जोधपुर

--Advertisement--

सामराऊ में ग्रामीणों के घर जलाने और गहने लूटने की घटना पर आज आईजी तलब

भास्कर में खबर प्रकाशित होने के बाद हाईकोर्ट ने लिया प्रसंज्ञान

Danik Bhaskar

Jan 18, 2018, 04:24 AM IST

जोधपुर. ओसियां क्षेत्र के सामराऊ गांव में शराब ठेकेदार हनुमानराम सांई की हत्या के बाद हुए उपद्रव पर राजस्थान हाईकोर्ट के न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास व विनीत कुमार माथुर की खंडपीठ ने स्वप्रेरणा से प्रसंज्ञान लेते हुए लेते हुए रिपोर्ट तलब की है। इस मामले में अगली सुनवाई 18 जनवरी को मुकर्रर करते हुए पुलिस महानिरीक्षक को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहने के निर्देश दिए हैं। बुधवार को कोर्ट में सुनवाई शुरू होते ही अधिवक्ता भंवरसिंह तामड़िया ने खंडपीठ के समक्ष दैनिक भास्कर के बुधवार के अंक में प्रकाशित समाचार का जिक्र किया।

तामड़िया ने कहा, कि सामराऊ में पिछले तीन दिन से आतंक छाया हुआ है। मृतक और हत्या करने वालों के बीच आपसी रंजिश थी, लेकिन गांव के निर्दोष लोगों के घर जलाए जा रहे हैं, इससे वे दहशत में हैं। जिनके घर में शादी होने वाली है, उनके घर लूट लिए गए, लुटेरे ब्याह में दिए जाने वाले गहने भी लूट ले गए।

अधिवक्ता का कहना था, कि पुलिस व जिला प्रशासन नागरिकों को सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए कोई गंभीर प्रयास नहीं कर रहे। कोर्ट ने स्वप्रेरणा से प्रसंज्ञान लेते हुए पुलिस महानिरीक्षक व जिला प्रशासन को नागरिकों काे सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए कदम उठाने और उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। कोर्ट ने संबंधित थानाधिकारी को बुलाने के लिए अतिरिक्त महाधिवक्ता शिवकुमार व्यास को कहा।

इस पर अधिवक्ता तामड़िया ने कोर्ट से आग्रह किया, कि यह मामला तीन-चार थाना क्षेत्रों से संबंधित होने के साथ संवेदनशील भी है, इसलिए आईजी को बुलाया जाए। इस पर कोर्ट ने एएजी व्यास को पुलिस महानिरीक्षक के नाम नोटिस देते हुए गुरुवार को नागरिकों को सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए उठाए गए कदमों की रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए।

पुलिस महानिरीक्षक को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहने को कहा गया है। एएजी व्यास ने बताया कि घटना के बाद पुलिस ने 11 जनों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज कर लिया है। आगजनी की घटना पर लोहावट थाने में 17 और देचू थाने में एक मुकदमा दर्ज किया गया है।

आगजनी, पथराव, लूटपाट में 12 गिरफ्तार

सामराऊ में निर्दोष लोगों के घरों व दुकानों में आग लगाने, तोड़फोड़ व लूटपाट करने के साथ पुलिस पर पथराव करने के मामले में आरोपियों की धरपकड़ में जुटी पुलिस टीमों ने बुधवार रात तक 12 बदमाशों को गिरफ्तार किया है।

ग्रामीण पुलिस के अनुसार सामराऊ, भेड़ गांव व चामू में आगजनी की घटनाओं के संबंध में दर्ज प्रकरणों के साथ पुलिस की ओर से राजकार्य में बाधा पहुंचाने सहित अन्य धाराओं में करीब डेढ़ दर्जन केस दर्ज किए जा चुके हैं। इनमें बदमाशों की धरपकड़ के लिए गठित पुलिस की विशेष टीमें बुधवार देर रात तक संभावित ठिकानों पर दबिश देती रही।

इस दौरान बुधवार को पुलिस ने आगजनी व राजकार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में भीकमकोर के कृष्ण नगर निवासी अशोक विश्नोई पुत्र बाबूराम, लोहावट जाटावास निवासी लक्ष्मणराम जाट पुत्र दलाराम व इसके भाई ओमप्रकाश, लोहावट निवासी पोकरराम उर्फ पुखराज जाट पुत्र फूसाराम, लोहावट के रूपाणा-जैताणा निवासी मनोज कुमार जाट पुत्र पोकरराम व भंवराराम जाट पुत्र उमाराम, भीकमकोर के भैंसेर कूतरी निवासी भीखाराम जाट पुत्र गोपाराम, लोहावट जाटावास निवासी प्रकाश उर्फ धीरज कुमार जाट पुत्र चनणाराम, लोहावट के सारण नगर निवासी शंकरलाल जाट पुत्र भोमाराम, ओसियां के भैरू सागर निवासी पृथ्वीराज जाट पुत्र चूनाराम और लोहावट के मोती नगर निवासी मुन्नाराम जाट पुत्र भल्लूराम को गिरफ्तार किया है।

मर्डर केस के आरोपी रिमांड पर
हनुमान सांई की हत्या के मामले में गिरफ्तार लोड़ता निवासी कानसिंह (22) पुत्र पन्नेसिंह, नाथड़ाऊ निवासी श्रवणसिंह (20) पुत्र अनोप सिंह, सुखमंडला निवासी हेमाराम जाट (19) पुत्र जुगताराम और सवाईसिंह (19) पुत्र अचलसिंह को पुलिस ने बुधवार को कोर्ट में पेश किया। वहां से चारों को 12-12 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। इसी प्रकरण में बुधवार को पुलिस ने लोड़ता निवासी दलपतसिंह पुत्र पन्नेसिंह को गिरफ्तार किया है।

चामू में भी आरोपी गिरफ्तार
चामू कस्बे में स्थित एक फव्वारा पाइप फैक्ट्री में आग लगाने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। देचू थानाधिकारी बाघसिंह ने बताया, कि चामू निवासी जितेंद्र सिंह पुत्र वीरेंद्र सिंह की ओर से केस दर्ज कराया गया था। इसमें बताया, कि बारनाऊ के बिगादेवनगर निवासी पप्पूराम जाट पुत्र बाबूराम ने 15 जनवरी की रात उसकी फैक्ट्री में घुसकर आग लगा दी थी। पप्पूराम को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

मेड़तिया परिवार ने पीड़ितों के लिए दिए एक लाख रुपए

मराऊ में एक युवक की हत्या के बाद हुई हिंसा और आगजनी में निर्दोष लोगों के घरों व दुकानों को आग लगाने के मामले में बुधवार को दैनिक भास्कर में ‘पसीने से सींच बरसों में बसाए थे दुकान-आशियाने, उपद्रवियों ने बेरहमी से जलाया, बेटियों के ब्याह के गहने तक लूट ले गए’ शीर्षक से खबर प्रकाशित कर पीड़ित परिवारों की व्यथा को उजागर किया था। अब इन पीड़ित परिवारों की मदद के लिए भी भामाशाह आगे आने लगे हैं।

इसी कड़ी में पंचायतीराज बचत व साख सहकारी समिति के चेयरमैन शंभूसिंह मेड़तिया के परिवार की ओर से एक लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा की गई है। इसके साथ ही समिति के माध्यम से सामराऊ पुनर्निर्माण समिति गठन कर सदस्यों से सहयोग राशि संकलन शुरू किया है। मेड़तिया ने पीड़ित परिवारों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 10-10 लाख रु. दिलाने की मांग की है।

Click to listen..