Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» 30 Thousand Children Read Together Dainik Bhaskar

30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ

भास्कर के सामाजिक सरोकार से जुड़े लोग, जुटे स्कूल, बनाया कीर्तिमान

Bhaskar News | Last Modified - Jan 24, 2018, 06:39 AM IST

  • 30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ
    +4और स्लाइड देखें

    जोधपुर. दैनिक भास्कर के सामाजिक सरोकार के तहत मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे से 200 स्कूलों के बच्चे बरकतुल्लाह खान स्टेडियम पहुंचना शुरू हो गए। सुबह नौ बजे पूरा स्टेडियम खचाखच भर गया। सुबह दस बजे तक वहां पहुंचे हजारों बच्चों में से दस हजार बच्चे डिजाइन आर्किटेक्चर राजेश शर्मा और उनकी टीम के निर्देशानुसार अशोक चक्र बनाने की तैयारियों में जुट गए। यह डिजाइन फ्लैग कोड ऑफ इंडिया के मानकों के अनुसार तैयार की गई। यह पहला अवसर था जब इतनी बड़ी संख्या में बच्चों ने एक स्थान पर एकत्र हो अशोक चक्र का निर्माण किया। इसके बाद इस विशेष आयोजन में हजारों बच्चों ने एक स्वर में स्वच्छता बनाए रखने में सहयोग देने के साथ ही बेटी बचाओ व बेटी पढ़ाओ का संकल्प लिया। आयोजन का समापन राष्ट्रगान से हुआ। स्टेडियम के अंदर व बाहर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रही। कदम-कदम पर दैनिक भास्कर के कर्मचारी व स्वयंसेवक बच्चों का मार्गदर्शन कर रहे थे।


    समारोह के अतिथि
    महापौर घनश्याम ओझा, जेडीए चेयरमैन प्रो. महेंद्रसिंह राठौड़, जेएनवीयू के वीसी प्रो. आरपी सिंह, अतिरिक्त संभागीय आयुक्त वंदना सिंघवी, कलेक्टर डॉ. रविकुमार सुरपुर, अमर आदेश्वर इन्फ्रास्ट्रक्चर के चेयरमैन अशोक छाजेड़ और डायरेक्टर डीआर जैन, सेंट्रल एकेडमी के निदेशक अंकित वत्स मिश्रा, गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकाॅर्ड्स से आलोक कुमार और मनोज कुमार सिंह, लॉ प्रेप ट्यूटोरियल के डायरेक्टर सागर जोशी, श्रीराम हॉस्पिटल के चेयरमैन सुनील चांडक, जेएनवीयू के एनएसएस प्रभारी प्रो. जैताराम विश्नोई, सुनील डेवलपर्स एंड बिल्डर्स के सुनील भंडारी, अपेक्स स्कूल के डायरेक्टर रामनिवास चौधरी, एसएस टाइल्स से किशोरसिंह शेखावत, आईएनआईएफडी के नवीन मोहनोत, संजय स्टूडियो के अशोक कन्नौजिया और जानकी एडवरटाइजिंग के प्रवीण गर्ग अतिथि थे। समारोह में ब्लेड रनर संगीता विश्नोई और जोधपुर में सबसे ज्यादा रक्तदान करने वाले तरुण कटारिया भी मौजूद थे।


    विशिष्ट सहयोगी
    अमर आदेश्वर इन्फ्रास्ट्रक्चर, सेंट्रल एकेडमी स्कूल, आईआईटी-मेडिकल एकेडमी, पारस ब्लड बैंक, श्रीराम हॉस्पिटल, बच्छराज यूनीफॉर्म, सुनील डेवलपर्स एंड बिल्डर्स, लॉ प्रेप ट्यूटोरियल, मनोहर पुस्तक भंडार, नगर निगम और जेडीए।


    सहयोगी
    संजय स्टूडियो, एसएस टाइल्स, एटीबी सिक्योरिटी, श्रीराम सिक्योरिटी, एमआर ट्रेवल्स, लक्ष्मी ट्रेवल्स, आईएनआईएफडी, सोलंकी लाइट्स, ए-वन टेंट हाउस और पुलिस कमिश्नरेट जोधपुर, एनएसएस।

    शहर में एक साथ हजारों स्कूली बच्चों को एक जगह एकत्रित कर बेटी बचाआे, बेटी पढ़ाआे आैर शहर को साफ-सुथरा रखने का संदेश देने के लिए दैनिक भास्कर ने अनूठा आयोजन किया।
    -घनश्याम आेझा, महापौर


    कई सालों बाद शहर में इतना बड़ा व सफल कार्यक्रम हुआ, जिससे पहचान बढ़ेगी। इसमें दैनिक भास्कर ने बच्चों, शिक्षकों व अभिभावकों को एक साथ लिंग भेद को दूर करने व स्वच्छ रखने की शपथ दिलाई, वाकई अनूठा रहा।
    डॉ. एमएस राठौड़, अध्यक्ष, जेडीए

    भास्कर की ओर से किया गया यह प्रयास अविस्मरणीय है। हजारों बच्चों व शहरवासियों की मौजूदगी में बेटी बचाने व शहर को स्वच्छ रखने का संकल्प किया गया है, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। प्रेरणा के लिए बनाए गए चार रिकाॅर्ड भी आज से पहले कभी नहीं बने। ये शहर के इतिहास में हमेशा याद किए जाएंगे।
    - वंदना सिंघवी, अतिरिक्त संभागीय आयुक्त, जोधपुर


    दैनिक भास्कर ने शहर में बहुत ही उम्दा कार्यक्रम आयोजित किया। यह ऐसा कार्यक्रम था, जिसमें शामिल होने वाले हर शख्स को गर्व महसूस हुआ। बेटी बचाआे, बेटी पढ़ाआे व शहर काे स्वच्छ रखने की शपथ दिलाने का क्षण सीना चौड़ा करने वाला था।
    - प्रो. आरपी सिंह, कुलपति, जेएनवीयू

  • 30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
  • 30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
  • 30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
  • 30 हजार बच्चों ने एक साथ पढ़ा दैनिक भास्कर, 12 हजार ने ली स्वच्छता की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jodhpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 30 Thousand Children Read Together Dainik Bhaskar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×