पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मां की सेवा करने वाला सभी पदार्थों को प्राप्त कर सकता है : राजेंद्रदास देवाचार्य

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भागवत कथा में रात्रि में पांचला सिद्धा जसनाथ आसन धाम के पीठाधीश्वर सूरजनाथ सिद्ध महाराज के सान्निध्य में जसनाथी संप्रदाय के सिद्धों ने अग्नि के साथ नृत्य कर भक्तों को मंत्रमुग्ध कर दिया। अंगारों को हाथों में लेकर घूमना और अंगारों पर नृत्य की शानदार प्रस्तुतियां दी गईं। फोटो | शिव वर्मा

गांधी मैदान में श्रीमद् भागवत कथा में संत ने बताई भक्ति की महिमा
कम्युनिटी रिपोर्टर | जोधपुर

मलुक पीठाधीश्वर राजेंद्रदास देवाचार्य ने कहा कि मां की सेवा करने वाला सभी पदार्थों को प्राप्त कर सकता है। यदि जन्म देने वाली मां प्रसन्न हो जाए तो धरती माता स्वतः प्रसन्न हो जाएगी। वे गांधी मैदान में आयोजित श्रीमद् भागवत कथा के छठे दिन गुरुवार को उद‌्बोधन दे रहे थे। उन्होंने कहा कि भगवत प्राप्ति के लिए ही संताें की वाणियां पढ़ी जाती हैं। वेदवाणी को ही संतवाणी के रूप में भगवान ने प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि भगवत प्राप्ति का साधन भक्ति है। कोई भी साधन भक्ति से शून्य होगा तो वह फल नहीं देगा, वैसे भक्ति के बिना मुक्ति संभव नहीं है।

देवाचार्य ने कहा कि गो सेवा करने वालों के लोक-परलोक दोनों सुंदर हो जाते हैं। भगवान को पाने के लिए तीव्र उत्कंठा भगवत प्राप्ति करा देती है। इस अवसर पर श्रीनाथजी के भक्त श्रीचतुर्भुजदास द्वारा कृष्ण विरह में गाया पद गोवर्धन वासी सांवरे लाल तुम बिन रयो न जाय... सुनाकर सभी संत भक्तों के नेत्र सजल कर दिए। कथा में खेड़ापा आचार्य पुरुषोत्तमदास महाराज, गोवत्स राधाकृष्ण महाराज सहित अनेक गणमान्य लोग मौजूद थे।

संत दर्शन यात्रा निकाली
सूरसागर बड़ा रामद्वारा से संतों व भक्तों ने संत दर्शन यात्रा गांधी मैदान तक निकाली। संत दर्शन यात्रा में महंत रामप्रसाद महाराज, संत नवलराम एवं विभिन्न स्थानों से आए संत भी शामिल हुए। परसराम महाराज की अनुभव वाणी को छत्र चंवर व हरिनाम संकीर्तन के साथ संत सिर पर धारण करके यात्रा के रूप में गांधी मैदान पहुंचे।

खबरें और भी हैं...