Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» Cyclonic Storm Is Moving Towards Saurashtra

सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है चक्रवाती तूफान ओखी, राजस्थान के मौसम में होगा बदलाव

अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुंचेगा और राजस्थान के कुछ जिलों को छूता हुआ निकल जाएगा।

Bhaskar news | Last Modified - Dec 03, 2017, 06:18 AM IST

सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है चक्रवाती तूफान ओखी, राजस्थान के मौसम में होगा बदलाव

जोधपुर. अरबसागर से उठा चक्रवाती तूफान ओखी सौराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुंचेगा और राजस्थान के कुछ जिलों को छूता हुआ निकल जाएगा। इसका कुछ असर राजस्थान के सभी जिलों में भी दिखाई देगा, लेकिन महाराष्ट्र गुजरात के कुछ हिस्सों में इस तूफान से तबाही हो सकती है। मौसम विभाग की ओर से कई राज्य सरकारों को चेतावनी जारी कर दी गई है। मौसम विभाग के अनुसार यह सीवियर साइक्लोन है। यह चक्रवात शनिवार शाम को लक्षद्वीप से गुजर रहा था। इसकी वजह से चलने वाली हवाओं की गति 150 किलोमीटर प्रतिघंटा से ज्यादा है। मौसम विभाग के अनुसार यह साइक्लोन केरल, मुंबई गुजरात से होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ेगा। इसकी वजह से केरल, मुंबई के अलावा दक्षिणी गुजरात, यानी सूरत, वड़ोदरा, खंभात की खाड़ी क्षेत्र में नुकसान की आशंका है। वहीं राजस्थान के बांसवाड़ा, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर सिरोही में इसका असर दिखाई देगा। शेष राजस्थान में तेज हवाएं चलेंगी बादल छाएंगे, जिससे केवल तापमान में बदलाव दिखाई देगा।

बांग्लादेश ने दिया इसका नाम

इस साइक्लोन का ओखी नाम बांग्लादेश की तरफ से दिया गया है। इसका अर्थ है- नजर रखने वाला अथवा निगाह रखने वाला। इससे पहले साइक्लोन बंगाल की खाड़ी में विकसित हुआ था, जिसे श्रीलंका ने मौरा नाम दिया था। वहीं अगला जो भी साइक्लोन आएगा, उसका नाम सागर होगा, जो भारत की ओर से दिया गया है।

गुजरात के बाद गति कम हो जाएगी
साइक्लोन लक्षद्वीप से चलते हुए केरल, मुंबई, सूरत, वड़ोदरा, खंभात की खाड़ी होते हुए राजस्थान के बॉर्डर एरिया को छुएगा। विभाग की ओर से इस साइक्लोन के लिए गुजरात, गोवा, महाराष्ट्र, कर्नाटक, दमन-दीव, पुद्दुचेरी, केरल लक्षद्वीप के लिए चेतावनी जारी की गई है। गुजरात के बाद इसकी गति कम हो जाएगी, राजस्थान में थोड़ा बहुत असर दिखाएगा।
-डीपी दुबे, पूर्वनिदेशक, मौसम विभाग भोपाल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×