Hindi News »Rajasthan »Jodhpur »News» All Doctors Goes Underground, While Police Search Them For Arrest

गिरफ्तारी के भय से भूमिगत हुए आंदोलनकारी डॉक्टर, पुलिस ने कई स्थान पर दी दबिश

गिरफ्तारी के भय से भूमिगत हुए आंदोलनकारी डॉक्टर, पुलिस ने कई स्थान पर दी दबिश

SUNIL CHOUDHARY | Last Modified - Nov 11, 2017, 10:47 AM IST

गिरफ्तारी के भय से भूमिगत हुए आंदोलनकारी डॉक्टर, पुलिस ने कई स्थान पर दी दबिश
जोधपुर।प्रदेश में पांच दिन से सेवारत नौ हजार से अधिक डॉक्टरों के सामूहिक अवकाश पर चले जाने से चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह से पटरी से उतर चुकी है। राज्य सरकार ने आंदोलन कर रहे डॉक्टरों की रेस्मा के तहत धरपकड़ की जा रही है। जोधपुर शहर मे आज सुबह से पुलिस की टीमें गायब हो चुके डॉक्टरों के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। अभी तक जिले के फलोदी से एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया गया है। वहीं कुछेक डॉक्टरों के आज से काम पर आने की संभावना है। गिरफ्तार के डर से भूमिगत हुए डॉक्टर...

सरकार से सभी तरह की वार्ता टूटने के बाद अब डॉक्टरों की रेस्मा में गिरफ्तारी शुरू कर दी गई है। हालांकि शनिवार सुबह तक जोधपुर शहर में एक भी डॉक्टर पुलिस को नहीं मिल पाया। हालांकि पुलिस ने कई स्थान पर दबिश दी। कल रात पुलिस ने फलोदी से दंत चिकित्सक डॉ. सुनील विश्नोई को उनके निवास से गिरफ्तार कर लिया। जोधपुर शहर में कार्यरत सभी डॉक्टरों ने अपने फोन बंद कर दिए है और भूमिगत हो चुके है। पुलिस की टीमें आज सुबह से डॉक्टरों की तलाश में घूम रही है।

पटरी से उतरी चिकित्सा व्यवस्था

हड़ताल के कारण पूरे जिले में चिकित्सकीय व्यवस्थाएं पटरी से उतर गई है। सेवारत चिकित्सकों की हड़ताल के समर्थन में उतरे डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट चिकित्सकों के कार्य बहिष्कार से महात्मा गांधी, मथुरादास माथुर और उम्मेद अस्पताल में चिकित्सा व्यवस्थाएं पूरी तरह से बेपटरी हो गई है। अधिकतर कमरों में चिकित्सकों की कुर्सियां खाली पड़ी है। भर्ती मरीजों को जबरदस्ती छुट्टी दी जा रही है। जहां वार्डों में मरीज भर्ती है वहां व्यवस्थाएं रामभरोसे है। इन अस्पतालों में महज इमरजेंसी ऑपरेशन किए जा रहे है। इसके अलावा प्लान ऑपरेशन टाल दिए गए है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×