--Advertisement--

संत खेतेश्वर जयंती

News - संत खेतेश्वर जयंती राहत का रंग: रास्ते जाम नहीं हों, आमजन परेशानी से बचे रहें, इसलिए शोभायात्रा नहीं...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 05:35 AM IST
संत खेतेश्वर जयंती
संत खेतेश्वर जयंती

राहत का रंग: रास्ते जाम नहीं हों, आमजन परेशानी से बचे रहें, इसलिए शोभायात्रा नहीं निकालेगा राजपुरोहित समाज

ब्रह्मधाम आसोतरा गादीपति संत तुलछाराम महाराज से अनुमति लें किया निर्णय

जोधपुर| राजपुरोहित समाज के अाराध्य देव संत खेतेश्वर की जयंती 22 अप्रैल को है, लेकिन इस साल अनूठी पहल करते हुए शोभायात्रा नहीं निकालने का निर्णय किया गया है। इसके पीछे सोच यह है, कि ऐसे आयोजनों से आमजन परेशान होते हैं, उन्हें परेशानी नहीं हो इसलिए इस साल शोभायात्रा नहीं निकाली जाएगी। इसके लिए समाज के लोगों ने ब्रह्मधाम आसोतरा के गादीपति संत तुलछाराम महाराज से चर्चा कर अनुमति लेकर निर्णय किया है। खेतेश्वर जयंती पर राजपुरोहित समाज के लोग पिछले दस वर्षों से शहर के विभिन्न क्षेत्रों से होकर शोभायात्रा निकालते आ रहे हैं। इस बार समाज के प्रबुद्धजनों ने शोभायात्रा के आयोजनों से हर बार शहर में पुलिस प्रशासन, व्यापारियों और आमजन को भीड़भाड व वाहनों की रेलमपेल के कारण होने वाली परेशानियों को समझा। उन्होंने शोभायात्रा नहीं निकालकर एक ही स्थान पर भंजन संध्या एवं महाप्रसादी के साथ धार्मिक कार्यक्रम आयोजित करने का ही निर्णय किया है। समाज के किशनसिंह चावंडा ने बताया कि एक प्रतिनिधिमंडल ने संत तुलछाराम महाराज से मुलाकात कर उनको शाेभायात्रा के कारण होने वाली परेशानियों से अवगत करवाया। उसकी जगह दूसरे विकल्प के तौर पर विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में चर्चा की। संत तुलछाराम महाराज से मिलने वालों में चावंडा के अलावा पुखराजसिंह मनणा बासनी, आनंदसिंह कानोडिया, महेंद्रसिंह, छैलसिंह मनणा, श्यामसिंह गादेरी आईदानसिंह, मोहनसिंह, भंवर नारनाडी, गुमानसिंह अादि शामिल थे।

22 अप्रैल को आयोजन, सिर्फ भजन संध्या व महाप्रसादी का होगा आयोजन

X
संत खेतेश्वर जयंती
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..