• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jhalawar
  • Jhalrapatan News rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma

हर कर्म परमात्मा को समर्पित कर देने के बाद हमारा कर्म भी धर्म बन जाएगा: पं. सज्जन शर्मा

Jhalawar News - शहर में राजलक्ष्मी नगर में राजराजेश्वर महादेव मन्दिर पर शुक्रवार काे श्रीमद्भागवत कथा के शुभारंभ हुअा। जिसमें...

Feb 15, 2020, 09:11 AM IST
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma

शहर में राजलक्ष्मी नगर में राजराजेश्वर महादेव मन्दिर पर शुक्रवार काे श्रीमद्भागवत कथा के शुभारंभ हुअा। जिसमें प्रथम दिवस पर डिप्टीजी के मन्दिर पर भागवत ग्रंथ कथा की पूजा अर्चना की गई तथा सीए उम्मेदराज के सिर पर भागवत रखकर भव्य कलश यात्रा के साथ संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा की शुरूआत की गई। दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक कथावाचक पं मनीष पाराशर की ओर से पूजा-अर्चना कर कथा शुरू की। प्रथम दिन श्रीमद्भागवत कथा में कथावाचक ने बताया कि धर्म,अर्थ, काम और मोक्ष की से छुटकारा मिलता है। तथा उनकी महत्ता पर प्रकाश डाला गया। दूसरे दिन की कथा में अाज शिव पार्वती का विवाह, सुखदेवजी महाराज व राज परीक्षित के जन्म व उनके जीवन की कथा सुनायी जाएगी।

मिश्रोली. कस्बे में सरपंच जगमालसिंह चौहान की ओर से अयोजित श्रीमद्‌भागवत कथा का का शुभारंभ शनिवार से हाेगा। सुबह 10 बजे शिवालय से कलश यात्रा शुरू होगी, कथावाचक संत रामनारायण महाराज की ओर से 15 से 21 फरवरी तक कथा हाेगी।

बकानी. क्षेत्र कुशलपुरा गांव में चल रही भागवत कथा की पूर्णाहुति शुक्रवार काे हुई। जिसमें कथा वाचक बनवारी व्यास ने कथा में कहा कि कृष्णा व सुदामा के मिलन को आत्मा व परमात्मा का मिलन बताया।भागवत कथा का रसपान करने से मनुष्य जीवन सुधर जाता है। तथा शरीर की सारी बुराई दूर हो जाती है। साथ ही लोगो से गो माता की सेवा करने कहा। इस अवसर बावडीखेडा, गणेशपुरा, आगरिया, बाडिया, देवरी, आदि दूर दूर से आए श्रद्धालुओं ने कथा का अंतिम दिन श्रवण किया। व महाप्रसादी ग्रहण की।

मनोहरथाना. कस्बे में आज शनिवार से श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन होगा। जिसमें शुक्रवार को कस्बे के दुर्गा माता मंदिर से कलश यात्रा एवं श्रीमद् भागवत ग्रंथ के साथ कस्बे के प्रमुख मार्गों से यात्रा निकाली गई। इस दौरान बालिकाएं अपने सर पर कलश लेकर चल रही थी। कस्बेवासी राजमल लड्ढा ने बताया कि अग्रवाल धर्मशाला में दोपहर 1 बजे से 4 बजे तक कथावाचक रमेश भार्गव छबड़ा वालो के श्री मुख से भागवत कथा का रसपान कराया जाएगा। यात्रा में विद्या भारती के जगदीश सोनी, पं गौरव शर्मा,व रतनलाल सेन आदि मौजूद रहे।

बाघेर. कुआभाव गांव में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन शुक्रवार को कृष्ण रुक्मणी विवाह धूमधाम से मनाया गया। कथा में भगवान मथुरा प्रस्थान, कंस वध और रुक्मणी विवाह प्रसंग का संगीतमय भाव पूर्ण पाठ किया गया। श्रीकृष्ण रुक्मणी के विवाह की झांकी ने सभी को खूब आनंदित किया। कथा में कथावाचक पं. सज्जन शर्मा ने बताया कि माता-पिता और प|ी की कमाई के पैसे से शराब पीने वाला व्यक्ति हमेशा दु:खी रहता है। पं. शर्मा ने कहा है कि धर्म ,नारी व समाज की रक्षा के लिए शस्त्र उठाना पाप नहीं है। और कहा कि आत्मा ही रुक्मणी है इसका मालिक परमात्मा कृष्ण हैं। आप हर कर्म परमात्मा को समर्पित कर दो तो कर्म भी धर्म बन जाएगा।

आवर. समीप के जाजनी में एक सप्ताह से चल रही भागवत कथा का शुक्रवार को समापन हुआ। समापन के अवसर पर क्षेत्र के कई गांवों से श्रद्धालुओं ने भाग लिया।कथा वाचक गौ भक्त पं जगन्नाथ द्वारा झिरी वाले महादेव मंदिर परिसर में कथा में शुक्रवार को हवन शांति के साथ भागवत कथा का समापन हुआ। इसके बाद महाप्रसादी का वितरण किया गया।

पिड़ावा. क्षेत्र के ओड़ियाखेड़ी गांव में 9 दिवसीय संगीतमय शिवपुराण कथा महोत्सव का आयोजन 20 फरवरी से होगा। कार्यक्रम की शुरुआत 20 फरवरी को कलश यात्रा के साथ होगी। वही 28 फरवरी को पूर्णाहुति के साथ समापन होगा। इसमें संत माधव मुखिया कथा वाचक होंगे।कथा समिति सदस्य गुलाब विश्वकर्मा ने बताया की कार्यक्रम को लेकर तैयारियां की जा रही है।

हरनावदा पीथा में सात दिवसीय भागवत कथा आज से

पिड़ावा. क्षेत्र के हरनावदा पीथा में सात दिवसीय भागवत कथा का शुभारंभ आज कलश यात्रा के साथ किया जाएगा।ग्रामीण बहादुर सिंह ने बताया कि कथा व एकादशी व्रत उद्यापन का आयोजन होगा। कार्यक्रम का शुभारंभ कलश यात्रा के साथ होगा। जिसमें संत सुरेश कृष्ण दास कथा वाचक रहेंगे। प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक कथा का आयोजन होगा। 28 फरवरी को पूर्णाहुति ओर महाप्रसादी के साथ भागवत कथा का समापन होगा।

पशुपतिनाथ मंदिर पर तीन दिवसीय कार्यक्रम 19 से शुरू

झालरापाटन. शहर के हठीले हनुमान पशुपतिनाथ सेवादल के द्वारा महाशिवरात्रि के अवसर पर 3 दिवसीय कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। सेवादल अध्यक्ष पं सुरेश कुमार शर्मा ने बताया कि 19 फ़रवरी बुधवार को पशुपतिनाथ महादेव व माता पार्वती की हल्दी रस्म,महिलाओं द्वारा भगवान का विशेष श्रृंगार,रात्रि में महिलाओं द्वारा भजन कीर्तन किया जाएगा। वही 20 फ़रवरी गुरुवार को मेहंदी रस्म, शिव व पार्वती का विशेष श्रृंगार, रात्रि में भजन-कीर्तन,व महाभिषेक किया जाएगा। 21 फ़रवरी शुक्रवार महाशिवरात्रि पर्व पर सुबह 5 बजे अभिषेक व संध्या को 51 दीपकों से महाआरती की जाएगी।

शिव परिवार का वर्णन

झालरापाटन. शहर में द्वारकाधीश मंदिर पर आयोजित शिवपुराण कथा में तीसरे दिन शुक्रवार को शिव परिवार का वर्णन किया गया। कथावाचक पं राजेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि भगवान गणेश ,कार्तिकेय, माता पार्वती, भगवान शिव, नंदी, भूतगण के बारे में बताया कि भगवान शिव के परिवार में सभी के वाहन अलग-अलग है। सब एक-दूसरे के दुश्मन है, फिर भी शिव परिवार में सब एक साथ रह रहे हैं। इसमें शेर, मयूर, चूहा, सर्प, नंदी एक-दूसरे के श्रंखला दुश्मन होते हुए भी भगवान शिव व माता पार्वती द्वारा भगवान गणेशज के शुभ-लाभ के बारे में विस्तारपूर्ण वर्णन किया। शिवपुराण में हर-हर महादेव, हर-हर गंगे, गणपति तेरी जय हो भजनों से पूरा पंडाल गूंज उठा। कथा में कहा कि जो बच्चा माता-पिता की सेवा करता है, उसे ईश्वर अपने आप फल दे देता है। उन्होंने कहा कि आज की दुनिया में लोग कार्यों में व्यस्त है, परंतु कथा के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं। जीवन में बुरी आदतों को अलग कर देना चाहिए और अच्छी बातों को ग्रहण करना चाहिए। भगवान गणेश ने हमेशा अपने पिता शिव और माता पार्वती का आदर किया है। हमें ईश्वर के बताए हुए मार्गों का अनुसरण करना चाहिए। कथा में शिव परिवार की झांकी भी बनाई गई। शिव पुराण में सत्यनारायण, प्रेमचंद सुमन, सुरेश शर्मा, ब्रजेश गौतम, दिलीप मेहरा, नरेश प्रजापति, राजेंद्र मीडिया, शुभम हाड़ा, ईश्वर खत्री ने व्यवस्था संभाली।

झालरापाटन। शिव पुराण कथा में द्वारकाधीश परिसर में बनाई शिव परिवार की झांकी।

बाघेर. कु़वाभाव गांव में भागवत कथा में सजाई कृष्ण रुक्मिणी की झांकी।

मनाेहरथाना. भागवत महापुराण की शोभायात्रा निकालते हुए।

आवर. जाजनी में भागवत कथा के समापन पर प्रसादी ग्रहण करते श्रद्धालु।

झालावाड़. राजलक्ष्मी नगर में कथा के शुभारंभ पर कलशयात्रा में शामिल श्रद्धालु।

बकानी. कुशलपुरा में भागवत कथा का वाचन करते पं बनवार व्यास।

बकानी. कुशलपुरा में भागवत कथा में कथा का श्रवण करती महिलाएं।

Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
X
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
Jhalrapatan News - rajasthan news our karma will also become religion after dedicating every karma to god pt sajjan sharma
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना