--Advertisement--

सभी दलों के राजपूत नेता सक्रिय, 21 को शक्ति प्रदर्शन, 1 को जोधपुर में महापड़ाव

मारवाड़ राजपूत सभा ने 21 जनवरी को सामराऊ में सभा और 1 फरवरी को जोधपुर में महापड़ाव का ऐलान किया है।

Dainik Bhaskar

Jan 19, 2018, 05:35 AM IST
Rajput leaders of all parties active over samrau voilence

जोधपुर. सामराऊ कस्बे में शराब ठेकेदार हनुमान सांई की हत्या के बाद हुई आगजनी व लूट की घटना पर जहां हाईकोर्ट सख्ती दिखा रहा है, वहीं सियासत भी तेज हो गई है। सत्ताधारी दल भाजपा और प्रतिपक्ष कांग्रेस, दोनों प्रमुख दलों की ओर से उनके राजपूत नेता न केवल इस मामले पर नजर रखे हुए हैं, बल्कि मुख्यमंत्री और पार्टी आलाकमान तक जानकारी पहुंचा रहे हैं।

इस कड़ी में भाजपा के स्थानीय नेताओं ने गुरुवार को जयपुर में सीएम से मुलाकात की, वहीं कांग्रेस नेता प्रतापसिंह खाचरियावास ने आईजी हवासिंह घुमरिया से मिलकर पीड़ित ग्रामीणों के लिए आर्थिक सहायता की मांग करते हुए कई आरोप भी लगाए।

उधर, मारवाड़ राजपूत सभा ने 21 जनवरी को सामराऊ में सभा और 1 फरवरी को जोधपुर में महापड़ाव का ऐलान किया है। इस मामले में तलब किए जाने पर आईजी घुमरिया गुरुवार को हाईकोर्ट में पेश हुए। कोर्ट ने उन्हें घटना की निष्पक्ष जांच करने और ग्रामीणों को सुरक्षा मुहैया कराने को कहा है।

कोर्ट ने आईजी से कहा- बिना दबाव के निष्पक्ष जांच करें

ओसियां क्षेत्र के सामराऊ कस्बे में शराब ठेकेदार हनुमानसिंह सांई की हत्या के बाद हुए उपद्रव के मामले में पुलिस महानिरीक्षक हवासिंह घुमरिया गुरुवार को राजस्थान हाईकोर्ट में पेश हुए। कोर्ट ने आईजी को स्थानीय लोगों को माकूल सुरक्षा मुहैया कराने और बिना राजनीतिक दबाव के निष्पक्ष जांच करने के निर्देश दिए। इस मामले में अगली सुनवाई दो सप्ताह बाद मुकर्रर की है।

दैनिक भास्कर के बुधवार के अंक में खबर प्रकाशित कर निर्दोष ग्रामीणों के घर जलाने और शादी समारोह वाले घरों से गहने लूटे जाने का खुलासा किया गया था। अधिवक्ता भंवरसिंह तामड़िया ने बुधवार को ही कोर्ट के समक्ष दैनिक भास्कर में प्रकाशित खबर का जिक्र करते हुए इसमें हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था।

इस पर कोर्ट ने आईजी को व्यक्तिगत रूप से तलब किया था। आईजी घुमरिया अतिरिक्त महाधिवक्ता एसके व्यास के साथ कोर्ट के समक्ष पेश हुए। व्यास ने कोर्ट से आग्रह किया कि घुमरिया घटनास्थल पर ही हैं और स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। इन्हें वापस मौके पर भी जाना है, इसलिए पहले इस मामले पर सुनवाई की जाए तो बेहतर रहेगा।

कोर्ट ने उनका आग्रह मान लिया और मामले की सुनवाई शुरू की। घुमरिया ने घटना के बाद की कार्रवाई और अब तक गिरफ्तार किए आरोपियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 18 मामले दर्ज किए गए हैं और अन्य संदिग्ध आरोपियों को भी गिरफ्तार किया जा रहा है।


उपद्रव से प्रभावित ग्रामीणों को मुआवजे की मांग
अधिवक्ता तामड़िया ने कोर्ट से आग्रह किया, कि घटना दो अपराधियों के बीच हुई। मरने वाला और मारने वाले दोनों ही आपराधिक पृष्ठभूमि से हैं, तो फिर निर्दोष ग्रामीण पुलिस की विफलता से क्यों भुगत रहे हैं? उनके घर जला दिए गए और लूट लिया गया

। उन्होंने कहा, कि सरकार की ओर से मृतक के आश्रितों को मुआवजा दिया जाना आश्चर्यचकित करता है। उन्होंने आगजनी से प्रभावित ग्रामीणों को भी मुआवजा देने का आग्रह किया। साथ ही नुकसान का आकलन करने के लिए एक कमेटी बनाने का सुझाव दिया। इस पर न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास ने मौखिक टिप्पणी करते हुए कहा, कि अभी जांच प्रारंभिक स्तर पर है। पुलिस को निष्पक्ष जांच करने दें, इसके बाद मुआवजे के संबंध में भी विचार किया जाएगा।

उन्होंने घुमरिया को क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने और मामले की पूरी तरह निष्पक्ष जांच करने के निर्देश दिए। साथ ही पुलिस को उस क्षेत्र के लोगों को पूरी तरह से सुरक्षा मिलना सुनिश्चित करने को कहा। कोर्ट ने आईजी से कहा, कि पुलिस किसी तरह के राजनीतिक दबाव में कतई काम नहीं करे। कोर्ट ने अगली सुनवाई दो सप्ताह बाद मुकर्रर करते हुए आईजी को उपस्थित रहने से छूट दे दी।

भाजपा नेता सीएम से मिले, आज गृहमंत्री-डीजीपी आएंगे

सामराऊ में हुए घटनाक्रम को लेकर लोहावट विधायक और वन एवं पर्यावरण मंत्री गजेंद्रसिंह खींवसर, बीज निगम के अध्यक्ष शंभूसिंह खेतासर, शेरगढ़ विधायक बाबूसिंह राठौड़ व भाजपा जोधपुर देहात अध्यक्ष भोपालसिंह बड़ला ने गुरुवार को जयपुर में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से मुलाकात की और जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने तय किया, कि गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया और डीजीपी ओपी गल्होत्रा शुक्रवार को सामराऊ का दौरा करेंगे।

X
Rajput leaders of all parties active over samrau voilence
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..