जैसलमेर / नहरी परियोजना का अधिशासी अभियंता बीस हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • मोहनगढ़ में तैनात है अधिशासी अभियंता देशराज नूनिया

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 04:59 PM IST

जोधपुर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो(एसीबी) ने शुक्रवार को जैसलमेर जिले के मोहनगढ़ में इंदिरा गांधी नहर परियोजना से जुड़े एक अधिशासी अभियंता देशराज नूनिया को बीस हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ लिया। उसने यह राशि नहरी क्षेत्र में कराए गए मरम्मत कार्य का बिल पास करने की एवज में मांगी थी। 


एसीबी जैसलमेर के उप अधीक्षक अनिल पुरोहित ने बताया कि जैसलमेर निवासी जलाल खान ने शिकायत दर्ज कराई कि मोहनगढ़ क्षेत्र में नहरी परियोजना में मरम्मत व टाइल्स निर्माण कार्य के भुगतान के लिए एलओसी बजट मंगवाकर दो बिल पास करने के एवज में अधिशासी अभियंता देशराज नूनिया बीस हजार रुपए की मांग कर रहा है। शिकायत के सत्यापन के दौरान कनिष्ठ अभियंता विजय ने 26,700 रुपए की मांग कर मौके पर दस हजार रुपए ले लिए। साथ ही विजय ने नूनिया के हिस्से के बारे में उनसे स्वयं बात करने को कहा। इसके बाद अधिशासी अभियंता नूनिया ने दो कार्यों की एलओसी मंगवाकर बिल पास करने के लिए बीस हजार रुपए की मांग की। आज जलाल खान को बीस हजार रुपए देकर नूनिया के पास भेजा गया। उसके राशि थमाते ही एसीबी की टीम वहां पहुंच गई। एसीबी की टीम को देखते ही नूनिया ने रिश्वत की राशि को अपनी कुर्सी के नीचे फैंक दिया, लेकिन एसीबी की टीम ने उसे बरामद कर लिया। साथ ही रिश्वत की राशि लेते समय नूनिया के हाथ पर गुलाबी रंग भी लग गया। नूनिया को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना