Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» After Visit Thirty Countries This Lady Once Again Reached Blu City

तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी

अमेरिका की रशेल को घूमने का बेहद शौक है। नर्सिंग का अपना जॉब छोड़ अब वे पूरी तरह पर्यटक बन चुकी है।

SUNIL CHOUDHARY | Last Modified - Feb 09, 2018, 09:51 AM IST

  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    ये है रशेल। अमेरिका को त्याग अब पूरी तरह से गोवा मे बस चुकी है।

    जोधपुर।अमेरिका में जन्मी रशेल जोंस का पेशा है नई-नई जगह पर घूमना और फिर वहां की खासियत को तलाश कर लिखना। ताकि उन्हें पढ़ दूसरे लोग भी उस स्थान पर घूमने को प्रेरित हो सके। उनके साथी उन्हें हिप्पी इन हिल्स के नाम से ही पुकारते है। तीस से अधिक देश में घूम चुकी यह घुमंतू महिला एक बार फिर जोधपुर पहुंची। इस बार उन्होंने अपने नजरिए से इस ब्लू सिटी को न केवल कैमरे से दिखाया बल्कि इस शहर को लेकर अपना नजरिया भी बताया। रशेल को ऐसा लगा जोधपुर...


    - दुनिया में एक अकेला जोधपुर ही ब्लू सिटी नहीं है। मोरक्को में भी एक ऐसा ही ब्लू सिटी चैफचेगॉन नाम का शहर है। लेकिन दोनों शहर एकदम अलग है। मोरक्को के इस शहर में प्रत्येक जगह ब्लू रंग से रंगी है। जबकि जोधपुर में ऐसा नहीं है. यहां प्राचीन जोधपुर में ही यह रंग देखने क मिलता है। जोधपुर के लोगों के पास ब्लू कलर को लेकर अलग-अलग सोच है। कुछ लोग कहते है कि इससे मच्छर कम आते है, वहीं कुछ लोगों का मानना है कि इससे गर्मी के दिनों में मकान ठंडे रहते है। इसके बावजूद जोधपुर में घूमने का कभी न भूलने वाला एक अलग ही अहसास होता है।
    बहुत भीड़ है इस शहर में


    - रशेल का कहना है कि समय के साथ जोधपुर भी तेजी से बदल रहा है, लेकिन अभी भी यहां आसानी से क्वालिटी का वेस्टर्न खाना नहीं मिलता। पुराना शहर लोगों की भीड़ से जाम रहता है। हालांकि यहां कार नहीं ले जा सकते। हालांकि यह एक रियल इंडियन सिटी का अहसास कराता है। जोधपुर आकर आपको लक्जरी की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। यहां की स्ट्रीट्स पर बेहतरीन स्थानीय भोजन का स्वाद लिया जा सकता है। सदियों पुरानी हवेलियों से फोर्ट के साथ ही सड़कों पर घूमते आवारा पशु नजर आ जाएंगे।


    ऐसी है रशेल


    - अमेरिकी के ओहियो शहर निवासी रशेल अब गोवा में सैटल हो चुकी है। नर्सिंग के करिअर में रहने के दौरान छह माह काम कर वह छह माह के लिए अपना ट्रेवलिंग बैग उठा घूमने निकल पड़ती। अब तक तीस देशों में घूम चुकी रशेल का कहना है कि वह दूसरी बार जोधपुर आई है। ऐसे ही दक्षिण भारत की यात्रा के दौरान एक दोस्त मिल गया। अमेरिका निवासी इस दोस्त के साथ अब वे गोवा में रहती है। नर्सिंग के जॉब को अलविदा कह अब उन्होंने ऑफ बीट ट्रेवल प्लेसेज के बारे में लिखना शुरू कर दिया है। इससे होने वाली आमदनी से अब लगातार टूर पर रहती है। सिर्फ बारिश के दिनों में अपने नए घर गोवा लौटती है। यही कारण है कि उनके फ्रेंड ने उनका नाम हिप्पी इन हिल्स रख दिया।

    अगली स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो

  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    शहर की तंग गलियों से होकर निकलती रशेल।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    जोधपुर की एक हवेली में रशेल।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    रशेल को घूमने का बहुत शौक है।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    शहर की लड़कियों के साथ रशेल।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    जोधपुर के निकट एक गांव में रशेल।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    रशेल अब तक तीस देश घूम चुकी है।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    पांच साल के अंतराल से वे एक बार फिर जोधपुर आई है।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    वे लगातार घूम पर्यटन स्थलों के बारे में लिखती है।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    रशेल ने जोधपुर को अपने नजरिये से दर्शाया है।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    रेगिस्तान के जहाज ऊंट के साथ रशेल।
  • तीस देशों में घूम एक बार इस शहर पहुंच गई यह हिप्पी
    +11और स्लाइड देखें
    घूमने के दौरान ही रशेल को उनका जीवन साथी मिला।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jodhpur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: After Visit Thirty Countries This Lady Once Again Reached Blu City
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×