Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» Aiims Jodhpur Got Its First Permanent Director, Government Reliese Order

स्थापना के पश्चात एम्स जोधपुर को पहली बार मिला स्थाई निदेशक, केन्द्र सरकार ने जारी किए आदेश

अब डॉ. मिश्रा को लखनऊ के अपने पुराने पद से त्यागपत्र देना होगा

DainikBhaskar.com | Last Modified - Aug 10, 2018, 04:13 PM IST

स्थापना के पश्चात एम्स जोधपुर को पहली बार मिला स्थाई निदेशक, केन्द्र सरकार ने जारी किए आदेश

जोधपुर। एम्स जोधपुर को अपनी स्थापना के पश्चात पहली बार डॉ. संजीव मिश्रा के रूप में पूर्णकालीक निदेशक मिल गया है। छह बरस से इसी पद पर प्रतिनियुक्ति के रूप में सेवा दे रहे डॉ. मिश्रा को अब स्थाई रूप से इस पद पर पांच वर्ष के लिए नियुक्त किया गया है। केन्द्र सरकार ने शुक्रवार को उनके इस पद पर नियुक्ति के आदेश जारी किए। केन्द्र सरकार ने जारी किए आदेश…

- एम्स जोधपुर की वर्ष 2012 में शुरुआत होने के साथ ही लखनऊ के कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. संजीव मिश्रा को इस पद पर नियुक्त किया गया था। उन्हें स्थाई रूप से नियुक्ति नहीं देकर प्रतिनियुक्ति पर यहां निदेशक के पद पर लगाया गया था। ऐसे में उन्होंने अभी तक लखनऊ के केजीएमसी मेडिकल कॉलेज के अपने पद से त्यागपत्र नहीं दिया। अब उन्हें केन्द्र सरकार ने इस पद पर पांच साल के लिए स्थाई नियुक्ति दी है। ऐसे में अब डॉ. मिश्रा को लखनऊ के अपने पुराने पद से त्यागपत्र देना होगा। केन्द्र सरकार ने डॉ. मिश्रा के साथ डॉ. नीतिन एम नागरकर को रायपुर एम्स का निदेशक नियुक्त किया है। दो वर्ष पूर्व डॉ. मिश्रा को ऋषिकेश एम्स के निदेशक का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया था। ऐसे में यह माना जा रहा था कि डॉ. मिश्रा स्थाई रूप से ऋषिकेश एम्स में नियुक्ति प्रदान की जा सकती है, लेकिन केन्द्र सरकार ने उन्हें जोधपुर में स्थाई नियुक्ति प्रदान कर सभी कयास पर विराम लगा दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×