--Advertisement--

एम्स: 30 करोड़ की लागत से शुरू होगी रोबोटिक सर्जरी, 33 नए ओटी भी मिलेंगे

एम्स के डिप्टी डायरेक्टर एनआर विश्नोई ने बताया, कि वर्ष 2018 में मार्च तक एम्स में बेड की क्षमता 1000 तक बढ़ जाएगी।

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 07:15 AM IST

जोधपुर. वर्ष 2018 में जोधपुर एम्स में न केवल स्टाफ और बेड बढ़ेंगे, बल्कि तकनीक में भी इजाफा होगा। यहां करीब 28-30 करोड़ रुपए की लागत से रोबोटिक सर्जरी की सुविधा उपलब्ध होगी। साथ ही 33 नए मॉड्यूलर ओटी (ऑपरेशन थिएटर) भी होंगे। इन दोनों सुविधाओं के होने से मरीजों को होने वाले इन्फेक्शन और लंबी कतार से छुटकारा मिल सकेगा। जोधपुर एम्स में इस साल रोबोटिक सर्जरी और नए मॉड्यूलर ओटी के अलावा रेडियोथैरेपी की सुविधा भी शुरू होगी। अभी एम्स में आने वाले मरीजों को रेडियोथैरेपी की सुविधा नहीं मिलने से उनको दूसरे सरकारी अस्पताल अथवा निजी अस्पताल में जाना पड़ता है।

डॉ. सिन्हा ने बताया कि एम्स में नए साल में रेडियोथैरेपी की सुविधा भी शुरू होगी। अभी रोजाना बड़ी संख्या में मरीज ओपीडी में रेडियोथैरेपी के लिए आते हैं। एम्स में रेडियोथैरेपी के लिए हाइएंड मशीन आई है। इसके शुरू होने से मरीजों को काफी सुविधा मिल सकेगी। उनके समय और पैसे की भी बचत होगी।

यूरोलॉजी, गायनी, पीडियाट्रिक सर्जरी में उपयोगी

राजस्थान में सरकारी अस्पतालों में सबसे पहला रोबोट जोधपुर एम्स में आएगा। इसी के साथ जोधपुर एम्स आधुनिक से अत्याधुनिक हो जाएगा। एम्स प्रशासन ने सर्जरी विभाग में सुविधाएं बढ़ाते हुए रोबोट खरीदने की सभी जरूरी प्रक्रियाएं पूरी कर ली हैं।

एम्स अधीक्षक डॉ. अरविंद सिन्हा ने बताया कि रोबोट के लिए प्रयास किए जा रहे हैं, जल्द ही यहां डॉक्टर रोबोटिक सर्जरी कर पाएंगे। यह सबसे ज्यादा यूरोलॉजी विभाग के लिए उपयोगी होती है। इसके अलावा गायनी, पिडियाट्रिक सर्जरी, कार्डियो थोरोसिक, ईएनटी के डॉक्टरों के लिए भी यह उपयोगी होगा।

करीब 45 करोड़ के 33 माड्यूलर ओटी से मरीजों को नहीं मिलेगी कतार
नए साल में एम्स में 33 नए माड्यूलर ओटी मिलेंगे। इससे मरीजों की वेटिंग लिस्ट कम हो जाएगी। अत्याधुनिक तकनीक से युक्त इन ओटी में मरीज को ऑपरेशन के दौरान होने वाले इन्फेक्शन का डर भी नहीं रहेगा। डॉ. सिन्हा ने बताया, कि माड्यूलर ओटी का सिविल वर्क अभी किया जा रहा है। ओटी निर्माण का काम कर रही फर्म के पास सभी मॉड्यूलर ओटी बनाने के लिए मार्च तक का समय है। प्रथम चरण के तहत 40 प्रतिशत काम जनवरी-फरवरी तक पूरा कर लिया जाएगा।

नए साल में एम्स में मिलेगी 1100 नए पदों पर नियुक्ति
एम्स में सुविधाएं तो बढ़ेंगी ही, 1100 नए पदों पर रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। एम्स की ओर से विभिन्न पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। इसके विज्ञापन नए साल के पहले-दूसरे सप्ताह तक निकाल दिए जाएंगे। इसके तहत डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ, प्रशासनिक कर्मचारियों, सहायक कर्मचारियों, तकनीकी सहायकों की भर्ती होगी। एम्स के डिप्टी डायरेक्टर एनआर विश्नोई ने बताया, कि वर्ष 2018 में मार्च तक एम्स में बेड की क्षमता 1000 तक बढ़ जाएगी।