--Advertisement--

भर्ती रैली में अव्वल रहे लड़के के साथ हुई वारदात, सेना में भर्ती का मौका छीना

पैर की हड्डी टूट गई, जबकि उसका साथी डरकर वहां से भाग गया।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 05:02 AM IST

जोधपुर. मूलतया ओसियां के भीकमकोर हाल भदवासिया हरिओम नगर में रहने वाले शंकर विश्नोई (20) पुत्र जालाराम ने गत दिनों उदयपुर में आयोजित सेना भर्ती रैली की दौड़ में स्थान हासिल कर लिया, लेकिन दो बदमाशों ने बिना किसी ठोस वजह के उसका पैर तोड़ सेना में जाने का ख्वाब ही तोड़ डाला। पीड़ित की रिपोर्ट पर महामंदिर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की गाड़ी के नंबर के आधार पर बदमाशों की तलाश शुरू की है।

जानकारी के अनुसार शंकर इन दिनों एसएससी सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है। बुधवार सुबह भी वह रोजाना की तरह मानजी का हत्था इलाके में स्थित कोचिंग इंस्टीट्यूट गया था। दोपहर करीब 12 बजे वह वहां से वापस घर जाने के लिए पैदल ही अपने एक दोस्त के साथ निकला। मानजी का हत्था से पावटा बी रोड, लक्ष्मी नगर, हनुवंत बीजेएस होते हुए मटकी चौराहा पहुंचा। इसी दौरान पीछे से स्कॉर्पियो गाड़ी तेज रफ्तार से उनके पास से निकली। उसमें बैठे युवकों को शायद लगा कि पैदल चल रहे युवकों ने उन पर कुछ कमेंट किया। संभवतया इसी के चलते वे वापस टर्न लेकर शंकर के पास पहुंचे। स्कॉर्पियो में सवार एक युवक हाथ में बेसबॉल का बैट लेकर उतरा और सीधे शंकर के पैर पर जोर से वार कर दिया। इससे शंकर के पैर की हड्डी टूट गई, जबकि उसका साथी डरकर वहां से भाग गया।

अागे की परीक्षा नहीं दे पाएगा
महामंदिर थाने में बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। शंकर कुछ दिनों पहले उदयपुर में आयोजित सेना भर्ती रैली में गया था। दौड़ में अव्वल रहने के चलते उसका पहले स्तर पर चयन हो गया, लेकिन वह आगे की परीक्षा में अब हिस्सा नहीं ले पाएगा, क्योंकि गुरुवार को ही उसके पैर का ऑपरेशन हुआ है।