वसुंधरा राजे वाले भामाशाह कार्ड का अब क्या होगा?

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पिछली कांग्रेस सरकार के समय मुख्यमंत्री निश़ुल्क दवा योजना को बाद की भाजपा सरकार ने बंद कर भामाशाह योजना चालू कर दी थी। पूर्ववर्ती कांग्रेस शासन की इस योजना में सभी लोगों को निशुल्क उपचार मिल रहा था।

लेकिन, भामाशाह कार्डधारी को सामान्य के अतिरिक्त निजी अस्पतालों में भी विशिष्ट उपचार मिल रहा था। अब नई कांग्रेस सरकार बन चुकी है। ऐसे में शनिवार को स्थानीय राजकीय कमरुद्दीन चिकित्सालय में उपचार कराने आए भामाशाह कार्डधारी नागरिक वहां पूछते दिखाई दिए कि अब इन कार्ड का क्या होगा। इस कार्ड पर एक और वसुंधराराजे का फोटो लगा है। चिकित्साकर्मियों का कहना था अभी तो इन कार्ड का क्या होगा, इस बारे में कोई आदेश नहीं आए हैं। लेकिन जब पिछली कांग्रेस सरकार की निवर्तमान सरकार ने निश़ुल्क दवाई योजना बंद कर दी थी तो अब इसका क्या होगा, कुछ नहीं बता सकते हैं। अलबत्ता पहले की कांग्रेस सरकार की तरह ही निशुल्क योजना चालू करवाई गई तो वह सबके लिए होगी। फिर इन भामाशाह योजना और इन कार्ड का अलग से क्या महत्व रह जाएगा?

भवानीमंडी। कमरुद्दीन अस्पताल में लगी रोगियों की लाइनें।

भामाशाह कार्ड का आगे क्या होगा, इस बारे में अभी तो कुछ नहीं कह सकते हैं। निदेशालय स्तर पर वार्ता करने के बाद क्या निर्णय आता है, तभी कुछ बता पाएंगे। -डॉ. साजिद खान, सीएमएचओ

घटनेे लगी रोगियों की संख्या

सर्दी का मौसम शुरू होते ही अस्पताल में रोगियों की तादाद में कमी आना शुरू हो गई है। सर्दी के मौसम में आमतौर पर रोगियों की तादाद कम हो जाती है। इस बार भी यही हुआ है। तेज सर्दी का असर शुरू होते ही रोगियों की तादाद में कमी आना शुरू हो गई है।

नसबंदी ऑपरेशन की तादाद बढ़ी

सर्दी के मौसम में नसबंदी ऑपरेशन कराने आने वाली महिलाओं की तादाद बढ़ जाती है। शनिवार को भी 30 से ज्यादा महिलाओं ने नसबंदी ऑपरेशन करवाया।

खबरें और भी हैं...