501 महिलाएं मंगल कलश लेकर ढाई घंटे में 2 किमी चल कर पहुंची कथास्थल पर

Jhunjhunu News - झुंझुनूं. कथा से पहले बावलियाें की बगीची से निकाली कलश यात्रा में शामिल महिलाएं। भास्कर संवाददाता | झुंझुनूं ...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:21 AM IST
Jhunjhunu News - rajasthan news 501 women took the kalal kalash in a distance of two and a half hours and reached kadastha
झुंझुनूं. कथा से पहले बावलियाें की बगीची से निकाली कलश यात्रा में शामिल महिलाएं।

भास्कर संवाददाता | झुंझुनूं

चूणा चौक की बसावतिया कॉलोनी स्थित मारुति नंदन बालाजी मंदिर के पास मंगलवार को सात दिवसीय भागवत कथा शुरू हुई। इससे पहले शाहों के कुएं के पास बावलियों की बगीची से कलश यात्रा निकाली गई। बैंड बाजे के साथ रवाना हुई शोभा यात्रा में 501 महिलाएं सिर पर मंगल कलश लिए चल रही थीं। शोभा यात्रा गांधी चौक, छावनी बाजार, राणी सती रोड, चूणा चौक होते हुए करीब ढाई घंटे में दो किलोमीटर का सफर तय कर आयोजन स्थल पहुंची। मुख्य यजमान वीरेंद्र शाह सप|ीक सिर पर भागवत पोथी रखे चल रहे थे। कथा वाचक चित्रकूट धाम उत्तर प्रदेश के राजाराम महाराज अगुवाई कर रहे थे। आयोजन संयोजक महेश बसावतिया ने बताया कि झुंझुनूं नगर विकास मंच के सौजन्य से विश्व शांति, जन कल्याण एवं प्राकृतिक संतुलन बनाए रखने की कामना को लेकर आयोजित हो रही कथा में हर रोज अलग-अलग प्रसंगों की झांकियां भी सजाई जाएगी। कथा वाचक राजाराम महाराज ने पहले दिन भागवत का महात्म्य बताने के साथ ही वैराग्य एवं नारदजी के पूर्व जन्म का प्रसंग सुनाया। गोकर्ण और धुंधकारी की कथा की व्याख्या की। उन्होंने कहा कि भागवत सुनना और इसका आयोजन करना अपने आप में तपस्या करने जैसा ही है। इसके श्रवण से मनुष्य सभी तरह के पापों से मुक्त होकर मोक्ष का पात्र हो जाता है। शर्त इतनी ही है कि इस कथा को स्थिर भाव से सुनना पड़ता है। इस दौरान शंभु नेहरा, ललित टीबड़ा, शिवचरण पुरोहित, जगदीश सैनी, नवल शाह, शील, गजेंद्र शाह, ख्याली राम कुमावत, मुरारी सोनी, गजेंद्र, रवि तुलस्यान, अनिल जालान, निर्मल शाह, सुरेश शाह, किशन छक्कड़, लीलाधर पुरोहित, विनोद सिंघानिया, विनोद जोशी, शिवम जालान, निशांत, भागीरथ वर्मा, अर्पित स्वामी, आनंद शर्मा आदि मौजूद थे। निरंजन लाल केडि़या, राजकुमार सिंधानिया, लीला पुरोहित, अंजू शाह, बबीता शाह सहित अनेक लोग मौजूद थे।

X
Jhunjhunu News - rajasthan news 501 women took the kalal kalash in a distance of two and a half hours and reached kadastha
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना