Hindi News »Rajasthan News »Jodhpur News »News» Defence Minister Nirmala Sitaraman Fly Su-30 From Jodhpur Air Base

सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात

bhaskar.com | Last Modified - Jan 17, 2018, 05:55 PM IST

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को जोधपुर एयर बेस से देश के सबसे एडवांस फाइटर जेट सुखोई से उड़ान भरी।
    • सुखोई फाइटर के कॉकपिट में सवार ये है रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण।

      जोधपुर। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को अपना नाम इतिहास में दर्ज करा लिया। देश के सबसे एडवांस फाइटर जेट सुखोई को उड़ाने वाली वह पहली महिला बनी। रक्षा मंत्री ने ध्वनि से तेज रफ्तार से उड़ान भरने वाले सुखोई में बुधवार दोपहर ठीक एक बजे उड़ान भरी। ऐसे भरी उड़ान…

      - रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण बुधवार सुबह दिल्ली से जोधपुर पहुंची। इसके बाद सुखोई में उड़ान भरने के लिए उन्होंने स्वयं को तैयार किया। इंडियन एयर फोर्स के पायलट की ड्रेस पहन वे पहले उड़ान से जुड़ी जानकारी हासिल करने पहुंची। स्टेशन कमांडर सहित अन्य पायलट्स ने उन्हें उड़ान के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत कराया।

      - रक्षा मंत्री ने काफी देर तक पायलट्स से सुखोई के बारे में सवाल कर अपनी जिज्ञासा को शांत किया। इसके बादएक पायलट के समान आत्मविश्वास से लबरेज रक्षा मंत्री सधे कदमों के साथ रनवे पर खड़े फाइटर जेट की तरफ बढ़ी।

      - को पायलट की भूमिका में रक्षा मंत्री पहले कॉकपिट में सवार हुई। इसके बाद फाइॉर के पायलट। रनवे पर विमान के रवाना होते ही रक्षा मंत्री हाथ ऊंचा कर सभी का अभिवादन किया। देखते ही देखते रनवे पर दौड़ता उनका विमान आसमान की ऊंचाइयों पर पहुंच गया।

      सुखोई में उड़ान का ऐसे बताया अनुभव…

      - रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार दोपहर जोधपुर एयर बेस से फाइटर जेट एसयू-30 एमकेआई से उड़ान भरी। ग्रुप कैप्टन गर्ग के सानिध्य में करीब आधा घंटा तक उड़ान पर एयर बेस पर लौटी रक्षा मंत्री ने अपने अनुभव साझा किए।

      - उन्होंने बताया कि यह देश में ही निर्मित सुखोई फाइटर है। उड़ान के दौरान ग्रुप कैप्टन गर्ग ने मुझे शांत बनाए रखा। उन्होंने ध्वनि से अधिक गति के साथ इसे उड़ाया और हम दोनों माउंट एवरेस्ट से भी अधिक ऊंचाई तक गए। इस दौरान मिले अनुभव व रोमांच को मैं कभी नहीं भूला पाऊंगी।

      - उन्होंने कहा कि सही मायने में मेरे लिए यह आंखें खोलने वाला अनुभव रहा। इससे मुझे यह मालूम पड़ा कि इंडियन एयर फोर्स के पायलट्स कैसे अपने आप को हमेशा तैयार रखते है। साथ ही मैने यह जाना कि विषम परिस्थितियों में वे कितना जल्दी स्वयं को तैयार कर अपने फाइटर के साथ आसमान में पहुंच सकते है। इससे उनके रेस्पॉस टाइम को समझने का मौका मिला।

      - रोमांच से भरी इस उड़ान के पश्चात मैं इतना आश्वस्त कर सकती हूं कि हमारी एयर फोर्स बेस्ट है और पायलट्स किसी भी स्थिति से निपटने में पूर्णतया सक्षम है। इसमें किसी को संशय न तो पहले था और न होगा।

      ऐसा है फाइटर जेट सुखोई

      - जब हमारा लड़ाकू विमान सुखोई-30एमकेआई उड़ान भरता है तो फिर आसमान में उसी का वर्चस्व होता है। अपने आप में कई खूबियों को समेटे यह विमान हर तरह की परिस्थितियों में दुश्मन के किसी भी विमान के मुकाबले कई मायनों में बेहतर माना जाता है। भारत के पास अभी 220 सुखोई विमान है।

      - यह 2600 किलोमीटर प्रति घंटा, एक बार में तीन हजार किलोमीटर की दूरी तक हमला बोल सकता है। हवा से हवा में ईंधन ले यह आठ हजार किलोमीटर तक जा सकता है। यह आठ हजार किलोग्राम भार के चौदह बम ले जा सकता है। अब इसे ब्रम्होस मिसाइल ले जाने में भी सक्षम बना दिया गया है।

      - सुखोई तीन सौ पचास किलोमीटर दूर तक नजर रख एक साथ बीस लक्ष्यों को देख सकता है। आठ सबसे खतरनाक लक्ष्य की पहचान कर उन्हें भेद सकता है। इसमें लगी वार्निंग यूनिट इसकी तरफ बढ़ रही किसी भी मिसाइल के बारे में काफी पहले से बता कर बचाव का पूरा समय उपलब्ध कराता है। साथ ही उस मिसाइल को जाम करने की क्षमता भी रखता है। यह विमान सैटेलाइट नेविगेशन से जुड़ा होने के कारण खराब से खराब मौसम में भी अासानी से उड़ान भर हमले बोल सकता है।

    • सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात
      +5और स्लाइड देखें
      सुखोई में उड़ान भरने से पूर्व अपने पायलट के साथ रक्षा मंत्री।
    • सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात
      +5और स्लाइड देखें
      विमान के बारे में जानकारी लेती रक्षा मंत्री।
    • सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात
      +5और स्लाइड देखें
      रक्षा मंत्री को लेकर रनवे पर रवाना होता सुखोई।
    • सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात
      +5और स्लाइड देखें
      इस तरह सुखोई में सवार हुई रक्षा मंत्री।
    • सुखोई के कॉकपिट में ऐसे बैठी डिफेंस मिनिस्टर, पायलट ने यूं समझाई अपनी बात
      +5और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jodhpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Defence Minister Nirmala Sitaraman Fly Su-30 From Jodhpur Air Base
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From News

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×