--Advertisement--

भास्कर टीम रियलिटी चैक: हाईकोर्ट की फटकार भी दरकिनार, 48 घंटे बाद भी गंदगी के ढेर

भास्कर टीम भी इसी आस के साथ शनिवार को दो बड़े सरकारी अस्पतालों की सफाई व्यवस्था का रियलिटी चैक करने पहुंची।

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 07:06 AM IST
hospitals cleanliness reality check by bhaskar

जोधपुर. शहर के तीनों बड़े सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था सुधारने को लेकर हाईकोर्ट ने पूरा प्रयास किया। तीनों अधीक्षकों को हाईकोर्ट बुलाया। खंडपीठ ने उनसे मौखिक रूप से पूछा- क्या आपकी पत्नी-बच्चे ऐसे गंदे शौचालयों का इस्तेमाल करेंगे? हाईकोर्ट कमेटी की रिपोर्ट मय फोटो बताकर आईना दिखाया। उम्मीद बंधी कि शायद अब जिम्मेदारों द्वारा तत्काल एक्शन लेकर हॉस्पिटल्स को गंदगी-अव्यवस्था से मुक्त किया जाएगा।

- भास्कर टीम भी इसी आस के साथ शनिवार को दो बड़े सरकारी अस्पतालों की सफाई व्यवस्था का रियलिटी चैक करने पहुंची। निराशाजनक रूप से हर तरफ फिर वही अव्यवस्थाएं दिखीं। अस्पताल प्रबंधन हालांकि सफाईयां दे रहे हैं, मगर नजारे सारी हकीकत बयां कर रहे हैं।

कमेटी ने हमें कल ही फोटो दिखाई थी, जिसमें टॉयलेट और ड्रिंकिंग वॉटर में साफ सफाई नहीं हुई थी। मैंने आज राउंड लिया है। पीडब्ल्यूडी के अफसर और सफाई के इंचार्ज भी साथ थे। उनको सारे पॉइंट दिखा दिए हैं, सफाई के साथ सारी कमियां दूर कर देंगे।

-डॉ. एसएस राठौड़, अधीक्षक, एमडीएमएच

कमेटी के जाने के बाद रात को भी अस्पताल का राउंड लिया और आज सुबह भी। कमियों को दूर कर नियमित मॉनिटरिंग करने के लिए कुछ निर्देश जारी किए हैं। इसके अलावा कुछ प्लान भी बनाए हैं, जल्द सफाई व्यवस्था पटरी पर लाएंगे।

- डॉ. पीसी व्यास, अधीक्षक, एमजीएच

hospitals cleanliness reality check by bhaskar
X
hospitals cleanliness reality check by bhaskar
hospitals cleanliness reality check by bhaskar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..