पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jhunjhunu News Rajasthan News World Women39s Day This Name Is Our Pride These Faces Are Our Identity

विश्व महिला दिवस : ये नाम हमारा अभिमान, ये चेहरे हमारी पहचान

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ये वे चेहरे हैं जो झुंझनूं की पहचान बन चुके हैं। जब कभी हमारी उपलब्धियों का जिक्र होता है। शुरुआत इन चेहरों से ही होती है। ये चेहरे हमारे गौरव का प्रतीक बन चुके हैं। महिला दिवस पर दैनिक भास्कर ने नई पहल की। इन चेहरों को एक साथ एक नया अंदाज दिया ताकि इन्हें देख बेटियां नई कहानियां रच सके। हाथों से बनी इनकी ये तस्वीरें सभी बेटियों को हमेशा नए सपनों को उकेरने की प्रेरणा देती रहेंगी। इन चेहरों की उपलब्धियों से ही हमें नई दिशाएं मिली और पिछले तीन साल से झुंझुनूं महिला सशक्तिकरण में राष्ट्रीय पुरुस्कार प्राप्त कर रहा है। यकीनन आगे भी करता रहेगा।

मोहना सिंह फाइटर पायलट बनने वाली देश की पहली महिला हैं। ये जिले के खतेहपुरा की रहने वाली हैं।

मोहना सिंह }पहली फाइटर पायलट

बिसाऊ की मीना सोनी प्रदेश की पहली महिला मेट्रो चालक बनी। उद्घाटन मैट्रो उसे ने ही चलाई थी।


मीना सोनी }पहली
मेट्रो चालक


एशियन गेम्स में पदक जीतने वाली जिले की पहली महिला एथलीट खिलाड़ी हैं। ये घरड़ाना खुर्द की हैं।

सपना राव }एशियन गेम में पदक विजेता

नूआं की इशरत अहमद कायमखानी समाज की सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल बनने वाली पहली महिला हैं।


इशरत अहमद }पहली मुस्लिम ले. कर्नल

रुखसार कायमखानी समाज की पहली महिला हैं जो इस पद पर पहुंची हैं। ये जाबासर की हैं।


रुकशार खान }पहली तटरक्षक अधिकारी

निशा गुर्जर बीसीसीआई की टीम चयन के लिए बनाए पैनल में भी शामिल हुई हैं। ये पथाना की हैं।


निशा गुर्जर }राष्ट्रीय महिला क्रिकेट टीम में

सुमित्रा सिंह 1957 में पहली बार विधायक बनी। 2003 में राजस्थान की पहली विधानसभा अध्यक्ष बनी।

सुमित्रा सिंह }पहली विधानसभा अध्यक्ष

पीएम मोदी भी कर चुके हैं हमारी बेटियों की तारीफ

झुंझुनूं की एक बेटी पायलट जहाज चलाती है तो पता चलता है कि बेटी की ताकत क्या होती है।

- नरेंद्र मोदी,

8 मार्च 2018
खबरें और भी हैं...