--Advertisement--

95 हिंदू व 20 मुस्लिम जोड़े बने जीवनसाथी

कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल पेश करते हुए एकता शाह विकास सेवा समिति जोधपुर की ओर से एक...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:35 AM IST
कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर

गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल पेश करते हुए एकता शाह विकास सेवा समिति जोधपुर की ओर से एक अनूठे कार्यक्रम में 115 जोड़ों का विवाह करवाया गया। इस सर्वधर्म विवाह समारोह में 95 जोड़े हिंदू और 20 जोड़े मुस्लिम थे। मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी परिसर में संपन्न हुए इस समारोह में कौमी एकता और सद‌्भावना नजर आई। समारोह के संयोजक मोहम्मद रौनक ने बताया, कि गरीब परिवार के युवक-युवतियों का विवाह करवाने, फिजूलखर्ची रोकने और सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के उद्देश्य से यह विवाह आयोजन हुआ। हिंदू जोड़ों के विवाह के फेरे विजयसिंह और दिलीपसिंह के नेतृत्व में आर्य समाज के पंडितों ने हिंदू परंपरा से कराए, जबकि मुस्लिम जोड़ो का निकाह काजी वाहिद अली की सरपरस्ती में हुआ। इन जोड़ो में जोधपुर, पाली, जालोर, बाड़मेर, ब्यावर, बिलाड़ा, आगरा, कानपुर सहित अन्य स्थानों के जोड़े शामिल थे।

सभी समाज के लोग मौजूद रहे

समारोह में मारवाड़ मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी के सीईओ मोहम्मद अतीक, अध्यक्ष हाजी अबादुल्लाह कुरैशी, शब्बीर अहमद, मोहम्मद इस्हाक, रऊफ अंसारी, जेडीए के पूर्व चेयरमैन राजेंद्र सोलंकी, सुनील परिहार, गणपतसिंह, योगेश गहलोत, गिरीश मीणा, रजिस्ट्रार डॉ. इमरान खान पठान, महेंद्र विश्नोई, इंसाफ खां, अली मोहम्मद, मोहम्मद शरीफ और मुन्नी देवी गोदारा सहित अन्य लोग मौजूद थे।

हिंदू-मुस्लिम रीति-रिवाज से हुई शादियां।