• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jhunjhunu
  • Jhunjhunu News rajasthan news people of jakhal will now get ration 25 kms away in jhajdhar when creating ration card jakhal is written in place of jhajad
विज्ञापन

जाखल के लोगों को अब राशन मिलेगा 25 किमी दूर झाझड़ में वजह-राशन कार्ड बनाते समय जाखल की जगह लिखा झाझड़

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 03:11 AM IST

Jhunjhunu News - रसद विभाग के नए आदेशों के तहत जाखल गांव के दो दर्जन से अधिक लोगों को राशन लेने के लिए 25 किमी दूर झाझड़ गांव जाना...

Jhunjhunu News - rajasthan news people of jakhal will now get ration 25 kms away in jhajdhar when creating ration card jakhal is written in place of jhajad
  • comment
रसद विभाग के नए आदेशों के तहत जाखल गांव के दो दर्जन से अधिक लोगों को राशन लेने के लिए 25 किमी दूर झाझड़ गांव जाना पड़ेगा। जितने रुपए की राशन सामग्री मिलेगी, उससे अधिक उनका किराया लग जाएगा। इस परेशानी के लिए जिम्मेदार है रसद विभाग की एक छोटी सी गलती। जाखल के लोगों के राशन कार्ड में जाखल के स्थान पर झाझड़ गांव अंकित हो गया। इस गलती को आज तक नहीं सुधारा गया। यही कारण है कि दो दर्जन से भी अधिक परिवारों को खाद्य सुरक्षा में शामिल होने के बावजूद राशन सामग्री नहीं मिल पा रही है। इन उपभोक्ताओं को दुकान का आवंटन भी गलत तरीके से किया गया था, जिस दुकान का नाम व नंबर राशन कार्ड में दिया गया है, वह दुकान पोस मशीन में जाखल की जगह झाझड़ बताती है।

इस समस्या से जूझ रहे लोगों ने भास्कर को बताया कि जिस समय राशन कार्ड बने थे, उस समय पूर्व ग्राम विकास अधिकारी ने इन उपभोक्ताओं के राशन कार्ड में गांव का नाम पेन से दुरुस्त कर दिया था, उसके बाद उपभोक्ताओं को बराबर राशन सामग्री प्राप्त हो रही थी। अब एक मार्च 2019 से रसद विभाग ने नई नीति लागू की है, जिसके अनुसार खाद्य सुरक्षा योजना में शामिल परिवार गांव के जिस वार्ड में रहते हैं, उनको उसी वार्ड के डीलर से राशन लेना होगा। इसलिए यह लोग अब जाखल में राशन नहीं ले पा रहे हैं। कार्यवाहक व्यवस्थापक मनरूप सिंह ने बताया कि पहले हम राशन कार्ड में ग्राम विकास अधिकारी के दुरूस्तीकरण के आधार पर उपभोक्ताओं को राशन सामग्री दे दिया करते थे, पोस मशीनों में भी कोई दिक्कत नहीं आती थी। उपभोक्ता कहीं से भी राशन सामग्री प्राप्त कर सकता था, लेकिन इस महीने से विभाग की नई नीति लागू करने के बाद उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।


जाखल की जगह लिखा झाझड़।

यह है नई नीति : जिस वार्ड के रहने वाले हैं उसी वार्ड के डीलर से मिलेगी राशनी सामग्री

रसद विभाग की नई नीति में दर्शाया गया है कि जो खाद्य सुरक्षा योजना में परिवार शामिल है तथा जिस वार्ड का रहने वाला है, उनको उसी वार्ड के डीलर से राशन मिलेगा। दो दर्जन से अधिक उपभोक्ताओं के राशन कार्ड में गांव का नाम जाखल की जगह झाझड़ लिखा है और उचित मूल्य की दुकान शेर सिंह झाझड़ की दर्ज है। जाखल की पोस मशीन में इन परिवारों का उल्लेख नहीं है। इन परिवारों को राशन सामग्री लेने 25 किमी दूर झाझड़ जाना पड़ेगा।

नए आदेशों से हो गई है परेशानी : वार्ड नौ निवासी शारदा ने बताया कि पहले हमें यहीं राशन सामग्री मिल जाती थी, लेकिन नए आदेश आने के बाद गांव में राशन मिलना बंद हो गया है। सफी मोहम्मद ने बताया कि रसद विभाग की गलती के कारण हमें राशन सामग्री नहीं मिल पा रही है, कई बार हमें गांव के राशन डीलर से माथा पच्ची करनी पड़ती थी, लेकिन तब राशन मिल जाता था, लेकिन अब राशन नहीं मिल रहा है। प्रियंका कुमारी ने बताया कि राशन कार्ड में मुखिया का नाम सही लिखा है, लेकिन गांव का नाम गलत लिखा है।

X
Jhunjhunu News - rajasthan news people of jakhal will now get ration 25 kms away in jhajdhar when creating ration card jakhal is written in place of jhajad
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन