उजाड़ नदी में आए उफान से दहीखेड़ा व पंखराना बना टापू

Jhalawar News - पनवाड़. उजाड़ नदी में भीमसागर बांध से अथाह पानी छोड़ने के बाद शनिवार को दहीखेड़ा व पंखराना गांव टापू बन गए हैं। अस्पताल...

Sep 15, 2019, 08:21 AM IST
पनवाड़. उजाड़ नदी में भीमसागर बांध से अथाह पानी छोड़ने के बाद शनिवार को दहीखेड़ा व पंखराना गांव टापू बन गए हैं। अस्पताल व धार्मिक स्थल सहित निचली बस्तियों के मकानों का पानी भर गया है। इससे लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो गया। दहीखेड़ा के राकेश सेन, प्रभुलाल बागरी, नरेंद्र मेहरा ने बताया कि उजाड़ नदी में जोरदार उफान होने से अस्पताल के दरवाजे के आगे 2-2 फीट पानी भर गया। आंगनबाड़ी भवन भी टापू बना रहा। सीनियर स्कूल परिसर व साप्ताहिक हाट बाजार चौक, ईदगाह, मेडिकल स्टोर सहित 7 मकान, दुकानों में उफान का पानी भर गया।

दहीखेड़ा में कच्चा मकान गिरा

दहीखेड़ा कस्बे में भारी बारिश के चलते एक कच्चा मकान ढह गया। कुंदन कुमार पुत्र रामरतन सुमन का कच्चा मकान की पहले एक दीवार गिरी, बाद में पूरा मकान ही ढह गया। हालाकि इस मकान में कोई नहीं रहता था, यहां मवेशी बांधने के काम आता था। जिस समय मकान ढहा उस समय वहां कोई मवेशी नहीं था।

असनावर. शनिवार को दिनभर बारिश का दौर जारी रहा। उजाड़ नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। इससे आसपास के खेत जलमग्न हो गए है। किसानों की फसलें पानी में डूबी होने पर किसानों नुकसान की आंशका जताई है। असनावर का कई गांवों से संपर्क कट गया है।

जावर. क्षेत्र की ग्राम पंचायत सोरती में कालीबाई प|ी कंवरलाल भील का कच्चा मकान तेज बारिश के कारण ढह गया। मकान ढहने पर सहकारी समिति भवन में महिला ने शरण ली।

आवर. आहू नदी खतरे के निशान से कई फीट ऊपर बह रही है। तेज बहाव से हाट चौक, एससी बस्ती, बाड़ी मोहल्ला सहित कस्बे के चारों ओर पानी ही पानी हाे गया। इस दौरान एससी बस्ती के लोगों को कस्बे के युवकों की सहायता से सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। आधी रात को आए उफान से कई घरों में पानी भर गया। नदी किनारे स्थित मकानों की एक मंजिल पानी मे डूब गई। तड़के ही कई मकानों से सामान भी खाली करवाया गया।

अकलेरा. छापी बांध के 11 गेट खोलकर की जा रही पानी की निकासी।

बाघेर. वृद्धा काे निकालते ग्रामीण।

भारी बारिश से कई गांवों के रास्ते बंद: अकलेरा. बारिश से नदी नाले उफान पर आ गए। इससे कई गांवों के रास्ते बंद हो गए। अकलेरा से जाने वाले बोरखेड़ी, गेहूंखेड़ी, आमेठा आदि के रास्ते में पड़ने वाले खाळ उफान पर होने से मार्ग जाम रहा। मार्ग बंद होने से वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। ग्रामीण रपटों व पुलियाओं से पानी उतरने का इंतजार करते रहे।

पनवाड़. अस्पताल परिसर में आया पानी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना