शेखावाटी उत्सव में बिखरी लोक संस्कृति की छटा, पारंपरिक नृत्य की दी प्रस्तुति

Jhunjhunu News - ढप की थाप पर राजस्थानी धमाल गीतों की धुन पर कई तरह के लोक नृत्यों से शुक्रवार को नवलगढ़ में शुरू हुए 25वें शेखावाटी...

Feb 15, 2020, 10:30 AM IST
Nawalgarh News - rajasthan news folk culture scattered in shekhawati festival presentation of traditional dance

ढप की थाप पर राजस्थानी धमाल गीतों की धुन पर कई तरह के लोक नृत्यों से शुक्रवार को नवलगढ़ में शुरू हुए 25वें शेखावाटी उत्सव में कई तरह की प्रतियोगिताअों का आयोजन किया गया। सूर्य मंडल मैदान में आयोजित इन कार्यक्रमों में भागीदारी निभाने अौर इनका साक्षी बनने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। मोरारका फाउंडेशन तथा राजस्थान सरकार के पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में शुरू हुए शेखावाटी उत्सव के उद्घाटन समारोह में क्रिकेट बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री कमल मोरारका, भारती मोरारका, उपखंड अधिकारी मुरारी लाल शर्मा, संजय बासोतिया, तहसीलदार कपिल व्यास, डाॅ. दयाशंकर जांगिड़, कैलाश चंद यादव, कुंज बिहारी अग्रवाल, महेश सहगल, रवि जैन, राजेन्द्र शर्मा, दलीप कुमार चोखानी, भरत मोरारका, कैलाश चोटिया आदि अतिथि थे। इसके अलावा ऊंट-घोड़ी तथा अन्य प्रकार की झांकियां निकाली गई। उत्सव के संयोजक सत्यवीर बेनीवाल ने बताया कि उत्सव का समापन 16 फरवरी को होगा। समारोह के दौरान सह संयोजक अनिल सैनी, सुरेश जांगिड़, अनिल शर्मा, कवि हरीश हिन्दुस्तानी आदि ने संचालन व निर्णायक की भूमिका निभाई।

ढप की थाप पर राजस्थानी धमाल गीतों की धुन पर कई तरह के लोक नृत्यों से शुक्रवार को नवलगढ़ में शुरू हुए 25वें शेखावाटी उत्सव में कई तरह की प्रतियोगिताअों का आयोजन किया गया। सूर्य मंडल मैदान में आयोजित इन कार्यक्रमों में भागीदारी निभाने अौर इनका साक्षी बनने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। मोरारका फाउंडेशन तथा राजस्थान सरकार के पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान में शुरू हुए शेखावाटी उत्सव के उद्घाटन समारोह में क्रिकेट बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री कमल मोरारका, भारती मोरारका, उपखंड अधिकारी मुरारी लाल शर्मा, संजय बासोतिया, तहसीलदार कपिल व्यास, डाॅ. दयाशंकर जांगिड़, कैलाश चंद यादव, कुंज बिहारी अग्रवाल, महेश सहगल, रवि जैन, राजेन्द्र शर्मा, दलीप कुमार चोखानी, भरत मोरारका, कैलाश चोटिया आदि अतिथि थे। इसके अलावा ऊंट-घोड़ी तथा अन्य प्रकार की झांकियां निकाली गई। उत्सव के संयोजक सत्यवीर बेनीवाल ने बताया कि उत्सव का समापन 16 फरवरी को होगा। समारोह के दौरान सह संयोजक अनिल सैनी, सुरेश जांगिड़, अनिल शर्मा, कवि हरीश हिन्दुस्तानी आदि ने संचालन व निर्णायक की भूमिका निभाई।

पहले दिन शुक्रवार को अनेक तरह की खेलकूद प्रतियोगिताअों का आयोजन भी हुआ। स्कूलों की टीमों के बीच राउंडर बल्ला तथा ग्रामीण टीमों द्वारा हरदड़ा खेल खेला गया। स्कूली खेल में सीनियर वर्ग राउंडर बल्ला में प्रेरणा स्कूल की टीम विजेता तथा प्रिंस एज्यूकेशन स्कूल, बसावा उप विजेता रही। ग्रामीण खेल हरदड़ा मंे पूनिया का बास टीम विजेता, कल्याणपुरा टीम उप विजेता रही। इनमें प्रिंस स्कूल बसावा, आदर्श उच्च प्राथमिक विद्यालय नवलगढ़, प्रेरणा स्कूल, बेलाबाई स्कूल, विश्व भारती स्कूल, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय गणेशपुरा व एसएन विद्यालय की छात्राओं ने भाग लिया।

नवलगढ़. समारोह में प्रस्तुति देती युवतियां।

X
Nawalgarh News - rajasthan news folk culture scattered in shekhawati festival presentation of traditional dance
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना