--Advertisement--

पत्नी के प्रेमी को कॉल करके बुलाया अपने घर, फिर अवैध संबंधों के चलते पत्नी व प्रेमी की कर दी निर्मम हत्या

घायल पत्नी को अस्पताल ले जा रहा था, रास्ते में मौत हो जाने से डर गया और शव घर में डालकर ताला लगा भाग गया

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 07:30 AM IST
डेमो फोटो डेमो फोटो

चित्तौड़गढ़ (जोधपुर). बड़ीसादड़ी क्षेत्र के जरखाना मोड के पास दो दिन पहले एक युवक की मौत का मामला दोहरा हत्याकांड का निकला। उसके साथ एक महिला की भी हत्या की गई थी। इन दोनों के बीच अवैध संबंध थे और इसी के चलते महिला के पति ने दोनों की हत्या कर दी। पुलिस ने बुधवार को पूरे मामले का खुलासा करते हुए पति सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। ये कहानी आई सामने...


बड़ीसादड़ी एसएचओ चंद्रशेखर ने बताया कि सरथला निवासी हलवाई 45 वर्षीय नाथूलाल पुत्र रूपलाल सेन की हत्या के मामले में जांच के दौरान पूरी कहानी सामने आई। जिसके अनुसार नाथूलाल सेन शुक्रवार रात साढ़े 11 बजे बाइक पर जा रहा था। जरखाना मोड़ पर गैस गोदाम के निकट चार-पांच लोगों ने उससे मारपीट कर पास की झाड़ियों में फेंक दिया। आधी रात में गंभीर घायल को झाड़ियों में पड़ा देख लोगों ने उसके भाई औंकार को सूचना दी। वे उसे उदयपुर के राजकीय अस्पताल में ले गए। जहां उपचार के दौरान नाथूलाल ने शनिवार को दम तोड़ दिया। ओंकारलाल ने भाई की हत्या का प्रकरण थाने में दर्ज कराया।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

मामले में गठित पुलिस टीम को मौका जांच व कॉल डिटेल के आधार पर निकुंभ थाना क्षेत्र के पालखेड़ी निवासी प्रभुलाल गायरी पर शंका हुई। पुलिस ने उसे पकड़कर सख्ती से पूछताछ की तो प्रभुलाल ने बताया कि उसकी नातायत पत्नी राधा व नाथूलाल में अवैध संबंध थे। इसलिए उसने सबक सिखाने की ठान ली। उसने शुक्रवार को पत्नी राधा से ही फोन करवाकर नाथू को जरखाना मोड के पास बुलवाया। इसके बाद अपने साथी भोपतपुरा के लक्ष्मीलाल पुत्र नारुलाल गायरी, प्रकाश पुत्र रामसिंह उर्फ रामलाल रावत, नंदलाल पुत्र प्यारसिंह रावत, कालू पुत्र रामसिंह उर्फ रामलाल के साथ मिलकर नाथू को लाठियों से पीटा। बचाव में आई राधा भी घायल हो गई। आरोपियों ने नाथू को झाड़ियों में फेंक दिया। प्रभुलाल पत्नी राधा को बाइक से अस्पताल ले जा रहा था, लेकिन रास्ते में मौत हो गई।

तब उसने राधा का शव पालखेड़ी अपने घर में डालकर ताला लगाया और फरार हो गया। पुलिस ने प्रभुलाल के साथ लक्ष्मीलाल, प्रकाश व नंदलाल को भी गिरफ्तार कर लिया। कालू रावत अभी फरार है। पुलिस ने राधा का शव भी बरामद कर लिया। पीएम के बाद शव को परिजनों को सौंपा। आरोपियों से पुलिस गहनता से पूछताछ कर रही है।

तीन साल पहले किया था नाता विवाह

प्रभुलाल अपने ही गांव की 28 वर्षीय राधा को तीन साल पूर्व नाता विवाह कर लाया था। तभी से नाथूलाल व राधा के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। बाइक पर आते जाते कुछ दिन पूर्व प्रभु ने राधा को नाथू के साथ देख लिया। प्रभुलाल का कहना है कि तब ही उसने मारपीट कर नाथू को डराने धमकाने की ठान ली। उसका हत्या करने का इरादा नहीं था पर मारपीट इतनी हुई कि दोनों मर गए।

दो दिन पहले की गई थी हत्या

बड़ीसादड़ी क्षेत्र के जरखाना मोड के पास शुक्रवार रात कुछ लोग नाथूलाल सेन पर हमला करने के बाद उसे झाडिय़ों में पटक कर चले गए थे। पता लगने पर उसके भाई सहित ग्रामीण नाथूलाल को उदयपुर ले गए। जहां दूसरे दिन इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पुलिस दो दिन पूरी तह तक नहीं पहुंच सकी पर यह निष्कर्ष निकल गया कि हमला लूट के इरादे से नहीं बल्कि किसी रंजिश से हुआ। नामजद रिपोर्ट के बाद सीआई चंद्रशेखर किलानिया अलग-अलग लोगों से पूछताछ में जुटे रहे।

दोहरे हत्याकांड के गिरफ्तारी आरोपी व पुलिस दल। दोहरे हत्याकांड के गिरफ्तारी आरोपी व पुलिस दल।
X
डेमो फोटोडेमो फोटो
दोहरे हत्याकांड के गिरफ्तारी आरोपी व पुलिस दल।दोहरे हत्याकांड के गिरफ्तारी आरोपी व पुलिस दल।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..