--Advertisement--

जोधपुर / 11.50 लाख के ढाई बिटकॉइन व 50 हजार नकद लूट अपहृत को दईजर इलाके में छोड़ गए बदमाश



सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।
X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।
  • गुरुवार शाम को सॉफ्टवेयर इंजीनियर को किया था अगवा
  • 10-12 संदिग्धों से पूछताछ, पुरानी गैंग से जुड़े होने की आशंका 
  • बिटकॉइन में डील करने की थी बदमाशों को पुख्ता जानकारी 

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 04:06 AM IST

जोधपुर. शास्त्रीनगर इलाके में मेडिकल कॉलेज रोड पर गुरुवार शाम को अगवा किए गए सॉफ्टवेयर इंजीनियर से बदमाशों ने करीब साढ़े ग्यारह लाख रुपए कीमत के बिटकॉइन, 50 हजार रुपए, सोने की अंगूठी व चेन लूटी और अ‌ाधी रात बाद उसे दईजर-भवाद के बीच रास्ते में छोड़ भागे।

 

युवक के सकुशल मिलने के बाद पुलिस ने बदमाशों की तलाश के लिए शुक्रवार काे दिनभर संभावित ठिकानों पर दबिश भी दी, लेकिन वे पकड़ में नहीं आए। हालांकि, इस वारदात में पुलिस को बदमाशों के बारे में अहम सुराग मिले हैं।  

 

दो गाड़ियों में सवार बदमाशों ने गुरुवार शाम को महावीर सर्किल के पास एक कार में जा रहे मूलतया पाली हाल कुड़ी भगतासनी हाउसिंग बोर्ड निवासी आनंदसिंह राजपुरोहित व महावीरसिंह का रास्ता रोक हमला कर दिया था। यहां से बदमाश आनंदसिंह को अगवा कर ले गए थे। उसके ममेरे भाई महावीरसिंह की सूचना पर पुलिस ने नाकाबंदी भी कराई, लेकिन बदमाश पकड़ में नहीं आए।

 

पूरी रात पुलिस की अलग-अलग टीमें संभावित बदमाशों का पता लगाने व अपहृत आनंदसिंह को ढूंढ़ ही रही थी, इसी बीच रात करीब ढाई बजे सूचना मिली कि बदमाशों ने आनंदसिंह को दईजर इलाके में छोड़ दिया है। इस पर वहां पहुंची पुलिस टीम उसे शास्त्रीनगर थाने ले आई और अपहर्ताओं के बारे में जानकारी जुटाई।

 

अपहृत राजपुरोहित से पूछताछ में पुलिस को कुछ बदमाशों के बारे में कुछ जानकारी मिली। साथ ही गुरुवार रात से शुक्रवार शाम तक पुलिस ने 10-12 संदिग्ध लोगों को भी पकड़कर पूछताछ की। राजपुरोहित ने पुलिस को बताया कि बदमाश उसे शहर के कई रास्तों से घुमाते हुए भवाद इलाके में ले गए थे। उसके चेहरे पर पट्टी भी बांध दी थी। बदमाशों ने खुद के चेहरे भी रूमाल से छिपा रखे थे।   

पुलिस की पड़ताल में सामने आया कि बदमाशों को पहले से पता था कि राजपुरोहित बिटकॉइन में डील करता है। इसी वजह से बदमाशों ने उसे अगवा किया और ढाई बिटकॉइन अपने खातों में ट्रांसफर करवाने के साथ ही उसकी सोने की चेन, अंगूठी और जेब में रखे 50 हजार रुपए भी लूट लिए थे।

 

बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट या लेनदेन करने वालों के अपहरण करने की शहर में यह तीसरी वारदात है। इससे पहले जलजोग चौराहे के निकट क्षेत्र से एक बैंककर्मी का अपहरण कर लाखों रुपए कीमत के बिटकॉइन लूट लिए गए थे। ऐसा ही मामला गत माह रातानाडा थाना क्षेत्र में भी सामने आया था।

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..