Hindi News »Rajasthan News »Jodhpur News »News» Misuse Of I-Card Of Security Agencies For Free Entry On Toll

टोल नाके पर दिखाते थे सैनिकों की आईडी, मिलिट्री इंटेलिजेंस ने 23 को पकड़ा

Bhaskar News | Last Modified - Jan 02, 2018, 04:31 AM IST

जोधपुर-पाली और जोधपुर-जैसलमेर पर पकड़े गए लोगों के पास मिले आर्मी, एयरफोर्स, नेवी, बीएसएफ, सीआरपीएफ कार्मिकों के कार्ड
टोल नाके पर दिखाते थे सैनिकों की आईडी, मिलिट्री इंटेलिजेंस ने 23 को पकड़ा

जोधपुर. टोल नाकों पर फ्री एंट्री-एग्जिट के लिए देश की सुरक्षा दांव पर लगाने वाले नए साल के पहले दिन ही धरे गए। तीनों सशस्त्र सेना सहित अर्द्ध सैनिक बलों के कार्मिकों के आई कार्ड (परिचय पत्र) स्कैन कर दुरुपयोग करने वालों पर बीते दो दिन से मिलिट्री इंटेलिजेंस (एमआई) की ओर से कार्रवाई की जा रही है।

जोधपुर-पाली और जोधपुर-जैसलमेर हाईवे पर चल रही इस कार्रवाई में 23 जनों को स्कैन किए गए आई कार्ड से फ्री एंट्री-एग्जिट करते हुए पकड़ा गया। दुरुपयोग करने वाले लोगों और उनके वाहनों की डिटेल ली गई है। अब मिलिट्री इंटेलिजेंस की ओर से जांच के बाद दुरुपयोग करने वाले लोगों के साथ संबंधित सैन्यकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जांच के दौरान एयरफोर्स, आर्मी, नेवी, बीएसएफ, सीआरपीएफ के कार्मिकों के कार्ड मिले हैं।

पकड़े गए ज्यादातर निजी वाहन पंजाब के
एमआई की टीम ने 31 दिसंबर को जोधपुर-पाली हाईवे पर रोहट टोल प्लाजा के पास कार्रवाई के लिए जाल बिछाया। वहां पर पहले से ही टोल कर्मियों को कहा गया कि सैन्य कार्ड दिखाकर आने-जाने वाले वाहनों के बारे में तुरंत ही बताए। ऐसे 18 जनों को पकड़कर जांच की तो पता चला कि अपने किसी परिचित सैन्य कर्मी के आईकार्ड की कलर फोटो कॉपी करवाकर इसका दुरुपयोग कर रहे हैं। टोल के अलावा अन्य स्थानों पर कार्ड दिखाकर दुरुपयोग करने की भी जानकारी ली गई। जांच के दौरान पकड़े गए ज्यादातर निजी वाहन पंजाब के थे। सोमवार को बम्बोर के पास जैसलमेर हाईवे पर जांच के दौरान पांच जनों को पकड़ा गया। पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया गया, लेकिन उनकी पूरी डिटेल ली गई।


पिछले साल भी भी 30 जनों को पकड़ा था
एमआई ने गत वर्ष भी गणतंत्र दिवस के मौके पर कई टोल नाकों पर सैन्यकर्मियों के फर्जी आईकार्ड दिखाने का मामले पकड़े थे। 25 जनवरी 2017 और इससे पहले जोधपुर-पाली हाईवे के अलावा उदयपुर, नसीराबाद सहित कई स्थानों पर ऐसे ही टोल नाकों पर कार्रवाई के दौरान 30 जनों को आई कार्ड का दुरुपयोग करते हुए पकड़ा गया था। उनकी पूरी डिटेल लेकर संबंधित कार्ड धारक सैन्य कर्मी के खिलाफ जांच की गई। इनमें अधिकांश आपस में रिश्तेदार व परिचित निकले थे।

दांव पर सुरक्षा : पठानकोट हमले के आरोपी फर्जी कार्ड से ही देश की सीमा और एयरबेस में घुसे थे

- दो साल पहले आतंकियों ने पठानकोट एयरबेस पर हमला कर दिया था। इस हमले के लिए भारत में घुसे जैश के आतंकियों ने फर्जी आईकार्ड का उपयोग किया था।

- वे भारत में घुसने से लेकर एयरबेस के अंदर जाने तक कार्ड दिखाते हुए गए। इस हमले की जांच के दौरान यह खुलासा हुआ था।

- इसके बाद एमआई सहित सुरक्षा एजेंसियों ने अभियान चलाकर कार्ड का दुरुपयोग करने वालों की धरपकड़ शुरू की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jodhpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: tol naake par dikhaate the sainikon ki aaeedi, militri intelijens ne 23 ko pkड़aa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×