--Advertisement--

सामराऊ में बेकाबू हुए हालात, भीड़ ने एक दर्जन मकानों व दुकानों में लगाई आग

सामराऊ गांव में एक शराब ठेकेदार की हत्या को लेकर उपजा विवाद थमने का नाम नहीं रहा है।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 07:48 PM IST
जोधपुर जिले के सामराऊ गांव में भीड़ ने एक दुकान में आग लगा दी। जोधपुर जिले के सामराऊ गांव में भीड़ ने एक दुकान में आग लगा दी।

जोधपुर। जोधपुर जिले के सामराऊ में रविवार शाम एक युवक की हत्या को लेकर उपजा विवाद बढ़ता जा रहा है। आक्रोशित ग्रामीणों ने आज दिनभर मृतक का शव घटनास्थल से उठाने नहीं दिया। वहीं कल देर रात कई दुकान और वाहन जलाने के बाद आज शाम बेकाबू भीड़ ने सामराऊ में व्यापक स्तर पर तोड़फोड़ करते हुए करीब एक दर्जन मकान को आग के हवाले कर दिया। बेकाबू होते हालात से निपटने के लिए जोधपुर से बड़ी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है। ऐसे है हालात…

- सामराऊ गांव में कल शाम शराब ठेकेदार और अवैध तरीके से शराब बेचने वालों के बीच हुए विवाद में गाड़ियों से कुचल कर शराब ठेकेदार हनुमान राम की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद आक्रोशित भीड़ ने कल देर रात कई दुकानों सहित आधा दर्जन वाहन फूंक दिए थे।

- आज सुबह से ही क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई थी। घटनास्थल पर बड़ी संख्या में आसपास के गांवों के लोग पहुंच गए। आक्रोशित लोगों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर पुलिस को शव उठाने से मना कर दिया।

- दोपहर पश्चात घटनास्थल पर भारी भीड़ जमा हो गई। शाम को यह भीड़ बेकाबू हो गई और गांव की सड़कों पर निकल कर तोड़फोड़ करने लग गई। पुलिस ने दो बार भीड़ को डंडे फटकार कर खदेड़ दिया, लेकिन संख्या बल में अधिक होने के कारण भीड़ गांव में पहुंच गई।

- बेकाबू भीड़ ने करीब एक दर्जन मकानों से लोगों को बाहर निकाल उनमें जमकर तोड़फोड़ की। इसके बाद इन मकानों को आग के हवाले कर दिया। भीड़ को भगाने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज के साथ अश्रु गैस का भी सहारा लिया।

- सामराऊ में हालात बहुत तनावपूर्ण बने हुए है। हालात बिगड़ते देख जोधपुर से बड़ी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है।

अगली स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो

गांव में तोड़फोड़ व आगजनी के बाद खेतों में शरण लेकर बैठे बच्चे व युवक। गांव में तोड़फोड़ व आगजनी के बाद खेतों में शरण लेकर बैठे बच्चे व युवक।
मृतक के शव को देखती दिव्या मदेरणा। मृतक के शव को देखती दिव्या मदेरणा।
मृतक के शव के निकट धरना स्थल पर बैठी दिव्या मदेरणा। मृतक के शव के निकट धरना स्थल पर बैठी दिव्या मदेरणा।