जोधपुर / 5 माह में सैन्यकर्मी के नाम पर 6 बार ठगी, सोशल मीडिया पर 1 साल पुराने फोटो ही भेज फांस रहे शिकार

शातिर इन कार्ड्स से कर रहे हैं ठगी शातिर इन कार्ड्स से कर रहे हैं ठगी
X
शातिर इन कार्ड्स से कर रहे हैं ठगीशातिर इन कार्ड्स से कर रहे हैं ठगी

  • सोशल मीडिया पर की अपील के बाद भी नहीं थम रही वारदातें
  • ओएलएक्स पर सस्ते में सामान का झांसा दे अाए दिन हो रही ठगी

दैनिक भास्कर

Oct 12, 2019, 06:35 AM IST

जोधपुर. सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स (सीआईएसएफ) के एक जवान के कुछ दस्तावेज चुराकर शातिर ओएलएक्स पर लगातार ठगी की वारदातें कर रहे हैं। बदमाशों द्वारा सुरक्षा एजेंसी की छवि खराब करने वाली इन हरकतों से परेशान होकर मुख्यालय को बार-बार अलर्ट जारी करना पड़ रहा है। सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर मुख्यालय द्वारा ट्विटर हैंडल @CISFHQrs पर अलर्ट जारी कर आमजन से सावधान रहने की अपील के साथ ही ओएलएक्स को शिकायत और जवान द्वारा पुलिस में एफआईआर दर्ज कराने की जानकारी भी साझा की जा रही है। इसके बावजूद दस्तावेज से झांसा देकर ठगी करने की वारदातें थम नहीं रही।

उल्लेखनीय है कि सीआईएसएफ जवान के आईडी कार्ड और आधार कार्ड दिखाकर ओएलएक्स, फेसबुक या अन्य माध्यम से सामान बेचने का झांसा देकर ऑनलाइन ठगी की जा रही है। जोधपुर में ही पिछले कुछ महीनों में ऐसे छह मामले सामने आ चुके हैं। हैरानी की बात यह है कि शातिर वही फोटो अपने शिकार को भेज रहे हैं, जो पिछले एक साल से सोशल मीडिया पर चल रही है। दैनिक भास्कर ने गत वर्ष 23 अक्टूबर को भी उसी फोटो के साथ खबर प्रकाशित कर ठग गिरोह की कारस्तानी का खुलासा किया था। वाट्सएप पर भेजी जा रही इस फोटो में बिल बनाता व्यक्ति और टेबल पर आईफोन का पैकेट रखा नजर आता है। 10 सितंबर 2018 को भी जैनेंद्र गोयल को झांसा देने के लिए भेजी गई फोटो ही हाल में केरू निवासी प्रकाश को भी भेजी गई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना