--Advertisement--

एयर फोर्स भर्ती

एयर फोर्स भर्ती

Dainik Bhaskar

Dec 28, 2017, 03:31 PM IST
जोधपुर में विस्फोट में मारी गई जोधपुर में विस्फोट में मारी गई

जोधपुर। जोधपुर सैन्य क्षेत्र स्थित हमीद बाग कॉलोनी शुक्रवार दोपहर विस्फोट होने से पैरा कमांडों की आठ वर्षीय पुत्री की दर्दनाक मौत हो गई। वह ट्यूशन से लौटने के बाद दरवाजा खटखटा रही थी, उसकी मां दरवाजा खोलती उससे पहले ही विस्फोट होने से मौके पर ही उसकी मौत हा गई। हादसे के बाद सेना तथा पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। आयुध विशेषज्ञों की प्रारंभिक जांच में पता चला है कि संभवत: बच्ची के हाथों में कोई तीन से चार इंच लंबा एमुनेशन था। इससे ही विस्फोट हो गया। यह है मामला…

- पुलिस के अनुसार पैरा कमांडों नायक धर्मेंद्र परिवार के साथ हमीद बाग कॉलोनी में सैन्य मकान में रहता है। दोपहर साढ़े बारह बजे उसकी आठ वर्षीय पुत्री खुशी ट्यूशन पढ़कर लौटी और दरवाजा खटखटाया। घर के अंदर उसकी मां दरवाजा खोलने के लिए आगे बढ़ी कि इससे पहले ही बार तेज विस्फोट हुआ।

- घर की चौखट पर ही विस्फोट के साथ खुशी ढेर हो गई। उसके हाथ की अंगुलियां बिखर कर अलग हा गई और विस्फोटक लगने से पेट फट गया। मकान की दीवार पर निशान हो गए।

- हादसे की सूचना के बाद सेना पुलिस था सैन्य अफसर मौके पर पहुंचे। इसके बाद रातानाडा पुलिस भी वहां पहुंच गई और जांच में जुट गई।

खुदाई में एमुनेशन निकलने की संभावना

- हमीद बाग में जिस घर के बाहर हादसा हुआ है, उसके पास ही मैदान के पास कच्चा रास्ता बना हुआ है। कुछ दिन पहले ही यहां पर खुदाई की गई थी। इसमें से पुराना एमुनेशन बाहर निकलने की संभावना जताई जा रही है। हादसे का शिकार हुई खुशी ट्यूशन से लौटते समय रास्ते से वह एमुनेशन उठाकर लाने की संभावना है।

- महज तीन से चार इंच लंबे एमुनेशन के फटने के कारण उसके दायं हाथ की अंगुलिया एकमद अलग हो गई। माना जा रहा है कि जब व दरवाजा खटखटा रही थी, तब इसी एमुनेशन की सहायता से ही खटखटाया। इसके चलते ही विस्फोट हो गया। वैसे विशेषज्ञों की जांच के बाद ही पूरी विस्फोट के बारे में पता चलेगा।

फोटो एल देव जांगिड़

अगली स्लाइड में देखें अन्य फोटो

X
जोधपुर में विस्फोट में मारी गईजोधपुर में विस्फोट में मारी गई
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..