--Advertisement--

यात्रीगण ध्यान दें, ‘हमसफर’ पीपाड़ में खड़ी है, तारीख-ऐलान न होने से देरी से चलने की संभावना

बांद्रा के लिए भी हमसफर एक्सप्रेस व रामेश्वरम के लिए नई ट्रेन चलेगी, बजट घोषणा से ऐन पहले चला सकते हैं

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 07:16 AM IST

जोधपुर. शहर के उपनगरीय स्टेशन भगत की कोठी से तांबरम (चेन्नई से 25 किमी आगे) के लिए नई हमसफर ट्रेन का एलएचबी रैक जोधपुर भेज दिया गया है। यह फिलहाल पीपाड़ सिटी में एक साइड में खड़ा किया गया है। टाइम-टेबल पहले से तय है। इतना सबकुछ होने के बाद भी अब तक तारीख का एेलान नहीं होने से यह चल नहीं पाई है। उम्मीद है कि आम बजट के बाद इसे झंडी दिखा दी जाएगी।

इधर, बांद्रा के लिए भी हमसफर ट्रेन जल्द चलाई जाएगी। आम बजट में भले ही नई ट्रेन नहीं मिले, रेलवे बोर्ड ने जोधपुर के रास्ते हिसार व रामेश्वरम के बीच नई ट्रेन और जोधपुर-दिल्ली के बीच चल रही एक ट्रेन को ब्रह्मपुत्र मेल से जोड़कर डिब्रूगढ़ चलाने की योजना अंतिम स्तर पर है। वहीं, जोधपुर व बिलासपुर के बीच चल रही ट्रेन अब रायपुर व बिलासपुर के बीच तेज गति से चलेगी। इससे यात्रा समय में 15 से 20 मिनट की कमी आएगी।

जोधपुर-जयपुर के बीच नॉन स्टॉप चलेगी

रेलवे ने गत एक नवंबर से लागू की नई समय-सारिणी में जोधपुर के लिए दो नई हमसफर ट्रेन शामिल की थी। तांबरम के लिए ट्रेन संख्या 14815 भगत की कोठी से प्रत्येक बुधवार दोपहर 3:20 बजे रवाना होकर शुक्रवार सुबह 9:55 बजे चेन्नई और 10:45 बजे तांबरम पहुंचेगी। वापसी में तांबरम से ट्रेन संख्या 14816 प्रत्येक शुक्रवार शाम 7:15 बजे रवाना होकर शाम 7:45 बजे चेन्नई और रविवार शाम 7:00 बजे जोधपुर होते हुए 7:30 बजे भगत की कोठी पहुंचेगी। यह जोधपुर व जयपुर के बीच नॉन स्टाप चलेगी। इधर, दूसरी हमसफर ट्रेन जोधपुर-बांद्रा टर्मिनस के लिए भी रैक तैयार है। इसे भी जल्द जोधपुर भेजा जाएगा।

ब्रह्मपुत्र मेल को जोधपुर तक बढ़ाने का प्रस्ताव
दिल्ली से डिब्रूगढ़ (असम) तक चल रही ब्रह्मपुत्र मेल, संख्या 14055/56 को जोधपुर तक बढ़ाने की भी तैयारी है। पता चला है कि इसे जोधपुर-दिल्ली के बीच चलने वाली ट्रेन संख्या 22421/22 के साथ लिंक कर विस्तार दिया जाएगा। रेलवे बोर्ड स्तर पर इसके लिए कवायद चल रही है। राजस्थान के कई सांसद व विधायकों ने भी इसके लिए प्रस्ताव दिए हैं। हालांकि कुछ जनप्रतिनिधि इसे गंगानगर तक ले जाने की मांग भी कर रहे हैं। उत्तर-रेलवे ने इस ट्रेन के विस्तार के लिए सहमति भी दे दी है।


बिलासपुर एक्स. 140 की स्पीड से भी दौड़ेगी
जोधपुर से बिलासपुर जाने वाली एक्सप्रेस ट्रेन अब रायपुर व बिलासपुर के बीच 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेगी। दरअसल, रेलवे बोर्ड ने रायपुर व बिलासपुर के बीच एलएचबी कोच वाली ट्रेनों की स्पीड 25 किमी प्रति घंटे बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इस रूट पर पांच एलएचबी रैक वाली ट्रेनें हैं। इनमें एक भगत की कोठी-बिलासपुर भी है। दोनों स्टेशनों के बीच 20 से 25 मिनट का सफर कम होने से यात्री मौजूदा समय से कुछ जल्दी पहुंच सकेंगे।

रामेश्वरम के लिए भी ट्रेन का रूट तय

उत्तर भारत से दक्षिण भारत को जोधपुर के रास्ते जोड़ने के लिए हिसार-रामेश्वरम के बीच नई ट्रेन का रूट भी तय हो चुका है। उ.प. रेलवे जोन के भेजे प्रस्ताव को वाणिज्यिक रूप से उपयुक्त माना गया है। यह ट्रेन सादुलपुर, रतनगढ़, डेगाना, जोधपुर, मारवाड़ जंक्शन, अहमदाबाद, सूरत व सिकंदराबाद के रास्ते प्रस्तावित है। यह 3537 किमी का सफर तय करेगी। इसे अकोला-पूर्णा रेलमार्ग से चलाया जा सकता है। इस ट्रेन के लिए बीकानेर के सांसद ने भी रेल मंत्रालय को प्रस्ताव दिया था।