सुपोषित माता ही स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकती है : मनीषा तिवारी

Jhalawar News - महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना में आयोजित मातृ वन्दना सप्ताह के समापन पर सोमवार...

Dec 10, 2019, 06:51 AM IST
महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना में आयोजित मातृ वन्दना सप्ताह के समापन पर सोमवार को जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन मिनी सचिवालय स्थित ऑडिटोरियम में किया गया।

उपनिदेशक मनीषा तिवारी ने बताया की 2 से 8 दिसम्बर तक ‘स्वस्थ राष्ट्र के निर्माण की ओर सुरक्षित जननी, विकसित धरिणी’ की थीम पर मातृ वन्दना सप्ताह अन्तर्गत पूरे जिले में विभिन्न गतिविधियां आयोजित की गईं। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम का उद्देश्य 1 जनवरी 2017 से या उसके पश्चात प्रथम जीवित बच्चे संबंधित समस्त सभी गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं को तीन अलग-अलग किस्तों में 5000 रुपए का वित्तीय लाभ प्रदान करना है। योजना का उद्देश्य गर्भावस्था के दौरान महिला को पोषक तत्वों से पूर्ण भोजन देकर स्वस्थ बच्चे को जन्म दिलाना है।

उन्होंने बताया की आंगनवाड़ी केन्द्रों पर सेल्फी कैंपेन एवं मां बच्चे के फोटो खींचने, ग्रामसभा व स्थानीय निकायों की बैठक में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के क्रियान्वयन और उद्देश्यों पर चर्चा, आंगनबाड़ी केन्द्रों व जिला स्तर पर प्रभात फेरी एवं पंपलेट वितरण, गृह-भ्रमण, लाभार्थी चिह्निकरण, पोषाहार एवं पौष्टिक व्यंजन बनाने का प्रशिक्षण एवं घर-घर जाकर प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना व स्वास्थ्य पोषण और स्वच्छता की जानकारी प्रदान की गई। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना अन्तर्गत जिले में 28 हजार 183 लाभार्थियों को 10 करोड़ 63 लाख 32 हजार रुपए का सीधा भुगतान पात्र महिलाओं के बैंक खातों में किया जा चुका है। कार्यक्रम में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी ओमप्रकाश शर्मा ने कहा कि मातृ वन्दना योजना से न सिर्फ आर्थिक रूप से कमजोर माताओं को वित्तीय सहायता मिलेगी बल्कि इससे लिंगानुपात में भी वृद्धि होगी। उन्होंने सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे गांवों में घर-घर इस योजना का प्रचार-प्रसार कर पात्र महिलाओं को लाभान्वित करवाएं। सहायक निदेशक समग्र शिक्षा अभियान सुभाष सोनी एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी, बकानी दिलीप गुप्ता ने भी मातृ वन्दना योजना की महत्ता एवं उसके प्रचार-प्रसार पर बल दिया। स्वस्थ्य भारत प्रेरक रिद्धम माथुर द्वारा जानकारी दी गई। महिला अधिकारिता विभाग से महिला कल्याण अधिकारी पिंकी गौतम द्वारा बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ पर सभी को शपथ दिलवाई गई। उत्कृष्ट कार्य करने वाले सीडीपीओ निर्मला चतुर्वेदी, महिला पर्यवेक्षक, कार्यकर्ता, सहायिका, डाटा इंट्री ऑपरेटर एवं योजना की डीपीओ रेखा जोशी को अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। संचालन आशीष सिन्हा ने किया गया।

झालावाड़. प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना की कार्यशाला में मौजूद महिलाएं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना