पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Eklera News Rajasthan News Staging Of Friendship Of Shri Krishna And Sudama In Bhagavata Katha

भाागवत कथा में श्रीकृष्ण व सुदामा की मित्रता का मंचन

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

क्षेत्र के ल्हास में चल रही श्रीमद् भागवत कथा के अंतिम दिन शनिवार को कृष्ण-सुदामा की मित्रता का वर्णन किया गया। जिसमें संगीतमय भजनों में श्रद्धालुओं ने नृत्य किया। कथा में कथावाचक संत बाल योगी महाराज ने कथा में बताया कि कितना भी बड़ा व्यक्ति क्यों ना हो पर भगवान की कृपा के बिना इंसान अच्छा काम नहीं कर सकता है।

गुरु विश्वामित्र अहम में आकर यज्ञ करते थे तो मारिच ओर सुभाव नाम के राक्षस उस यज्ञ का विध्वंस कर देते थे। भगवान अंहकार किसी का नहीं रहने देता। भगवान ने गोपियों का अर्जुन का व इंद्र का अहंकार नष्ट किया। भगवान ने किसी में अहम नहीं रहने दिया। आगे बताया की काम ऐसा करो जिससे भगवान, माता पिता व गुरु नाराज नहीं हो, यदि अपने किसी भी काम से यह तीनों नाराज है तो समझो वह काम सफल नहीं होगा। होली दहन के दिन इंसान को अपने अंदर की बुराइयों को जला कर दूसरे दिन सबको प्रेम का रंग लगाओ। कथा के समापन पर भागवत कथा की महाआरती की गई। जिसमें पूर्णाहुति पर श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की।

गुरु विश्वामित्र अहम में आकर यज्ञ करते थे तो मारिच ओर सुभाव नाम के राक्षस उस यज्ञ का विध्वंस कर देते थे। भगवान अंहकार किसी का नहीं रहने देता। भगवान ने गोपियों का अर्जुन का व इंद्र का अहंकार नष्ट किया। भगवान ने किसी में अहम नहीं रहने दिया। आगे बताया की काम ऐसा करो जिससे भगवान, माता पिता व गुरु नाराज नहीं हो, यदि अपने किसी भी काम से यह तीनों नाराज है तो समझो वह काम सफल नहीं होगा। होली दहन के दिन इंसान को अपने अंदर की बुराइयों को जला कर दूसरे दिन सबको प्रेम का रंग लगाओ। कथा के समापन पर भागवत कथा की महाआरती की गई। जिसमें पूर्णाहुति पर श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की।

गाेलाना. क्षेत्र के डाेडा गांव में चल रही भागवत कथा में कथावाचक पं भजनलाल शास्त्री ने रुक्मणी मंगल का प्रसंग सुनाया।जिसमें धूम धाम से कृष्ण रुक्मणी विवाहाेत्सव मनाया। इस दाैरान महिलाअाें ने नृत्य भी किया।कथा में सुमेर सिंह साेलंकी, भंवर सिंह अादि ने महाअारती की।

अकलेरा. ल्हास में भागवत कथा में कथा श्रवण करते श्रद्धालु।
खबरें और भी हैं...