--Advertisement--

करोड़ों का इंजन सौदा हथियाने तेजस उड़ा रहे है यूएस और फ्रेंच एयर चीफ

करोड़ों का इंजन सौदा हथियाने तेजस उड़ा रहे है यूएस और फ्रेंच एयर चीफ

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 01:04 PM IST
भारत में विकसित तेजस फाइटर जेट भारत में विकसित तेजस फाइटर जेट

जोधपुर। भारत में विकसित हल्का लड़ाकू विमान तेजस इन दिनों दुनिया के दो बड़े देशों के बीच होड़ का प्रतीक बन गया है। यही कारण है कि अमेरिका के एयर चीफ की ओर से जोधपुर में तेजस फाइटर जेट में उड़ान भरने के चार दिन बाद ही बगैर किसी पूर्व सूचना के फ्रांस के एयर चीफ भी यहां पहुंच गए तेजस में उड़ान भरने को। तेजस को उड़ाने को मची होड़ के पीछे वास्तविक कारण इसका इंजन है। अमेरिका और फ्रांस के बीच हजारों करोड़ रुपए के इसके इंजन की आपूर्ति को लेकर जोरदार प्रतिस्पर्धा चल रही है। इंजन को लेकर मची है होड़...


- भारत ने स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस की परियोजना शुरू करने के साथ ही इसमें देश में ही विकसित कावेरी इंजन को लगाने का निर्णय किया। बरसों तक इंजन को विकसित करने के प्रयास के बावजूद कावेरी अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतर सका। इस कारण भारत ने अमेरिका के जनरल इलेक्ट्रिक से तेजस में लगाने वाले इंजन का सौदा किया।

- इंडियन एयर फोर्स अब तक 83 तेजस का ऑर्डर जारी कर चुकी है। निकट भविष्य में यह ऑर्डर और बड़ा होगा। ऐसे में तेजस बनाने को और इंजन की आवश्यकता होगी। ऐसे में अमेरिका और फ्रांस के बीच इसके इंजन की आपूर्ति को बड़ा हिस्सा हथियाने की होड़ लगी हुई है।
- फ्रांस की कंपनी सैफरान ने भारत सरकार को कावेरी इंजन को नए सिरे से विकसित करने में सहयोग की पेशकश कर रखी है। इसके तहत कंपनी भारत को तकनीक उपलब्ध कराएगी और इंजन का निर्माण भारत में होगा। हजारों करोड़ रुपए का यह सौदा होने की स्थिति में अमेरिका को इंजन सौदे से हाथ धोना पड़ सकता है।


तेजस उड़ाना तो महज दिखावा


- तेजस के इंजन को मची होड़ के बीच अमेरिका और फ्रांस के एयर चीफ की तरफ से इसे उड़ाना तो महज एक दिखावा भर है। चार दिन पूर्व यूएस एयर चीफ जनरल डेविड इस विमान को जोधपुर में उड़ा इसे बेहतरीन बता गए। उनके जाते ही फांस एयर चीफ आनन-फानन में दिल्ली पहुंच गए। यहां पहुंचते ही उन्होंने भी तेजस को उड़ाने की इच्छा जाहिर की। इस पर बुधवार को वे भी तेजस में उड़ान भरने जोधपुर पहुंच गए। रक्षा विशेषज्ञ इन दोनों की तेजस में उड़ान को इसके इंजन के सौदे से जोड़कर देख रहे है।

यह है गणित

- इंडियन एयर फोर्स ने करीब पचास हजार करोड़ रुपए के 83 तेसज विमान का हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स को ऑर्डर दे चुका है। इंडियन एयर फोर्स में तेजस मिग-21 श्रेणी के फाइटर का स्थान लेगा। ऐसे में उम्मीद है कि यह ऑर्डर बढ़कर 220 तेजस से अधिक का होगा। ऐसे में इतनी बड़ी संख्या में इन विमानों के इंजन भी हजारों करोड़ के होंगे।

अगली स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो

X
भारत में विकसित तेजस फाइटर जेटभारत में विकसित तेजस फाइटर जेट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..