--Advertisement--

कानपुर जू से आएगा टाइगर का जोड़ा, बदले में 6 चिंकारा और 3 भेड़िए भेजेंगे

पर्यटकों को नहीं होना पड़ेगा निराश, डीएफओ ने चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन को लिखा पत्र

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 07:22 AM IST

जोधपुर. पिछले दिनों माचिया सफारी पार्क में बब्बर शेर ‘लव’ की मौत के बाद पर्यटकों के लिए सुकून की बात यह है, कि यहां कानपुर जू से टाइगर का जोड़ा आने वाला है। अब तक टाइगर का पिंजरा खाली है जिससे पर्यटक निराश हो कर लौटते हैं, लेकिन जल्दी ही माचिया टाइगर की दहाड़ से गूंजेगा। इसके लिए माचिया सफारी पार्क की ओर से सेंट्रल जू ऑथोरिटी को पत्र लिखा गया है।

डीएफओ (वाइल्ड लाइफ) भगवान सिंह राठौड़ ने बताया कि इस एक्सचेंज के लिए दोनों जू प्रशासन तैयार हो गए हैं। संभवतया जनवरी माह के अंत तक कानपुर से टाइगर का जोड़ा यहां लाया जा सकेगा।टाइगर के जोड़े के बदले में जोधपुर से 6 चिंकारा और 3 भेड़िए कानपुर जू भेजे जाएंगे।

माचिया सफारी पार्क में अभी शेर और पैंथर का जोड़ा है, लेकिन पर्यटकों का ध्यान टाइगर के खाली पड़े पिंजरे पर भी जाता है। माचिया में कैटल प्रजाति के वन्यजीव की इस कमी को पूरा करने के लिए डीएफअो (वाइल्ड लाइफ) ने चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन को पत्र लिखा है। उनके माध्यम से यह पत्र सीजेडए को भेजा गया है।

2 साल में पौने सात लाख ने देखा माचिया, करीब 22.50 करोड़ की आय
माचिया विकसित होने के बाद शहर में वन्यजीव पर्यटन की सुचारु शुरुआत हुई। माचिया को जनवरी 2016 में खोला गया था। दो साल में यहां पौने 7 लाख पर्यटक आए और जंतुआलय प्रशासन को टिकट, कैमरा फीस, वीडियोग्राफी शुल्क आदि के रूप में करीब 22.50 करोड़ आय हुई। ऐसे में यदि टाइगर का जोड़ा आता है तो पर्यटकों की संख्या और आय में और वृद्धि की उम्मीद है।