Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» This Is Our Attack Helicoptor Rudra, Shown Fire Power At War Exercise

ऐसा है देश में निर्मित अटैक हेलीकॉप्टर रुद्र, युद्धाभ्यास में दिखा रहा है अपना जलवा

ऐसा है देश में निर्मित अटैक हेलीकॉप्टर रुद्र, युद्धाभ्यास में दिखा रहा है अपना जलवा

SUNIL CHOUDHARY | Last Modified - Dec 21, 2017, 11:18 AM IST

जोधपुर।भारतीय सेना के थार के रेगिस्तान में इन दिनों चल रहे युद्धाभ्यास में देश में निर्मित हेलीकॉप्टर रुद्र अपने जलवा दिखा रहा है। युद्धाभ्यास में रुद्र के शामिल होने से थल सेना की मारक क्षमता काफी बढ़ गई है। करीब सवा सौ करोड़ की लागत के रुद्र का साथ मिलने से सेना की टुकड़ियों को आगे बढ़ते दुश्मन पर एक साथ जमीन और हवा से मार करने की क्षमता हासिल हो गई है।ऐसा होता है अटैक हेलीकॉप्टर...


- अटैक हेलीकॉप्टर रणक्षेत्र में हमला करने वाला एक सशस्त्र हेलीकॉप्टर होता है। जिसकी मुख्य भूमिका दुश्मन की पैदल सेना, टैंक व ब ख्तरबंद वाहनों के अलावा जमीन पर दुश्मन के अन्य ठिकानों को नष्ट करने की होती है। आवश्यकता पड़ने पर यह हवा से हवा में मार कर दुश्मन के किसी विमान तक को उड़ा सकता है। इसे एयर गनशिप भी कहा जाता है।


ऐसा है देश में विकसित रुद्र


- देश में विकसित रुद्र अपने आप में कई खूबियों को समेटे हुए है। इसे बेहतरीन अटैक हेलीकॉप्टर माना जाता है। यह अटैक हेलीकॉप्टर एयर फोर्स के साथ ही आर्मी में भी शामिल किया जाएगा। वर्तमान में इसकी एकमात्र यूनिट जोधपुर एयर बेस पर तैनात है।
- रुद्र में आगे और पीछे स्पेशल कैमरे लगे है। ये कैमरे रात हो या दिन या फिर कैसे भी खराब मौसम में दुश्मन पर पूरी नजर रखते है। सबसे खासियत यह है कि पायलट के हेलमेट के साथ इसकी गन का मूवमेंट जुड़ा है। पायलट जिस दिशा में अपनी गर्दन घुमाएगा गन की निशाना भी उस तरफ घूम जाएगा। ऐसे में पायलट को सिर्फ दुश्मन के लक्ष्य को देख कर फायर दागना भर होता है।
- रुद्र में बीस एमएम की टारगेट गन के अलावा हवा से हवा मार करने वाली मिसाइलें भी तैनात है। इसमें आठ एंटी टैंक मिसाइल हेलिना अलग से लगी है। ये हेलीकॉप्टर एक साथ आठ लक्ष्यों पर प्रहार कर सकता है।
- हवा से हवा में मार करने के साथ रुद्र पर किसी मिसाइल हमले का बचाव करने का बेहतरीन सुरक्षा कवच उपलब्ध कराया गया है। इसकी तरफ बढ़ने वाली मिसाइल की सूचना मिलते ही पायलट उसे हवा में ही नष्ट कर सकता है।
- रुद्र में एक साथ दो पायलट बैठ सकते है। यह एक साथ चौदह लोगों को ले जा सकता है। 290 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ान भरने वाला रुद्र पांच टन वजन भार एक साथ ले जाने में सक्षम है।
- फिलहाल सेना ने ऐसे साठ और एयर फोर्स ने सोलह रुद्र का ऑर्डर दिया है। एयर फोर्स व सेना को अगले साल तक अमेरिका में निर्मित दुनिया के बेहतरीन अटैक हेलीकॉप्टर अपाचे मिलने की संभावना है। अपाचे को उड़ाने का अवसर रुद्र उड़ाने वाले पायलट्स को ही मिलेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×