• Home
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • बंद को अनेक संगठनों ने दिया समर्थन
--Advertisement--

बंद को अनेक संगठनों ने दिया समर्थन

जोधपुर | एससी-एसटी एक्ट में किए गए बदलाव के विरोध में 2 अप्रैल को प्रस्तावित भारत बंद का जोधपुर के अनेक संगठनों ने...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:55 AM IST
जोधपुर | एससी-एसटी एक्ट में किए गए बदलाव के विरोध में 2 अप्रैल को प्रस्तावित भारत बंद का जोधपुर के अनेक संगठनों ने समर्थन किया है। नागौरी गेट स्थित शबरी वाटिका में हुई भील समाज की बैठक में विश्व आदिवासी दिवस समारोह समिति के अध्यक्ष जयसिंह भील ने बताया, कि भील समाज पूरे एससी-एसटी समाज के साथ मिलकर जोधपुर बंद को सफल बनाएगा। अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के शहर अध्यक्ष बच्चन पंडित ने बताया, कि यूनियन बंद को समर्थन करेगी। अखिल भारत अनुसूचित जाति परिषद की जिलाध्यक्ष कालूराम सोनेल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में भी बंद को समर्थन देने का निर्णय लिया गया। इसी तरह आजाद दलित फौज के प्रदेशाध्यक्ष नरेश कंडारा ने बताया, कि सभी नगर निगम व प्राइवेट सेक्टर में कार्य करने वाले सफाई कर्मचारी कार्य का बहिष्कार कर हड़ताल पर रहेंगे। डॉ. भीमराव अंबेडकर मूर्ति अनावरण समिति के प्रदेशाध्यक्ष घनश्याम मेघवाल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में राजस्थान मेघवाल परिषद, भील नवयुवक मंडल, मेघवाल शिक्षण संस्थान, दलित विकास एवं विज्ञान समिति, दमामी युवा विकास समिति, दलित छात्र संगठन, दलित महिला मोर्चा आदि संगठनों ने बंद का समर्थन किया। जीनगर समाज संयुक्त महासभा के जोधपुर अध्यक्ष टीकमदास चौहान सहित पदाधिकारियों ने बंद का समर्थन करते हुए प्रताप नगर, चौहाबो, उदयमंदिर, चांदपोल, महामंदिर, आडा बाजार, कमला नेहरू नगर जीनगर बस्तियों का दौरा कर बंद को सफल बनाने का आह्वान किया।

सेनेट्री इंस्पेक्टर एसोसिएशन ने रातानाडा क्षेत्र उप कार्यालय में सभी इंस्पेक्टरों की बैठक आयोजित की। बैठक की अध्यक्षता एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश तेजी ने की। इस मौके पर 2 अप्रैल को होने वाले भारत बंद को समर्थन देने का निर्णय लिया गया। बैठक में महामंत्री रजनीश बारासा, राजेश बारासा, हरिभजन परिहार, रंजन बारासा व राजू सहित सभी वार्ड इंस्पेक्टर मौजूद थे।

बंद का विराेध करेगी गौतम सभा

दलित संगठनों की आेर से 2 अप्रैल को जोधपुर बंद का श्री गौतम सभा विरोध करेगी। गौतम सभा के जोधपुर संभाग अध्यक्ष महेश कुमार जाजड़ा ने बताया, कि इस संबंध में समाज की बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया, कि समाज सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करता है। इस निर्णय से झूठे मुकदमे करने वाले हतोत्साहित होंगे। बैठक में उपस्थित सभी सदस्यों ने स्वेच्छा से निर्णय लिया, कि दो अप्रैल को संभाग के सभी कस्बों व जिलों में व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले रखे जाएंगे।