--Advertisement--

कागज फैक्ट्री में आग, 11 घंटे में 10 दमकल ने 100 फेरे लगाकर बुझाई

सांगरिया सैकंड फेज गोशाला के पास स्थित फैक्ट्री में शनिवार मध्यरात्रि की घटना

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 05:41 AM IST

जोधपुर. सांगरिया सैकंड फेज गोशाला के पास हैंडीक्राफ्ट का सामान पैकिंग करने के कार्टन बनाने की एक फैक्ट्री में शनिवार मध्यरात्रि करीब 1:15 बजे आग लग गई। इसे बुझाने में फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियों के 30 से अधिक स्टाफ ने 11 घंटे की मशक्कत की। गाड़ियों ने करीब सौ फेरे किए।


सांगरिया सैकंड फेज रामदेव स्टोन के पास कागज के कार्टन बनाने की यह फैक्ट्री स्थित है। इसमें शनिवार रात अचानक आग लग गई। पड़ोस की फैक्ट्री में रात्रिकालीन ड्यूटी पर रहने वाले पुखराज ने बासनी फायर स्टेशन व पुलिस कंट्रोल रूम को आग की सूचना दी।

सूचना मिलते ही बासनी से चार, मंडोर से एक, शास्त्री नगर से तीन और नागौरी गेट से दो दमकल मौके पर पहुंच गईं। आग इतनी भीषण थी कि रविवार को दोपहर 12:30 बजे काबू पाया जा सका।

सूचना मिलने पर मौके पर फायर अधिकारी हरीश थानवी, सुरेंद्रसिंह, हेमराज, प्रशांतसिंह चौहान, जितेंद्रसिंह, किशनाराम, जीवनराम, ओमाराम, देवेंद्र, निंबाराम, प्रदीपसिंह, दलपत कलाल, गेनाराम, शैलेंद्रसिंह आदि मौके पर पहुंच गए। इस दौरान मौके पर बासनी, कुड़ी भगतासनी और लूणी हलके से भी पुलिस का जाब्ता आ गया।

आसपास की फैक्ट्रियां चपेट में आने से बची

राजगोपाल-श्यामसुंदर राठी नाम से संचालित फैक्ट्री मालिक के साले मुकेश गर्ग ने बताया, कि फैक्ट्री में कागज के कार्टन के अलावा अनार के छिलके से पाउडर बनाने का काम भी होता था। फैक्ट्री में आग के कारण आसपास की फैक्ट्रियों के पास पहुंच गई, लेकिन समय रहते दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पा लिया।