--Advertisement--

REET: 9 घंटे इंटरनेट बंद रखवाने और परीक्षार्थियों के टॉप्स-पेडल उतरवाने का क्या औचित्य

रीट: 93 में से 39 केंद्रों पर जैमर व सीसीटीवी कैमरे थे, फिर नकल-पेपर लीक की आशंका

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 06:00 AM IST
Paper leak fears in jodhpur reet exams

जोधपुर. राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से रविवार को अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) के दौरान नकल और पेपर लीक होने से रोकने के लिए प्रशासन ने सुबह 8 से शाम 5 बजे तक, यानी 9 घंटे, इंटरनेट बंद करवा दिया। इसकी पूर्व सूचना तक नहीं दी, ऐसे में लोग परेशान होते रहे।

जोधपुर में कुल 93 परीक्षा केंद्रों में से 39 में जैमर और सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे, इसके बावजूद इंटरनेट बंद करवाने से लोगों के कई महत्वपूर्ण काम अटक गए। इंटरनेट बंद होने के कारण परीक्षा हॉल में बैठे किसी भी अभ्यर्थी के लिए न तो सोशल मीडिया के जरिए पेपर लीक करना संभव था और ना ही नकल करना। ऐसे में केंद्र में प्रवेश के दौरान कानों से टॉप्स, गले से पेडल, हाथों से चूड़ियां आदि उतरवाने का भी कोई मकसद नहीं रह गया, जबकि इस काम के लिए अभ्यर्थियों को देर तक कतार में खड़ा रहना पड़ा।

जोधपुर में किसी परीक्षा के कारण पहली बार बंद रहा नेट, 2 फर्जी परीक्षार्थी पकड़े

जोधपुर में ऐसा पहली बार हुआ है, कि परीक्षा में नकल या पेपर लीक होने की आंशका से नेट बंद करवा दिया गया। जोधपुर में परीक्षा देने के लिए कुल 43 हजार 263 परीक्षार्थी पंजीकृत थे, इनमें से 38 हजार 936 ने परीक्षा दी। दो फर्जी युवकों को दूसरे की जगह परीक्षा देते हुए पकड़ा गया।

परीक्षा को देखते हुए नेट बंद करने के आदेश मिले थे। इसलिए बीएसएनएल ने रविवार सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक नेट बंद कर दिया था। मोबाइल कॉलिंग चालू थी, डाटा डाउनलोड नहीं हो रहे थे।
- एन. राम, जीएम, बीएसएनएल जोधपुर

नकल की आशंका के कारण 39 केंद्रों को संवेदनशील मानते हुए जैमर-सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे। परीक्षार्थियों के घड़ी, ब्रेसलेट, गले का हार, जैकेट, कानों के टॉप्स व लूंग आदि भी इसलिए उतरवाए गए।
- डॉ. रिछपाल सिंह, प्रतिनिधि, माशि.बोर्ड

Paper leak fears in jodhpur reet exams
Paper leak fears in jodhpur reet exams
X
Paper leak fears in jodhpur reet exams
Paper leak fears in jodhpur reet exams
Paper leak fears in jodhpur reet exams
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..