जोधपुर

--Advertisement--

इस लड़की के मुक्कों में दम, पदक जीत लौटने पर ऐसा हुआ स्वागत

जोधपुर की अर्शी खानम के लिए मुक्केबाजी की रिंग में प्रवेश करना आसान नहीं रहा, लेकिन अब माहौल बदल गया।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 12:30 PM IST
जोधपुर की अर्शी खानम ने सर्बिया में आयोजित नेशन कप बॉक्सिंग में ब्रांज मेडल जीता है। जोधपुर की अर्शी खानम ने सर्बिया में आयोजित नेशन कप बॉक्सिंग में ब्रांज मेडल जीता है।

जोधपुर। जोधपुर की एक लड़की ने अपने दमदार मुक्कों के दम पर देश का नाम रोशन किया है। पंद्रह वर्षीय अर्शी खानम ने सर्बिया में आयोजित बॉक्सिंग नेशन कप के जूनियर वर्ग में ब्रांज मेडल जीता है। पदक जीतकर बुधवार को जोधपुर लौटी अर्शी को लोगों ने मालाओं से लाद दिया। खुशी से चहकती अर्शी ने वादा किया कि उसका लक्ष्य मेडल का कलर बदलने का है और अगली बार वह अवश्य गोल्ड मेडल जीतकर लाएगी। ये है अर्शी खानम…

- जोधपुर की सेंट पैट्रिक्स स्कूल में दसवीं कक्षा की छात्रा पंद्रह वर्षीय अर्शी ने सर्बिया में आयोजित बॉक्सिंग नेशन कप में देश का प्रतिनिधित्व किया। जूनियर वर्ग के पचास किलोग्राम भार वर्ग में उसने ब्रांज मेडल हासिल किया।

- कोच विनोद आचार्य के साथ आज जोधपुर लौटी अर्शी को रेलवे स्टेशन पर जोरदार स्वागत किया गया। परिजनों सहित बड़ी संख्या में एकत्र लोग एक जुलूस के रूप में उसे घर तक लेकर गए।

अब मेडल का कलर बदलने का लक्ष्य

- अपने स्वागत से अभिभूत अर्शी ने बताया कि वह चार वर्ष से अपने कोच विनोद आचार्य से बॉक्सिंग सीख रही है। जूनियर लेवल पर तीन साल से लगातार राष्ट्रीय स्तर मेडल जीतने वाली अर्शी ने बताया अब वह अपने मेडल को ब्रांज से गोल्ड में बदलने के लिए जमकर मेहनत करेगी।

- अर्शी ने बताया कि बॉक्सिंग की शुरुआत उसके लिए बेहद मुश्किल रही। माता-पिता सहित सभी रिश्तेदारों ने उसके बॉक्सिंग सीखने का विरोध किया, लेकिन वह अपने फैसले पर कायम रही।

- बाद में सरकारी स्कूल में प्रधानाध्यापक पिता का सपोर्ट मिला। एक बार राष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीतने के बाद मां का नजरिया भी बदल गया। अब सभी लोग उसकी हिम्मत की दाद देते है।

गिफ्टेड बॉक्सर है अर्शी

- अर्शी को कोचिंग देने वाले विनोद आचार्य का कहना है कि अर्शी एक गिफ्टेड बॉक्सर है। वह पूर्णतया बॉक्सिंग को समर्पित है। स्कूल के साथ सामंजस्य बैठा वह सुबह-शाम रिंग में नजर आती है। आने वाले कुछ वर्षों में अर्सी कई मेडल जीतेगी। हमारा लक्ष्य 2024 ओलंपिक में मेडल जीतने का है और इसी दिशा में हम आगे बढ़ रहे है।

सभी फोटो एल देव जांगिड़

अगली स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो

रेलवेे स्टेशन पर अपने माता-पिता के साथ अर्शी। रेलवेे स्टेशन पर अपने माता-पिता के साथ अर्शी।
रेलवे स्टेशन प र इस तरह हुआ अर्शी का स्वागत। रेलवे स्टेशन प र इस तरह हुआ अर्शी का स्वागत।
अर्शी खानम दसवीं की छात्रा है। अर्शी खानम दसवीं की छात्रा है।
कोच व सहोयगी स्टाफ के साथ अर्शी खानम। कोच व सहोयगी स्टाफ के साथ अर्शी खानम।
माता-पिता व कोट के साथ अर्शी। माता-पिता व कोट के साथ अर्शी।
अपने कोच विनोद आचार्य के साथ अर्शी। अपने कोच विनोद आचार्य के साथ अर्शी।
जोधपुर रेलवे स्टेशन पर परिजनों के साथ अर्शी। जोधपुर रेलवे स्टेशन पर परिजनों के साथ अर्शी।
X
जोधपुर की अर्शी खानम ने सर्बिया में आयोजित नेशन कप बॉक्सिंग में ब्रांज मेडल जीता है।जोधपुर की अर्शी खानम ने सर्बिया में आयोजित नेशन कप बॉक्सिंग में ब्रांज मेडल जीता है।
रेलवेे स्टेशन पर अपने माता-पिता के साथ अर्शी।रेलवेे स्टेशन पर अपने माता-पिता के साथ अर्शी।
रेलवे स्टेशन प र इस तरह हुआ अर्शी का स्वागत।रेलवे स्टेशन प र इस तरह हुआ अर्शी का स्वागत।
अर्शी खानम दसवीं की छात्रा है।अर्शी खानम दसवीं की छात्रा है।
कोच व सहोयगी स्टाफ के साथ अर्शी खानम।कोच व सहोयगी स्टाफ के साथ अर्शी खानम।
माता-पिता व कोट के साथ अर्शी।माता-पिता व कोट के साथ अर्शी।
अपने कोच विनोद आचार्य के साथ अर्शी।अपने कोच विनोद आचार्य के साथ अर्शी।
जोधपुर रेलवे स्टेशन पर परिजनों के साथ अर्शी।जोधपुर रेलवे स्टेशन पर परिजनों के साथ अर्शी।
Click to listen..