर बैठते हैं। कृषि अधिकारियों के पद खाली होने से इनमें कोई नहीं बैठता है।

सुनेल. किसान सेवा केंद्र के अंदर हाे रही गंदगी।

रटलाई. सरकार द्वारा किसानों की कृषि उपज बढ़ाने और उन्नत खेती की जानकारियां उपलब्ध कराने के लिए पंचायत समिति बकानी क्षेत्र की 14 ग्राम पंचायतों में किसान सेवा केंद्र और नॉलेज सेंटर बनाए गए। जहां पहुंचकर प्रत्येक गुरुवार को किसान कृषि पर्यवेक्षक से खेती संबंधी समस्या का समाधान एवं कृषि विभाग की योजनाओं की जानकारी ले सकते हैं, लेकिन 14 में से 8 किसान सेवा केंद्र एवं नॉलेज सेंटर पर कृषि पर्यवेक्षक के पद रिक्त होने से किसानों को समय पर कृषि जानकारियां उपलब्ध नहीं हो पाती है। ज्ञातव्य है कि ग्राम पंचायत बकानी, रटलाई, रींंछवा, रिझोन, गुराड़खेड़ा, बड़बड़ सलावद, नानोर, कुशलपुरा, बढ़ाय, गरबाडा, मोड़ी, झिंकड़िया, पाटलियाकुल्मी किसान सेवा केंद्र एवं नॉलेज सेंटर खोले हैं। जहां पहुंचकर किसान खेती संबंधी समस्याओं का हल करवा सकते हैं। गांव में बने किसान सेवा केंद्र प्रत्येक गुरुवार को खुलते हैं जहां 10 से 5 बजे तक पहुंचकर किसान अपनी खेती संबंधी समस्या का समाधान वैज्ञानिक तरीके से करवा सकते हैं, लेकिन अभी तक गुराड़खेड़ा, मोड़ी, नानोर, रिझोन, झिंकड़िया,कुशलपुरा और गरबाडा में कृषि पर्यवेक्षक की नियुक्ति ही नहीं कि जाने से ताले भी नहीं खुल पा रहे हैं। पाटलियाकुल्मी और झिंकड़िया में अभी तक भवन नहीं बन पाया है। कृषि विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों के साथ किसानों को भी परेशानी होती है।

मनोहरथाना. किसान सेवा केंद्र पर सहायक कृषि अधिकारी के तीन पर चार सालों से रिक्त हैं। वहीं पंचायत समिति की 26 ग्राम पंचायतों में कृषि पर्यवेक्षकों के 16 पद स्वीकृत हैं, इनमें से 11 पद लंबे समय से रिक्त चल रहे हैं। कृषि विभाग का संपूर्ण कार्य केवल पांच पर्यवेक्षक के भरोसे चल रहा है। कार्यवाहक सहायक कृषि अधिकारी सुरेश कुमार और धनरूपमल ने बताया सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर किसान सेवा केंद्र बनाए गए, लेकिन कर्मचारी नहीं होने से तहसील स्तर के समस्त किसान सेवा केंद्र बंद पड़े हैं।


अकलेरा. ल्हास पंचायत में किसान सेवा केंद्र बिना उपयोग के जर्जर हुआ।

भालता. नवनिर्मित किसान सेवा केंद्र, जाे खस्ताहाल है।

सप्ताह में 1 दिन ही खुलता है किसान सेवा केंद्र

रीछवा. ग्राम पंचायत में सह विलेज नॉलेज सेंटर केवल एक सप्ताह में एक बार ही खुलता है। बाकी दिनों में यह बंद रहता है। फिलहाल यहां एक सहायक कृषि अधिकारी को लगा रखा है। लोगों का कहना है कि एक दिन खुलने से समस्याओं का समाधान नहीं हो पाता है। सहायक अधिकारी प्रतिदिन फिल्ड में जाने की बात कहकर निकल जाते हैं। सरपंच रामनारायण गुर्जर ने बताया कि पिछले कार्यकाल में ही इसका निर्माण किया गया है। सहायक कृषि अधिकारी ओमप्रकाश गौड़ ने बताया कि सह विलेज नॉलेज केंद्र पर हर गुरुवार को किसानों की समस्याएं सुनते हैं और उसका समाधान किया जाता है।

पनवाड़. प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर दस-दस लाख रुपए की लागत से किसान भवनों का निर्माण करवाया गया, लेकिन इन किसान भवनों का उपयोग नहीं हो पा रहा है। कई भवन बिना उपयोग के ही क्षतिग्रस्त हो गए हैं। क्षेत्र में दहीखेड़ा, जरगा, भगवानपुरा, बिशनखेडी, सरखंडिया, आकोदिया, लायफल सहित स्थानों पर किसान भवन कोई काम नहीं आ रहे हैं।

Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
X
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
Eklera News - rajasthan news despite crores of expenses farmers are not getting the benefit due to the lack of hanging staff at the service centers
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना