• Home
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • सरिता जोशी ने लंका दहन व संजीवनी बूटी लाने के प्रसंग किए जीवंत
--Advertisement--

सरिता जोशी ने लंका दहन व संजीवनी बूटी लाने के प्रसंग किए जीवंत

संगीतमय सुंदरकांड से माहौल हुआ आध्यात्मिक कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर हनुमान की शक्तियों के अलावा रामायण का...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:50 AM IST
संगीतमय सुंदरकांड से माहौल हुआ आध्यात्मिक

कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर

हनुमान की शक्तियों के अलावा रामायण का हर प्रसंग जीवंत हो उठा, जब प्रख्यात भजन गायिका सरिता जोशी ने रामायण मनका 108 की प्रस्तुति दी। सरिता ने हनुमान द्वारा लंका में पूंछ से आग लगाने व लक्ष्मण की जान बचाने के लिए संजीवनी बूटी लाने जैसे प्रसंगों का भाव भरा वर्णन किया। वहीं सीता हरण के बाद भगवान राम की दशा, वनवास प्रसंग व माता सीता के भूमि में समाने के प्रसंग से श्रोताओं को भावविभोर भी किया। मौका था हनुमान जयंती के अवसर पर सरदारपुरा ई रोड पर सिद्धि विनायक गणेश मंदिर व मारवाड़ मोहल्ला विकास समिति की ओर से आयोजित कार्यक्रम का, जिसमें सरिता जोशी ने पहले सुंदरकांड व इसके बाद रामायण मनका 108 की प्रस्तुति दी। उन्होंने रामायण मनका के आखिरी चरण में माता सीता के धरती में समाने का प्रसंग सुनाया।

कार्यक्रम में पूर्व सांसद जसवंत सिंह विश्नोई, जोधपुर इंडस्ट्रीज एसोसिएशन सचिव अशोक बाहेती, पूर्व सचिव सीएस मंत्री, अरुण जैसलमेरिया, जोधपुर हैंडीक्राफ्ट एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन अध्यक्ष डॉ. भरत दिनेश, वरिष्ठ निर्यातक राधेश्याम रंगा, सागर जोशी, हरीश तलवार, टीकमचंद चौहान, मनीष मेहता, भरत कानूंगो, अनिल दाधीच, पंकज भंडारी, राजेंद्र बाहेती, कमल बाहेती, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष आनंदसिंह, छात्रनेता सुनील चौधरी व मदनलाल गहलोत सहित कई लोग मौजूद थे। समिति के हेमेंद्र शर्मा, भवानीसिंह, अरुण शर्मा, महेंद्र शर्मा, अरविंद चौहान ने सरिता जोशी व हरिगोपाल जोशी का स्वागत किया।