--Advertisement--

सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है चक्रवाती तूफान ओखी, राजस्थान के मौसम में होगा बदलाव

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2017, 06:18 AM IST

अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुंचेगा और राजस्थान के कुछ जिलों को छूता हुआ निकल जाएगा।

Cyclonic storm is moving towards Saurashtra

जोधपुर. अरबसागर से उठा चक्रवाती तूफान ओखी सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुंचेगा और राजस्थान के कुछ जिलों को छूता हुआ निकल जाएगा। इसका कुछ असर राजस्थान के सभी जिलों में भी दिखाई देगा, लेकिन महाराष्ट्र गुजरात के कुछ हिस्सों में इस तूफान से तबाही हो सकती है। मौसम विभाग की ओर से कई राज्य सरकारों को चेतावनी जारी कर दी गई है। मौसम विभाग के अनुसार यह सीवियर साइक्लोन है। यह चक्रवात शनिवार शाम को लक्षद्वीप से गुजर रहा था। इसकी वजह से चलने वाली हवाओं की गति 150 किलोमीटर प्रतिघंटा से ज्यादा है। मौसम विभाग के अनुसार यह साइक्लोन केरल, मुंबई गुजरात से होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ेगा। इसकी वजह से केरल, मुंबई के अलावा दक्षिणी गुजरात, यानी सूरत, वड़ोदरा, खंभात की खाड़ी क्षेत्र में नुकसान की आशंका है। वहीं राजस्थान के बांसवाड़ा, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर सिरोही में इसका असर दिखाई देगा। शेष राजस्थान में तेज हवाएं चलेंगी बादल छाएंगे, जिससे केवल तापमान में बदलाव दिखाई देगा।

बांग्लादेश ने दिया इसका नाम

इस साइक्लोन का ओखी नाम बांग्लादेश की तरफ से दिया गया है। इसका अर्थ है- नजर रखने वाला अथवा निगाह रखने वाला। इससे पहले साइक्लोन बंगाल की खाड़ी में विकसित हुआ था, जिसे श्रीलंका ने मौरा नाम दिया था। वहीं अगला जो भी साइक्लोन आएगा, उसका नाम सागर होगा, जो भारत की ओर से दिया गया है।

गुजरात के बाद गति कम हो जाएगी
साइक्लोन लक्षद्वीप से चलते हुए केरल, मुंबई, सूरत, वड़ोदरा, खंभात की खाड़ी होते हुए राजस्थान के बॉर्डर एरिया को छुएगा। विभाग की ओर से इस साइक्लोन के लिए गुजरात, गोवा, महाराष्ट्र, कर्नाटक, दमन-दीव, पुद्दुचेरी, केरल लक्षद्वीप के लिए चेतावनी जारी की गई है। गुजरात के बाद इसकी गति कम हो जाएगी, राजस्थान में थोड़ा बहुत असर दिखाएगा।
-डीपी दुबे, पूर्वनिदेशक, मौसम विभाग भोपाल

X
Cyclonic storm is moving towards Saurashtra
Astrology

Recommended

Click to listen..