• Home
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • नशा ही मानव जीवन का विनाश का कारण: श्रीराम
--Advertisement--

नशा ही मानव जीवन का विनाश का कारण: श्रीराम

भोपालगढ़ | कस्बे के सावला का थान रामस्वरूप देवड़ा साधक के यहां आयोजित सत्संग समारोह में प्रवचन करते हुए महंत श्रीराम...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:20 AM IST
भोपालगढ़ | कस्बे के सावला का थान रामस्वरूप देवड़ा साधक के यहां आयोजित सत्संग समारोह में प्रवचन करते हुए महंत श्रीराम महाराज ने कहा कि मनुष्य के जीवन में यदि सबसे बड़ा कोई पाप है तो वो है नशा करना। नशा ही मानव जीवन को सही रास्ते से भटकाकर दुर्गति की ओर ले जाते है। नशा हमारे स्वास्थ्य के लिए तो हानिकारक होता ही लेकिन नशा करने वाला इंसान अपने धर्म-कर्म व अन्य सभी कार्य भूल जाता है। सामाजिक कार्यकर्ता भंवरलाल देवड़ा ने बताया कि महंत श्रीराम महाराज व माधवदास महाराज का गांव में आने पर गाजे-बाजे व रेजा बिछाकर स्वागत किया। इस दौरान माधवदास महाराज ने कहा कि प्रेम भाव से भी भगवान की प्राप्ति की जा सकती है। इस दौरान श्रीराम महाराज के साथ गणेशदास, सागर बापू आदि साधू-संतों ने प्रवचन दिए व भक्ति सरिता बहाई। इस सत्संग में उपस्थित श्रद्धालुओं ने महाराज के सामने नशा त्याग करने का संकल्प लिया। सत्संग समारोह में पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़, भैरूलाल देवड़ा, जेपी देवड़ा, युवा नेता राजेश जाखड़, कालूराम मेहरा, नरेश चौधरी, भंवरलाल देवड़ा, विशनाराम देवड़ा, निर्मल, सीताराम, राजाराम सहित सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे।