--Advertisement--

पत्नी को मायके से लाने की जिद पर बिजली के खंभे पर चढ़ा युवक, ढाई घंटे बाद कूदा

प्रतापगढ़ जिला अस्पताल परिसर में ड्रामा, अधिकारी भी उतार नहीं पाए, कूदने से हाथ-पैर टूटे

Danik Bhaskar | Feb 19, 2018, 07:55 AM IST

प्रतापगढ़. पीपलखूंट क्षेत्र के मुडासेल गांव के गोविंद (45) उर्फ गोपाल पुत्र रत्ना मीणा ने रविवार सुबह जिला अस्पताल में लगे बिजली के खंभे पर चढ़कर ढाई घंटे तक ड्रामा किया। वह पत्नी के पीहर जाने से क्षुब्ध था। खंभे पर उसके चढ़ने के पांच मिनट बाद ही बिजली सप्लाई बंद करवा दी। इससे हादसा टल गया। मदद करने के लिए पहुंचे कर्मचारियों से वह पूर्व संसदीय सचिव नानालाल निनामा से बात करवाने की बात कह रहा था।

घटना को लेकर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे। नगर परिषद के फायर ब्रिगेड कर्मचारियों ने सीढ़ी लगाकर उसे उतारने का प्रयास किया तो वह 20 फीट की ऊंचाई से नीचे कूद गया। इससे उसका हाथ और पैर फ्रैक्चर हो गया। प्राथमिक उपचार कर उसे उदयपुर रेफर कर दिया है। परिवार वालों के अनुसार युवक मानसिक रूप से परेशान बताया जा रहा है।

पुलिसकर्मी नीचे उतरने की मिन्नतें करते रहे, युवक कहता रहा-पूर्व संसदीय सचिव निनामा से बात करवाओ
अस्पताल पुलिस चौकी प्रभारी, जाप्ता और मौके पर जुटे लोगों ने युवक को नीचे उतारने की कोशिश शुरू की। इस बीच तहसीलदार योगेन्द्र जैन, डिप्टी शैतान सिंह, शहर कोतवाल बाबूलाल मय जाप्ता मौके पर पहुंच गए। उन्होंने उसे नीचे उतरने को कहा, लेकिन वह नहीं माना। कुछ ही देर में नगर परिषद से फायर ब्रिगेड कर्मचारी दमकल वाहन के साथ पहुंच गए। मदद में जुटे लोगों से युवक पूर्व संसदीय सचिव नानालाल निनामा से बात करवाने की बात कहता रहा।