जिलेभर में तेज अंधड़ और बारिश से तापमान में गिरावट

Jhalawar News - भवानीमंडी शहर में मंगलवार शाम करीब 5.30 बजे 15 मिनट के लिए चली तेज अंधड़ ने कई जगह नुकसान पहुंचा दिया। इस दौरान खुले में...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:15 AM IST
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
भवानीमंडी शहर में मंगलवार शाम करीब 5.30 बजे 15 मिनट के लिए चली तेज अंधड़ ने कई जगह नुकसान पहुंचा दिया। इस दौरान खुले में पड़े टीनशेड और लकड़ी प्लाई, कागज के गत्तों की तरह हवा में उड़कर दूर-दूर जा गिरंे। एमपी राजस्थान सीमा का स्वागत द्वार नीचे जा गिरा।

इस दौरान नुकसान ताे हुआ, लेकिन कहीं कोई जनहानि नहीं हुई। मेला मैदान में शादी समारोह में टेंट का सामान रखा हुआ था। इसके लिए मंगाई प्लाई हवा में उड़कर काफी दूर-दूर तक जा गिरी। ईदगाह के पास में एक कबाड़े के गोदाम के टीनशेड उखड़कर पलटकर दूसरी ओर हो गए। एक अन्य दुकान के टीनशेड दीवार में से उखड़ गए। इसके पास ही आबकारी चौराहे के पास स्थिति एमपी राजस्थान की सीमा स्थल पर एक स्वागत गेट लगा हुआ था। जो नीचे जा गिरा। दो-तीन अन्य जगह पेड़ उखड़ गए। एक टीनशेड दूर कहीं से उड़कर उषा कॉलोनी स्थित नगर पालिका के स्वामित्व वाली खाली जगह में आ गिरा।

8 हजार बेग कृषि जिंस भीगी

सोमवार तड़के करीब 4.30 बजे करीब तीस मिनट तक बारिश के बाद, मंगलवार शाम करीब 6 बजे 30 मिनट और तेज बारिश हो जाने से कृषिमंडी में खुले में रखी किसानों की कृषि जिंस को नुकसान पहुंचा है। इससे विभिन्न जिंसों की खुले में रखी करीब 8 हजार बोरी कृषि जिंस भीग गई। सबसे ज्यादा नुकसान कृषि जिंस के खुले में पड़े खुले ढेरों को हुआ है। इसमें विशेष रूप से मसूर, चना और गेहूं व सरसों को नुकसान हुआ है।

2 दिन में बिकी मसूर

केसरपुर निवासी किसान कन्हैयालाल आदि ने बताया कि कृषिमंडी में नीलामी व्यवस्था सही नहीं है। किसानों ने अन्य जगह की मंडियों का उदाहरण देते हुए बताया कि बाकी अन्य जगह सुबह जल्दी नीलामी शुरू हो जाती है, किसान अपनी जिंस बेचकर जल्दी घर चल जाता है। लेकिन भवानीमंडी में दोपहर 2 बजे जिंस की नीलामी शुरू होती है। कुछ जिंसों की तो इसके भी बाद नीलामी शुरू होती है। उसकी मंगलवार को नीलामी होनी थी। बारिश आ गई। अपने व्यापारी को ही मसूर बेच देनी पड़ी। आज बारिश से पूरी जिंस नहीं नीलाम हो सकी। मसूर करीब करीब 500 बोरी बिना बिके ही रह गई। इसी तरह काफी मात्रा में गेहूं भी बिना बिके रह गया।

सारोलाकलां. मंगलवार करीब चार बजे अचानक पौन घंटे तक बारिश होने से परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं सड़क पर पानी बहा निकाल। इस दौरान बारिश होने से बिजली गुल हो गई। बनी गांव में मकान के चद्दर उड़े व पेड़ गिरा।

भवानीमंडी। मंगलवार शाम हुई बारिश से कृषिमंडी में भीगी जिंस।

झालावाड़। झालरापाटन कृषि उपज मंडी में बारिश से भीगी जिंस।

बारिश से सरकारी दफ्तरों में पानी घुसा, शादी के टेंट उखड़े, किसानों को नुकसान

पिड़ावा. नगर और आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह तड़के साढ़े चार बजे अचानक आंधी के साथ बरसात होने से लोगों को को गर्मी से राहत मिल गई, लेकिन किसानों को एक बार फिर नुकसान उठाना पड़ा। खेतों में कटी पड़ी फसल भीगने से अब उसकी क्वालिटी कमजोर हो जाएगी। सोयाबीन की फसल तो भीगने के बाद सड़ जाती है। दोपहर पौने दो बजे बाद अचानक तेज बरसात होने लगी। जिससे गर्मी के तापमान में गिरावट हो गईं। बारिश से सरकारी दफ्तरों समेत कई जगह पानी घुस गया और शादी के टेंट उखड़ गए।

झालरापाटन. मंगलवार को बारिश होने से कृषि उपज मंडी में व्यापारियों की खुले में पड़ी जिंस भीग जाने से व्यापारियों को नुकसान हुआ। मंडी कर्मचारी रजनीश कुमार ने बताया कि मंडी में जिंस बेचने आए किसानों की फसल को कोई नुकसान नहीं हुआ है। वहीं व्यापारी मंडी प्रशासन की अव्यवस्था बता रहे है। मंडी प्रशासन का कहना है कि बारिश से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। व्यापारियों की कुछ बोरियां समय पर लदान नहीं होने से भीगी है। किसानों के लिए मंडी प्लेटफार्म खाली करने के लिए व्यापारियों को बोल दिया है।

खानपुर. अंधड़ अाैर आधे घंटे की बारिश से अफरा-तफरी मच गई। कई गांवों में बिजली के पाेल गिरने से बिजली गुल रही। मकानों के टीन-टप्पर व पेड़ उखड़ गए। खानपुर कस्बे के बीचो बीच गर्ल्स स्कूल के सामने नीम का पेड़ जड़ से उखड़ जाने से उसके आसपास खड़ी बाइक, कार व चाय की गुमटी चपेट में आने से क्षतिग्रस्त हो गए। मंडी में समर्थन मूल्य खरीद केंद्र पर खुले में पड़ी हजारों गेहूं सरसों व चने की कट्टे भीग गए। पोटूखेड़ी गांव में मदनलाल गुर्जर ने बताया कि पेड़ गिर जाने से मकान का एक हिस्सा व बाइक चपेट में आ जाने से क्षतिग्रस्त हो गई। लडानिया में शहीद कमांडो मुकुट बिहारी मीणा उच्च प्राथमिक स्कूल का अंधड़ से कमरा क्षतिग्रस्त हो गया।

सुनेल. किसानों ने बताया कि अभी फसल तैयार होने के बाद खेतों में पड़ी हुई थी, जो भीग बारिश से भीग गई। इससे उसकी क्वालिटी कमजोर हो जाएगी और जब उसे मंडी में बेचा जाएगा तो उसके दाम कम मिलेंगे।

जावर. तेज हवा से मंगलवार सुबह 6 बजे हल्की बूंदाबांदी के बाद शाम 4 बजे बारिश होने से रोड पर पानी बह निकाला। करीब आधे घंटे तेज बारिश हुई। किसानों की खेतों में कटी पड़ी फसलें खराब हो जाएगी।

रटलाई. अचानक मंगलवार को मौसम में हुए बदलाव के चलते शाम 4 बजे तेज हवा के साथ 15 मिनट बारिश हुई।

असनावर. सोमवार रात्रि हुई बारिश से किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं मंगलवार साप्ताहिक हाट में शाम 5 बजे बाद बारिश होने से दुकानदार अपना सामान बचाते नजर अाए, लेकिन कई व्यापारियों का सामान भीग गया। इधर किसानों ने भी कटी फसलों में नुकसान की आंशका जताई है।

बकानी. कृषि उपज मंडी में समर्थन मूल्य पर खरीदी चल रही है। अचानक बारिश होने से जिंस भीग गई व कुछ किसानों की जिंस का तौल भी नहीं हुआ। ऐसे में खुले में रखी जिंस बह गई। वहीं तिलम संघ के पास जिसं को ढकने की कोई व्यवस्था नहीं होने के सरकारी खरीद में खरीदी गई जिंस भी भीग गई।

मनोहरथाना. मंगलवार शाम साढ़े चार बजे तेज अंधड़ के साथ आधा घंटे तक बारिश होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। महाशिवरात्रि के मेले में बारिश से दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मंडी में भी खुले में पड़ी जिंस भीग गई।

करावन. बनी गांव में मंगलवार को दोपहर मे चली तेज आंधी हवा और बारिश से काफी नुकसान हुआ। सुल्तानसिंह के घर के टीनशेड उड़ गए गए, इससे मकान की छत गायब हो गई। कई जगह पेड़ भी गिरे और बिजली के तार भी टूट कर गिर गए है। बिजली बंद रही।

आवर. मंगलवार दोपहर बाद तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। इससे कई किसानों की खेतों में काट कर रखी गेहूं की फसल भीग गई।

पनवाड़. राधेश्याम सुमन ने बताया कि कर्ज उदार लेकर रवि की फसलों की बुआई की हैं। बागोद निवासी किसान देवकरण सुमन ने बताया कि 3 वर्ष से लहसुन की बुआई करता था। इस बार गेहूं की बुवाई की हैं। जो भी बारिश की भेंट चढ़ गए। बांसखेड़ा निवासी प्रेमचंद सुमन ने बताया कि 5 वर्ष फसल अच्छी होती हैं तो बाजार भाव नहीं मिलता हैं।

अकलेरा. मंगलवार शाम 5 बजे अचानक हुई शुरू बारिश से कृषि उपज मंडी में रखी किसान व व्यापारियों की जिंस भीग गई।

धरोनिया. सोमवार रात अचानक 3 बजे शुरू हुई बारिश के बाद विद्युत सप्लाई बंद होने से पूरा गांव अंधेरे में रहा। वहीं मंगलवार शाम तक भी बिजली सप्लाई चालू नहीं की गई। विभाग के जेईएन संदीप मौर्य ने बताया कि सोमवार रात हवा के कारण लाइन पर पेड़ गिरने के कारण तार टूट गया था। जिसे मंगलवार को जोड़ दिया गया। लेकिन दोपहर बाद बरसात व हवा चलने लगे गई जिसे सप्लाई नहीं हो पाई।

बकानी. बिजली गिरने से मंदिर का गुंबद गिर गया। झिझनिया ग्राम पंचायत के रात्याडूंगरी में मंगलवार शाम को आंधी के साथ बारिश हुई।

बकानी. बारिश से गिरा मकान का छप्पर।

रायपुर। बारिश के दौरान मंगलवार को गिरे ओले।

खानपुर. गर्ल्स स्कूल के सामने बारिश से गिरा नीम का पेड़।

पनवाड़। बारिश से मंगलवार को अड़ी फसल।

बारिश से कच्चा मकान ढहा, बच्चियां दबी

बकानी. साढ़े 4 बजे मौसम ने अचानक करवट ली। गणेश्पुरा गांव में कच्चा मकान ढह गया। उसमें दबने से दो सगी बहनों की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार गणेशपुरा निवासी रामकरण लोधा इन दिनों गांव से कुछ दूर मकान बनाकर परिवार समेत रह रहा था। शाम को तेज हवा चलने के कारण उसका दीवारों समेत कच्चा मकान गिर गया। उस समय मकान में उसकी बेटी शिवानी (12) पुत्री रामकरण और छोटी बेटी मनी (8) बैठी हुई थी। बड़ी बेटी कक्षा 7वीं और छोटी बेटी कक्षा 4 में जगपुरा स्कूल में अध्ययनरत थी। तेज हवा और बारिश के कारण मकान दीवारों समेत गिर गया। इसमें दोनों बहनें दब गई। पत्थर और सामान हटाकर दोनों बालिकाओं को बाहर निकाला और 108 एंबुलेंस से बकानी अस्पताल ले गए। वहां डाॅक्टर ने बालिकाओं को मृत घोषित कर दिया। घटना के समय उनकी मां जगपुरा गांव में सामान लेने के लिए गई थी, जबकि पिता झिझनिया गांव में काम करने के लिए गया था।

आकाशीय बिजली गिरने से 2 बच्चों की थमी सांस

मनोहरथाना. जावर थाना क्षेत्र के समरोल गांव में शाम साढ़े 4 बजे तेज गर्जना के साथ अाकाशीय बिजली गिरने से नीम के पेड़ के पास खेल रहे एक परिवार के भाई-बहन झुलसने से अचेत हाे गए। उनकाे अस्पताल ले जाने पर डाॅक्टर ने उन्हें मृत घाेषित कर दिया। थानाप्रभारी बन्नालाल ने बताया कि समरोल गांव में शाम साढ़े 4 बजे तेज हवा और गर्जना के साथ आकाशीय बिजली गिरने से समरोल निवासी अंजना (8) पुत्री राधेश्याम और रवि (5) पुत्र जगदीश की मृत्यु हो गई। समरोल गांव में राधेश्याम व उसका छोटा भाई जगदीश खेत पर बने मकान में परिवार समेत रहते हैं। राधेश्याम किसी काम से मनोहरथाना गया हुआ था, जबकि जगदीश मनोहरथाना में एक दुकान पर काम करता है। शाम को उनके बच्चे मकान के बाहर नीम के पेड़ के नीचे खेल रहे थे, तभी आकाशीय बिजली गिरने से उनकी मौत हो गई। अंजना कक्षा 4 में पढ़ती थी और रवि आंगनवाड़ी पाठशाला में जाता था। तहसीलदार ने अस्पताल पहुंचकर जानकारी ली और उनके परिजनों को ढांढस बंधाया।

करावन। दोपहर आंधी तूफान से मकान के गिरे चद्दर।

Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
X
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
Bhawani mandi News - rajasthan news temperatures and dip in temperature in the district
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना