पाली / बरस चुका है 11 इंच पानी, नदी-नालों में उफान, पूरे वेग से बह रही है बांडी नदी, बाढ़ जैसे हालात



पाली के नया गांव में बहता पानी. पाली के नया गांव में बहता पानी.
X
पाली के नया गांव में बहता पानी.पाली के नया गांव में बहता पानी.

  • पाली शहर में छलका लोर्डिया तालाब
  • जवाई बांध में 28 फीट तक पहुंचा जल स्तर
  • गढ़वाड़ा में बांडी नदी के कारण जोधपुर-जालोर सड़क मार्ग बंद

Dainik Bhaskar

Aug 16, 2019, 07:43 PM IST

जोधपुर. पाली जिले में दो दिन से हो रही झमाझम बारिश अब आफत बन बरस रही है। दो दिन में पाली में 11 इंच बारिश हो चुकी है। तेज बारिश से नदी-नाले उफान पर आ गए है। लंबे अरसे बाद पाली शहर से होकर निकलने वाली बांडी नदी में तेज पानी बह रहा है। पाली शहर का सबसे बड़ा लोर्डिया तालाब छलक उठा है। वहीं शहर के अधिकांश क्षेत्रों में दो से तीन फीट पानी बह रहा है। इस कारण कई क्षेत्रों में बाढ़ जैसे हालात बन गए है। पाली शहर की लाइफ लाइन माने जाने वाले जवाई बांध में अब तक 28 फीट पानी आ चुका है। पाली शहर से सटा हेमावास बांध भी छलकने की तैयारी में है। 

 

पाली में रेल पटरियों पर भरे पानी के कारण जोधपुर से रेल संपर्क टूट गया है। वहीं बांडी नदी का पानी पाली के गढ़वाड़ा में पूरे प्रवाह से बह रहा है। इस कारण जोधपुर-जालोर सड़क मार्ग प्रभावित हुआ है। अब परिवर्तित मार्ग से बसों को भेजा जा रहा है। 
पाली शहर में गुरुवार दोपहर से जोरदार बारिश हो रही है। गुरुवार वशुक्रवार दोपहर तक हुई 11 इंच बारिश के कारण हालात विकट होते जा रहे है। बारिश का दौर अनवरत जारी रहने से अब बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। भारी बारिश के कारण शहर की कई बस्तियों में पानी भर गया। नया गांव व आदर्श नगर में ढाई से तीन फीट पानी बह रहा है। कमोबेश शहर की अधिकांश कॉलोनियों में जलभराव के हालात पैदा हो गए है। पाली शहर से होकर निकलने वाली बांडी नदी पूरे वेग के साथ बह रही है। वहीं जिले के अधिकांश स्थानों पर मेघ जमकर बरस रहे है। ऐसे में नदी-नालों में उफान आ गया है। कई गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से कट गया है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले दो दिन तक बारिश जारी रहने की संभावना है। 
पाली जिले को पेयजल उपलब्ध कराने वाले पश्चिमी राजस्थान के सबसे बड़े जवाई बांध में शुक्रवार शाम सात बजे तक 28 फीट पानी आने से पाली के लोगों ने राहत महसूस की। इस बांध में तेजी से पानी की आवक हो रही है। इसकी भराव क्षमता 61 फीट है। जवाई के सहायक सेई बांध में तीन मीटर पानी आ चुका है। सेई बांध से जवाई में पानी की आवक लगातार जारी है। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना